1. Home
  2. |  
  3. CAREER
  4. |  

होटल मैनेजमेंट में करियर

Sep 6, 2018 15:22 IST
  • Read in English

होटल मैनेजमेंट कोर्सेज के बारे में

हॉस्पिटालिटी फील्ड के अंतर्गत विभिन्न वर्टिकल शामिल हैं. किसी भी टूरिस्ट को पूरे वर्ल्ड को घूमने, जानने, देखने, समझने में सहयोग करने में होटल इंडस्ट्री अपनी एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है. यह इंडस्ट्री प्रोडक्ट और सर्विस दोनों का बिलकुल सही अनुपात में उपयोग लोगों को सुविधा मुहैया कराकर करती है. होटल मैनेजमेंट कोर्स के अंतर्गत उन स्किल्स के विकास का अध्ययन किया जाता है जो ग्राहकों को इस इंडस्ट्री में सर्वोत्तम अनुभव प्रदान करने हेतु अति आवश्यक होते हैं.

होटल मैनेजमेंट कोर्सेज का मुख्य उद्देश्य होटल कर्मचारियों द्वारा ग्राहक की अपेक्षाओं और उसे मिलने वाली सेवाओं बीच के अंतर को समाप्त करना है.अर्थात उन्हें अपनी सेवाओं से पूरी तरह संतुष्ट करना है.

होटल मैनेजमेंट कोर्सेज करने पर करियर संभावनाएं

आजकल अधिकांश युवाओं की रुझान होटल मैनेजमेंट कोर्स की तरफ है. क्षेत्र में स्किल्ड प्रोफेशनल्स की बहुत अधिक डिमांड है. ताकि देशी और विदेशी टूरिस्ट को अधिकतम संख्या में आकर्षित किया जा सके. इस इंडस्ट्री के क्वालिटी पारामीटर बहुत हाई हैं इसलिए इस क्षेत्र में सैलरी पैकेज का भुगतान भी उसी अनुरूप किया जाता है. होटल इंडस्ट्री के अंतर्गत निम्नांकित करियर विकल्प मौजूद हैं –

लोकप्रिय नौकरी प्रोफाइल

प्रत्येक स्पेशलाइजेशन के तहत मिलने वाली जॉब उस डोमेन के लिए विशिष्ट होती है. वैसे  फायनांस, ह्यूमन रिसोर्स, मार्केटिंग और  ऑपरेशन जैसे वर्टिकल हर इंडस्ट्री में एक समान ही रहते हैं, लेकिन यहाँ हमने होटल इंडस्ट्री के अंतर्गत मिलने वाले मुख्य जॉब पर फोकस किया है-

  • डायरेक्टर ऑफ होटल ऑपरेशन
  • मैनेजर ऑफ होटल
  • सेफ
  • फ्लोर सुपरवाइजर
  • हाउस कीपिंग मैनेजर
  • गेस्ट सर्विस सुपरवाइजर
  • वेडिंग कोओर्डीनेटर
  • रेस्टोरेंट एंड फूड सर्विस मैनेजर
  • फूड एंड विबरेज मैनेजर
  • फ्रंट ऑफिस मैनेजर
  • इवेंट मैनेजर
  • किचेन मैनेजर

होटल मैनेजमेंट ग्रेजुएट्स के लिए सैलरी की संभावनाएं

जब एक छात्र किसी सब्जेक्ट का चयन करता है तो उस समय उसका मुख्य फोकस उस डिग्री के माध्यम से भविष्य में मिलने वाली सैलरी पर ही होता है. सैलरी की करियर ग्रोथ में एक निर्णायक भूमिका होती है, कारण की इसे अर्जित करने के लिए इसपर बहुत कुछ निवेश किया जाता है साथ ही इससे रिटर्न हासिल करने के लिए इस पर बहुत अधिक इन्वेस्टमेंट भी करना पड़ता है.

नीचे हमने डिग्री,ज्ञान और अनुभव के आधार पर होटल इंडस्ट्री में मिलने वाले सैलरी पैकेज का वर्णन किया है -

अनुभव के वर्ष

सैलरी  (आईएनआर लाख में)

एक साल से कम

2-3

1-3 वर्ष

3-4

3-7

5-10

7-15

10-12

< 15 वर्ष

<12

स्रोत: पेस्केल.कॉम

होटल मैनेजमेंट इंडस्ट्री के टॉप रिक्रूटर्स

होटल मैनेजमेंट का कोर्स कर रहे हर अभ्यर्थी का सपना किसी टॉप ब्रांड के होटल में काम करने का होता है. इस समय शुरूआती दिनों में ही फाइव स्टार या सेवेन स्टार होटल में काम मिलने से करियर की राह बहुत आसान हो जाती है तथा आगे ग्रोथ की संभावना भी बहुत अधिक रहती है. इन होटल्स की कई चेन तथा जिसकी शाखाएं होती हैं  तथा इन ब्रांड के साथ काम करने पर आपको अन्य होटलों की अपेक्षा कुछ नए और विशेष अनुभव प्राप्त होंगे. तो चलिए कुछ टॉप होटल की सूची पर नजर डालते हैं जहाँ काम करने का अवसर मिलने पर आप अपने करियर के ग्राफ को बहुत उंचाई तक ले जा सकते हैं.

  • ताज ग्रुप्स ऑफ होटल्स
  • ओबेरॉय ग्रुप्स ऑफ होटल्स
  • ले मेरिडियन ग्रुप्स ऑफ होटल्स इन इण्डिया
  • वेलकम ग्रुप होटल
  • मैरियट इंटरनेशनल, इंक
  • हयात कॉर्पोरेशन
  • आईटीसी लिमिटेड होटल डिवीजन
  • स्टारवुड होटल एंड रिसॉर्ट्स वर्ल्डवाइड इंक
  • रैडिसन
  • वटिका ग्रुप

होटल मैनेजमेंट का दायरा

हर क्षेत्र में रिसॉर्ट्स, एयरलाइंस, क्रूज, क्लब, फूड कैफे, रेस्तरां आदि में होटल मैनेजमेंट  ग्रेजुएट्स की बहुत अधिक आवश्यकता होती है. देश के जीडीपी में महत्वपूर्ण योगदान देने  के कारण इस इस इंडस्ट्री में ग्रोथ की संभावना बहुत अधिक है तथा इस इंडस्ट्री की सेवाओं का उपभोग दुनिया भर के टूरिस्ट द्वारा किया जाता है. स्किल्ड होटल मैनेजमेंट ग्रेजुएट्स को होटल मैनेजमेंट का बैक बोन माना जाता है.

होटल मैनेजमेंट कोर्सेज के प्रकार

होटल मैनेजमेंट इंडस्ट्री के अंतर्गत बहुत सारे वर्टिकल है और प्रत्येक वर्टिकल की अपनी एक अलग विशेषता है. होटल मैनेजमेंट कोर्स में एडमिशन लेने से पहले मार्केट में उपलब्ध विभिन्न प्रकार के कोर्सेज की सम्पूर्ण जानकारी एक बार अवश्य लें.

होटल मैनेजमेंट में डिप्लोमा

होटल मैनेजमेंट में डिप्लोमा एक 1 वर्ष का कोर्स है. आप विभिन्न विषयों में होटल मैनेजमेंट डिप्लोमा कोर्स किया जा सकता है-

  • डिप्लोमा इन फूड एंड विवरेज सर्विसेज
  • डिप्लोमा इन फ्रंट ऑफिस
  • डिप्लोमा इन फूड प्रोडक्शन
  • डिप्लोमा इन बेकरी एंड कन्फेक्शनरी
  • डिप्लोमा इन हाउस कीपिंग

 होटल मैनेजमेंट में अंडर ग्रेजुएशन कोर्सेज

होटल मैनेजमेंट में अंडर ग्रेजुएशन कोर्सेज की अवधि 3 वर्ष की है. इस कोर्स को पूरा करने पर होटल मैनेजमेंट की डिग्री से सम्मानित किया जाता है.इस डिग्री की व्यापर जगत में बहुत  मान्यता है. निम्नांकित विषयों में होटल मैनेजमेंट के अंडर ग्रेजुएशन कोर्सेज

  • बैचलर ऑफ होस्पिटलिटी मैनेजमेंट
  • बैचलर ऑफ होटल मैनेजमेंट [बीएचएम]
  • बैचलर ऑफ होटल मैनेजमेंट इन फूड एंड विवरेज

होटल मैनेजमेंट में पोस्ट ग्रेजुएट कोर्सेज

होटल मैनेजमेंट में अंडर ग्रेजुएट्स प्रोग्राम के बाद पोस्ट ग्रेजुएट्स कोर्स किया जाता है

होटल मैनेजमेंट के पोस्ट ग्रेजुएट प्रोग्राम

  • मास्टर ऑफ होटल मैनेजमेंट
  • मास्टर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन इन होस्पिटलिटी मैनेजमेंट
  • मास्टर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन इन होटल मैनेजमेंट

पोस्ट ग्रेजुएट डिग्री / डिप्लोमा 2 साल की अवधि के लिए आयोजित किया जाता है.

होटल मैनेजमेंट कोर्सेज में एडमिशन कैसे लें ?

जिस किसी ने भी अगर ग्लैमरस कैरियर विकल्प लेने का सपना देखा होगा उनका होटल मैनेजमेंट कोर्सेज में एडमिशन लेना उनके सपने का सच होने जैसा है. एक बार जब आप अपने करियर की आधारशिला रखने के लिए किसी अपनी आवश्यकता के अनुरूप किसी सही संस्थान में एडमिशन लेने के कुछ आवश्यक शर्तों को जान लेंगे तो फिर आगे की राह आपके लिए बहुत आसान होगी.

एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया

किसी भी इंस्टीट्यूट में एडमिशन लेने की प्राथमिक शर्त उसकी एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया

को पूरा करना है. इसी के आधार पर कोई भी संस्थान छात्रों को एडमिशन देते हैं तथा छात्र अपने मनपसंद कोर्स का चयन कर सकते हैं.

प्रत्येक अलग अलग कोर्सेज के लिए एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया है _

डिप्लोमा लेवल

होटल मैनेजमेंट में डिप्लोमा करने के लिए उम्मीदवार के पास 10 वीं तथा 12 वी क्लास में सकाम से काम एग्रीगेट 50 परसेंट मार्क्स होना जरुरी है.

अंडर ग्रेजुएट लेवल

होटल मैनेजमेंट में अंडर ग्रेजुएट प्रोग्राम करने के लिए उम्मीदवार को किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड या यूनिवर्सिटी से 10 + 2 का परीक्षा 50 प्रतिशत न्यूनतम मार्क्स के साथ पास होना चाहिए.

पोस्ट ग्रेजुएट लेवल

पोस्ट ग्रेजुएट कोर्सेज के लिए उम्मीदवार के पास किसी भी स्पेशलाइजेशन में ग्रेजुएशन की डिग्री होनी चाहिए.

एंट्रेंस एग्जाम

होटल मैनेजमेंट कोर्सेज में एडमिशन लेने वाले छात्रों को एंट्रेंस एग्जाम के बारे में भी पर्याप्त जानकारी होनी चाहिए ताकि वे अपने किसी मनपसंद कॉलेज या इंस्टीट्यूट में एडमिशन ले सकें.

डिप्लोमा लेवल

डिप्लोमा लेवल के कोर्सेज में एडमिशन लेने के लिए  निम्नांकित परीक्षाओं की तैयारी करने की आवश्यकता होती है -

  • एआईएचएमसीटी वाट,
  • एआईएमए यूजीएटी,
  • बीआईटी मेर्सा होटल मैनेजमेंट एग्जाम ,
  • बीवीपी सीईटी

अंडर ग्रेजुएट लेवल

होटल मैनेजमेंट के ग्रेजुएशन कोर्सेज में एडमिशन के लिए निम्नांकित परीक्षाएं आयोजित की जाती हैं -

  • एआईएमए यूजीएटी
  • एआईएचएमसीटी वाट
  • बीवीपी सीईटी
  • डीटीई एचएमसीटी
  • जेट एंट्रेंस एग्जाम

पोस्ट ग्रेजुएट लेवल

पोस्ट ग्रेजुएट कोर्सेज में एडमिशन के लिए निम्नांकित एंट्रेसं एग्जाम आयोजित किये जाते हैं -

  • यूपीईएस मैट
  • कैट
  • सीमैट
  • एक्सएटी
  • एनएमएटी
  • जीमैट
  • मैट

होटल मैनेजमेंट डोमेन के तहत ऑफर किए गए सब स्पेशलाइजेशन

होटल मैनेजमेंट डोमेन में सब स्पेश लाइजेशन बहुत व्यापक है.इन्हें सिर्फ एक या दो विषय के माध्यम से समझा नहीं जा सकता है. इसके अंतर्गत कुछ ऐसे मोड्यूल हैं जिनके माध्यम से छात्र इस क्षेत्र में काम करने का तरीका तथा इससे सम्बन्धित अन्य तथ्यों का पूर्ण ज्ञान प्राप्त करते हैं.

नीचे कुछ ऐसे ही सब स्पेशलाइजेशन कोर्सेज का वर्णन किया गया है -

फूड साइंस एंड डाईटिक मैनेजमेंट

यह विषय छात्रों को पोषण परामर्श, मेनू योजना, खाद्य गुणवत्ता नियंत्रण जैसे विषयों पर व्यावहारिक कौशल प्रदान करता ताकि छात्र फूड सर्विस के मामले में अपने मेहमानों की सही सेवा कर सकें. वे अच्छी तरह से यह सुनिश्चित पाएं कि मेहमानों को दिया जाने वाला भोजन पोषण युक्त है या नहीं.

मार्केटिंग ऑफ सर्विसेज

इस सब स्पेशलाइजेशन के तहत होटल के प्रोडक्ट और सर्विस को ट्रांसपेरेंट तरीके से टूरिस्ट तक पहुंचाना अर्थात उन्हें सभी सुविधाएँ आसानी से उपलब्ध करना और होटल की विश्वसनीयता से जुड़े पहलुओं का अध्ययन किया जाता है. इसके अतिरिक्त अपनी विभिन्न सुविधाओं के माध्यम (यानी भोजन, कमरे, होटल कर्मचारी और पूरक सेवाओं जैसे स्पा सुविधा, गेमिंग लाउंज इत्यादि) से कस्टमर्स को संतुष्ट तथा खुश रखने की विभिन्न रणनीतियाँ, ट्रिक तथा टैक्टिस का ज्ञान भी प्रदान किया जाता है.

इवेंट एंड कॉन्फेरेन्स मैनेजमेंट

इसके अंतर्गत घटनाओं और सम्मेलनों को व्यवस्थित करने से संबंधित स्किल्स के विकास पर बहुत जोर दिया जाता है. वैसे इवेंट मैनेजमेंट का एक विस्तृत फलक है लेकिन इस स्पेश लाइजेशन द्वारा होटल मैनेजमेंट के अंतर्गत होटल के किसी भी इवेंट का मैनेजमेंट होटल के कर्मचारियों द्वारा ही किया जाता है तथा वे किसी इवेंट मैनेजमेंट कंपनी की सहायता नहीं लेते हैं.

होस्पिटलिटी लॉ

किसी भी संस्थान को सुचारू रूप से चलाने में होस्पिटलिटी लॉ ही मुख्य आधार होता है. होटल इंडस्ट्री में भवन, कर्मचारियों और ग्राहकों की सुरक्षा से संबंधित विभिन्न कानून भी हैं. इस विषय में स्पेशलाइजेशन होटल इंडस्ट्री से जुड़े कानूनों को समझने तथा इसके दायरे में घटित होने वाले अपराधों से बचने की प्रक्रिया को अच्छी तरह से समझने पर जोर दिया जाता है ताकि जरुरत पड़ने पर वे सभी हालातों का सामना बिना किसी परेशानी के कर सकें.

फैसिलिटी प्लानिंग,डिजाइन और मैनेजमेंट

होटल इंडस्ट्री में फैसिलिटी प्लानिंग और डिजाइन मैनेजमेंट का बहुत अधिक महत्व होता है. क्योंकि होटल की सुन्दरता ही अत्यधिक टूरिस्ट को अपनी तरफ आकर्षित करती है.इसलिए अगर होटल की फैसिलिटी प्लानिंग और उसके विस्तृत ले आउट को सही तरीके से डिजाइन करने की इच्छा आपमें है तो अवश्य ही यह सब स्पेशलाइजेशन आपकी पहली च्वाइस होगी.

होटल मैनेजमेंट कोर्सेज ऑफर करने वाले टॉप इंस्टीट्यूट

होटल इंडस्ट्री में एंट्री के लिए उन इंस्टीट्यूट्स या कॉलेजों में एडमिशन लेना चाहिए जो इस इंडस्ट्री से जुड़े व्यवहारिक नॉलेज तथा स्किल की पूर्ण जानकारी प्रदान करते हैं. इस इंडस्ट्री में कस्टमर्स को बेहतर सुविधा मुहैया कराने वाले प्रोफेशनल्स की जरुरत होती है.नीचे कुछ टॉप इंस्टीट्यूट्स की सूची प्रदान की गयी जिनमें से किसी में भी आप एडमिशन लेकर अपने करियर की राह प्रशस्त कर सकते हैं -

क्र .सं.

इंस्टीट्यूट

लोकेशन

1

इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेंट कैटरिंग एंड न्यूट्रीशन

दिल्ली

2

इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेंट कैटरिंग टेक्नोलॉजी एंड अप्लाइड न्यूट्रीशन

मुंबई

3

इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेंट कैटरिंग टेक्नोलॉजी एंड अप्लाइड न्यूट्रीशन

चेन्नई

4

डिपार्टमेंट ऑफ होटल मैनेजमेंट,क्राइस्ट यूनिवर्सिटी

बंगलोर

5

आर्मी इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेंट एंड कैटरिंग टेक्नोलॉजी

बेंगलुरु

6

इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेंट कैटरिंग एंड न्यूट्रीशन

पंजाब

7

 इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेंट एंड कैटरिंग  टेक्नोलॉजी

केरल

8

वेलकम ग्रुप ग्रेजुएट स्कूल ऑफ होटल एडमिनिस्ट्रेशन

उडुपी

9

इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेंट कैटरिंग टेक्नोलॉजी एंड अप्लाइड न्यूट्रीशन

लखनऊ

10

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेंट

अहमदाबाद

Loading...
Loading...