Jagran Josh Logo
  1. Home
  2.  |  
  3. परिचर्चा | विश्लेषण
  4.  |  
  5. विश्लेषण प्रतिक्रिया

विश्लेषण प्रतिक्रिया

नीति आयोग की व्यापार सुधार हेतु रिपोर्ट

Nov 15, 2017
नीति आयोग ने एक सर्वे तथा रिपोर्ट बनायी है जिसमे भारत के सम्पूर्ण व्यापारिक परिदृश्य का अवलोकन किया गया है. तथा मौजूदा क्षेत्रो में जरूरी सुधारो के सुझाव भी दिए हैं. इस लेख में हमने, मुख्य बिन्दुवो का विश्लेषण करते हुए, रिपोर्ट को भी संक्षिप्त रूप दिया है.

भारत का पर्यावरण संरक्षण पहल : प्रभाव विश्लेषण

Sep 25, 2017
यद्यपि भारत द्वारा 1985 में पहले से ही नीतिगत रूपरेखा में पर्यावरणीय पहलुओं को शामिल किया गया. पिछले दशक में विशेष रूप से 2014 से केंद्र सरकार द्वारा सक्रिय पर्यावरण संरक्षण पहल की गई है. इसका स्पष्ट उदाहरण कई स्रोतों से पर्यावरण को बढ़ते खतरों से निपटने में मदद मिल सके, इस धारणा से पूर्ववर्ती पर्यावरण और वन मंत्रालय का नाम बदलकर अब पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय किया जाना है.

विदेशी मुद्रा भंडार 400 अरब डॉलर का आंकड़ा पार करने की सम्भावना: भारतीय अर्थव्यवस्था पर प्रभाव

Aug 23, 2017
वर्तमान विदेशी मुद्रा भंडार 11 महीने के आयात के मूल्य के बराबर है। वर्ष 1991 में भारत के पास केवल तीन सप्ताह के आयात के मूल्य के बराबर का विदेशी मुद्रा भंडार उपलब्ध था। अच्छी तरह से निष्पादित की गयी नीतियां ही इस वृद्धि का कारण है।

भारतीय संविधान का अनुच्छेद 35 ए : बहस को समझने की आवश्यकता

Aug 18, 2017
17 जुलाई को सर्वोच्च न्यायलय के 2 न्यायाधीशों ने एक जनहित याचिका के तहत सुनवाई करते हुए यह निर्णय लिया कि इस मुद्दे की सुनवायी अब बड़ी बेंच द्वारा की जाएगी. इसके लिए सर्वोच्च न्यायलय ने 6 हफ्ते का समय लिया है. इसीलिए फिर से देशभर में अनुच्छेद 35A तथा कश्मीर को लेके पूरे देश में बहस हो रही है.

पनामा पेपर्स - क्या, क्यों, और कैसे

Aug 2, 2017
पनामा पेपर का खुलासा अभी तक के सबसे बड़े खुलासे के रूप में जाना जाता है जिसने पाकिस्तान में सत्ता पलट दी और जिसके साए में भारत के बड़े-बड़े राजनयिक हस्तियाँ, उग्द्योगपति, फ़िल्मी सितारे के नाम शामिल हैं. इस खुलासे में कुल 11.5 मिलियन डॉक्यूमेंट और 2.6 टेराबाइट की सुचना मौजूद है.

भारत और रूस सम्बन्ध के 70 वर्ष : सहयोग के उभरते क्षेत्र

Jul 24, 2017
भारत और रूस के बीच संबंध शुरू से ही काफी मजबूत और भरोसेमंद रहे हैं. और इन सबंधों के महत्व को समझते हुए भारत और रूस ने 'रणनीतिक साझेदारी' के तहत दिसंबर 2010 में “विशेष और विशेषाधिकारित सामरिक भागीदारी" के स्तर तक इसे पहुंचाने का फैसला किया जो अपने आप में एक बहुत बड़ी बात थी.

मोदी-ट्रम्प वार्ता: सारगर्भित महत्व

Jul 14, 2017
ट्रम्प ने भारतीय प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की मेजबानी करते हुए कहा कि अमेरिका दोनों देशों में रोजगार पैदा करने तथा एक 'निष्पक्ष और पारस्परिक' व्यापार संबंध बनाने की दिशा में काम कर रहा है. ट्रम्प ने भारत और अमेरिका को वैश्विक विकास का इंजन बताया, वहीं भारतीय प्रधान मंत्री मोदी ने कहा कि भारत अपने सामाजिक और आर्थिक परिवर्तन से जुड़े कार्यक्रमों के लिए अमेरिका को अपना प्राथमिक भागीदार मानता है.

पेटया रैनसमवेयर : यह क्या है और इसे कैसे रोका जा सकता है ?

Jul 14, 2017
27 जून 2017 को विश्व के बहुत सारे संगठनों ने अपने उपर हुए रैनसमवेयर से हमले की जानकारी दी. यह रैनसमवेयर पहले से ही मौजूद पेटया से निकला हुआ एक विशिष्ठ संक्रमक है, जो बहुत ही तेज गति से फ़ैल रहा है. तेजी से फ़ैल रहा मौजूदा पेटया का नया प्रारूप रैनसमवेयर संगठनों,व्यवसायों और उपयोगकर्ताओं को बुरी तरह से प्रभावित करता है.

अशांत दार्जिलिंग- कैसे करें शांति बहाल?

Jul 3, 2017
हाल ही में,दार्जिलिंग में विरोध और आंदोलन की एक नई लहर चल रही है, जिसका मुख्य उद्देश्य एक अलग राज्य 'गोरखालैंड' बनाना है. गौरतलब है कि गोरखालैंड राज्य की मांग काफी दिनों से चर्चा में है, परन्तु, इस बार इस मांग ने बहुत ही हिंसक रूप ले लिया है.

भारतीय अर्थव्यवस्था पर जीएसटी का प्रभाव

Jun 23, 2017
केंद्रीय मंत्रिमंडल ने चार जीएसटी कानूनों एकीकृत जीएसटी विधेयक, केन्द्रीय जीएसटी विधेयक, मुआवजा विधेयक और संघ राज्य जीएसटी विधेयक को मंजूरी दी है. 1 जुलाई 2017 से जीएसटी के लागू होने की संभावना है, और इसी परिपेक्ष्य में हम जीएसटी के प्रभावों को देखेंगे.

भारत की कृषि समस्याएं

Jun 21, 2017
हाल ही में, भारत में किसानो द्वारा कई जगह विरोध दर्ज किया गया तथा कई जगह इसने आन्दोलन का रूप ले लिया.इन घटनाओं ने भारत में कृषि संबंधी समस्याओं को ले के एक नयी बहस शुरू की. हमने यहाँ भारतीय कृषि से जुड़ी लगभग सभी समस्याओं का विश्लेषण किया है.

क़तर तथा भारत: एक परिचर्चा

Jun 12, 2017
दक्षिण पशिमी एशिया के देशों ने क़तर को अपने आपसी रिश्तो से बाहर कर दिया है. इस घटना ने दक्षिण पश्चिम एशिया में एक जटिल स्थिति पैदा कर दी है. हमने यहाँ इस स्थिति में भारत के क़तर के साथ संबंधो का विस्तृत विश्लेषण किआ है.

चीन के वन बेल्ट वन रोड पहल पर भारत की चिंताएं

May 29, 2017
हाल ही में बीजिंग में संपन्न वन बेल्ट, वन रोड (ओबोर) शिखर सम्मेलन का बहिष्कार किया गया था. ओबोर का बहिष्कार करते हुए भारत ने कहा, "कोई भी देश उस परियोजना को स्वीकार नहीं कर सकता जिसमें उसकी संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता को अनदेखा किया गया हो”. इस आर्टिकल में इस पूरे मुद्दे की गहनता के साथ परिचर्चा की गई है.

बैंकिंग विनियमन (संशोधन)अधिनियम 2017 तथा इसके प्रभाव

May 26, 2017
भारत सरकार ने यह निर्णय लिया है कि यह बैंकिंग विनियमन अधिनियम 1949 को शंशोधित करेगी ताकि भारत के बैंकिंग क्षेत्र में व्याप्त स्ट्रेस्ड परिसम्पत्तियों के समस्या से छुटकारा मिल सके. यह समस्या भारत के बैंकिंग क्षेत्र में बहुत समय से व्याप्त है.हमने इस मुद्दे की गहनता के साथ परिचर्चा की है.

भारत में कृषि कर:अच्छा या बुरा ?

May 24, 2017
हाल ही में, नीति आयोग ने सुझाव दिया है कि भारत में कृषि क्षेत्र को आयकर के दायरे में लाना चाहिए.यह एक संवेदनशील मुद्दा है. हमने यहाँ इस मुद्दे से जुड़े सभी पहलुवो का विश्लेषण करने की कोशिश की है.

एचआईवी/एड्स बिल 2016:एक नयी पहल

Apr 20, 2017
इस महीने संसद ने एचआईवी/एड्स बिल 2016 पास किया. यह बिल भारत में एचआईवी/एड्स की रोकथाम और उपचार के लिए कई महत्वपूर्ण प्लेटफॉर्म तैयार करता है.

बैड बैंक: एक जरूरत

Apr 13, 2017
जैसा की हमें ज्ञात है भारत में स्ट्रेस्ड लोन की समस्या को सुलझाने हेतु इकनोमिक सर्वे तथा वित्तमंत्रालय ने बैड बैंक के विचार को प्रस्तावित किआ है. बैड बैंक क्या है तथा इसके क्या प्रभाव होंगे इसका विश्लेषण हमने इस लेख में विस्तृत रूप से किआ है.

मानसिक स्वास्थ्य देखभाल विधेयक:एक नज़र

Apr 11, 2017
लोकसभा ने मानसिक स्वास्थ्य देखभाल बिल 2016 मार्च में पास किआ. यह बिल भारत में मानसिक रोगों के इलाज तथा देखभाल में काफी महत्वपूर्ण बदलाव लायेगा. हमने इस लेख में इस पूरे बिल का विश्लेषण किआ है.

एंटी रोमियो स्क्वाड : नैतिक पोलिसिंग या वैध पोलिसिंग?

Apr 6, 2017
उत्तर प्रदेश सरकार ने महिलाओं का सार्वजनिक स्थानों में उत्पीडन तथा छेड़खानी रोकने हेतु एंटी रोमियो स्क्वाड का गठन किआ है. यह स्क्वाड कई कारणों से चर्चा में है. हमने इन सभी कारणों का विस्तृत अध्ययन किया है.

सार्वभौमिक प्रतिरक्षा अभियान: एक विश्लेषण

Mar 30, 2017
भारत में, सर्वभौमिक प्रतिरक्षा अभियान ने कई रोगों की रोकथाम तथा निवारण में बहुत बड़ा योगदान दिया है.यहाँ हमने इस पूरे अभियान , इसका इतिहास तथा इसके प्रभावों की विस्तृत चर्चा की है.

12345 Next   

Latest Videos

Register to get FREE updates

    All Fields Mandatory
  • (Ex:9123456789)
  • Please Select Your Interest
  • Please specify

  • ajax-loader
  • A verifcation code has been sent to
    your mobile number

    Please enter the verification code below

Newsletter Signup
Follow us on
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK