Search

असम सरकार ने गुवाहाटी के लिए मेट्रो रेल को मंजूरी दी

203 किलोमीटर लम्बी रेल लाइन का निर्माण तीन चरणों में किया जायेगा. पहले चरण में, 61.4 किलोमीटर रेल लाइन एवं चार कोरिडोर होंगे – धारापुर-नारंगी (एलिवेटेड), एमजी रोड-खानपाडा (भूमिगत), जालुकबाड़ी-खानपाड़ा (एलिवेटेड) एवं आईएसबीटी-पलटनबज़ार (एलिवेटेड).

Feb 24, 2016 11:14 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

असम सरकार ने 23 फरवरी 2016 को मास रैपिड ट्रांजिट सिस्टम के तहत गुवाहाटी के लिए मेट्रो रेल के निर्माण के लिए मंजूरी प्रदान की. कैबिनेट ने गुवाहाटी मेट्रो रेल कारपोरेशन लिमिटेड के गठन के लिए भी मंजूरी प्रदान की.

राज्य के मुख्यमंत्री तरुण गोगोई 29 फरवरी 2016 खानपाडा क्षेत्र में मेट्रो का शिलान्यास करेंगे.

गुवाहाटी मेट्रो परियोजना के मुख्य बिंदु

•    203 किलोमीटर लम्बी रेल लाइन का निर्माण तीन चरणों में किया जायेगा.
•    पहले चरण में, 61.4 किलोमीटर रेल लाइन एवं चार कोरिडोर होंगे – धारापुर-नारंगी (एलिवेटेड), एमजी रोड-खानपाडा (भूमिगत), जालुकबाड़ी-खानपाड़ा (एलिवेटेड) एवं आईएसबीटी-पलटनबज़ार (एलिवेटेड).
•    पहले चरण में 54 स्टेशन होंगे.
•    प्रत्येक ट्रेन में 975 मुसाफिरों को ढोने की क्षमता होगी.
•    परियोजना की अनुमानित लागत 18020 करोड़ रुपये है.
•    असम सरकार एवं केंद्र सरकार कुल लागत का 20 प्रतिशत शेयर करेंगे. स्थानीय निकाय 350 करोड़ रुपये का योगदान देंगे जबकि 10074 करोड़ रुपये केंद्र सरकार द्वारा दिए जायेंगे.
•    गुवाहाटी मेट्रो रेल कारपोरेशन लिमिटेड पूरी तरह असम सरकार के अधीन तैयार की जाएगी एवं असम सरकार ही इस परियोजना की देख-रेख करेगी.
•    परियोजना बाद में केंद्र सरकार एवं राज्य सरकार के मध्य 50:50 अनुपात में होगी.

Now get latest Current Affairs on mobile, Download # 1  Current Affairs App