Search

बहुमत की दौड़

कुल सीट - 542
  • पार्टीसीट (जीते+आगे)बहुमत से आगे/पीछे

    बहुमत 272

आईएएमएआई ने इंटरनेट इन इंडिया 2015 रिपोर्ट जारी की

भारत में इंटरनेट उपयोगकर्ताओं की संख्या दिसंबर 2015 तक 402 मिलियन होगी, जो चीन के बाद विश्व में दूसरे नंबर है.

Nov 19, 2015 14:05 IST

इंटरनेट और मोबाइल एसोसिएशन ऑफ इंडिया (आईएएमएआई) ने इंटरनेट उपभोक्ताओं पर 17 नवंबर 2015 को इंटरनेट इन इंडिया 2015 रिपोर्ट जारी की.

आईएएमएआई ने देश के विभिन्न (ग्रामीण और शहरी) क्षेत्रों में और विभिन्न जनसांख्यिकीय वर्गों के बीच विभिन्न उपकरणों (मोबाइल, डेस्कटॉप, आदि)  के माध्यम से इंटरनेट के उपयोग पर सर्वेक्षण किया.

रिपोर्ट अनुसार भारत में इंटरनेट उपयोगकर्ताओं की संख्या दिसंबर 2015 तक 402 मिलियन होगी, जो चीन के बाद विश्व में दूसरे नंबर है.

इंटरनेट इन इंडिया 2015 की मुख्य विशेषताएं

• भारत में इंटरनेट उपयोगकर्ताओं की संख्या दिसंबर 2015 तक 402 मिलियन होने वाली है, यानि इंटरनेट उपयोगकर्ताओं की संख्या में पिछले वर्ष की तुलना में 49 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज हुई है. इस वृद्धि के साथ ही भारत इंटरनेट उपयोग के मामले में संयुक्त राज्य अमेरिका को पीछे छोडकर चीन के बाद दूसरा सबसे बड़ा इंटरनेट यूजर बेस होगा.

• वर्तमान में भारत में इंटरनेट उपयोगकर्ताओं की संख्या 375 मिलियन के लगभग आंकी गयी है, जबकि चीन 600 मिलियन से अधिक उपयोगकर्ताओं के साथ इंटरनेट उपयोग करने के क्षेत्र में दुनिया पहले स्थान पर है.

• भारत में इंटरनेट उपयोगकर्ताओं की संख्या एक दशक में 10 मिलियन से 100 मिलियन और 3 साल में 100 से 200 मिलियन तक बढ़ी. मात्र एक साल में इंटरनेट उपयोगकर्ताओं की संख्या में 300 मिलियन से 400 मिलियन तक की वृद्धि दर्ज की गयी है यानि एक साल में 100 मिलियन इंटरनेट उपयोगकर्ता बढे.

• सर्वेक्षण के अनुसार भारत में इंटरनेट उपयोगकर्ताओं में 71 प्रतिशत पुरुष और 29 प्रतिशत महिलाएं हैं. पुरुषों के बीच इंटरनेट का उपयोग 50 प्रतिशत की दर से बढ़ रहा है जबकि महिला उपयोगकर्ताओं में 46 प्रतिशत की दर से वृद्धि दर्ज की गयी है. महिला उपयोगकर्ताओं में सर्वाधिक वृद्धि गैर-कामकाजी महिलाओं के बीच दर्ज की गयी है.

शहरी क्षेत्रों में

• भारत के शहरी क्षेत्रों में पुरुष व महिला इंटरनेट उपयोगकर्ताओं के बीच के 62:38 का अनुपात है. गौरतलब है कि महिलाओं के बीच इंटरनेट उपयोगकर्ताओं की संख्या पुरुषों के बीच 28 प्रतिशत की तुलना में 39 प्रतिशत की दर से बढ़ रही है.

• शहरी भारत में दैनिक आधार पर इंटरनेट उपयोग करने वाले लोगों की संख्या में भारी वृद्धि हुई है. अक्टूबर 2015 की स्थिति के अनुसार रोजाना 69 प्रतिशत उपभोक्ता इंटरनेट का उपयोग कर रहे हैं. पिछले वर्ष की अपेक्षा दैनिक इंटरनेट उपयोगकर्ताओं में 60 प्रतिशत का इजाफा हुआ है.

• 35 शहरों में सर्वेक्षण के बाद रिपोर्ट का एक मुख्य पहलू यह है कि जो लोग इंटरनेट का उपयोग नहीं कर रहे हैं, उनमे से 11.4 मिलियन ने आगामी एक वर्ष में इंटरनेट उपयोग करने की इच्छा जताई है. उनमें से 2/3 का मोबाइल फोन के माध्यम से इंटरनेट उपयोग करने का इरादा है.
 
ग्रामीण क्षेत्रों में

• भारतीय ग्रामीण इंटरनेट उपयोगकर्ताओं के बीच  88 प्रतिशत पुरुष हैं. महिलाओं के बीच इंटरनेट उपयोगकर्ताओं की संख्या 61 प्रतिशत और पुरुषों के बीच 79 फीसदी की प्रतिदिन की गति से बढ़ रही है. ग्रामीण क्षेत्रों में 18-30 वर्ष की आयु वर्ग के इंटरनेट उपयोगकर्ता 75 प्रतिशत हैं.

• ग्रामीण भारत में मोबाइल इंटरनेट उपयोगकर्ताओं की संख्या दिसंबर 2015 तक 87 करोड़ और जून 2016 तक 109 करोड़ तक पहुंचने की उम्मीद है.