आईएनएस अस्त्र धारिणी भारतीय नौसेना में शामिल

आईएनएस अस्त्र धारिणी को डीआरडीओ की नौसेना विज्ञान और तकनीकी प्रयोगशाला (एनएसटीएल), मैसर्स शोफ्ट शिपयार्ड और आईआईटी खड़गपुर के सहयोग से डिजाइन किया गया.

Created On: Oct 7, 2015 15:06 ISTModified On: Oct 7, 2015 15:09 IST

भारतीय नौसेना ने पहले स्वदेश निर्मित टॉरपीडो लांच एवं रिकवरी पोत  'आईएनएस अस्त्र धारिणी’ को विशाखापत्तनम नौसैनिक अड्डे  में 6 अक्टूबर 2015 को नियुक्त किया.

आईएनएस अस्त्र धारिणी को डीआरडीओ की नौसेना विज्ञान और तकनीकी प्रयोगशाला (एनएसटीएल), मैसर्स शोफ्ट शिपयार्ड और आईआईटी खड़गपुर के सहयोग से डिजाइन किया गया. यह आईएनएस अस्त्रवाहिनी का एक उन्नत प्रतिस्थापन है, जिसे 17 जुलाई 2015 को डिकमीशन किया गया.

आईएनएस अस्त्र धारिणी के बारे में

•    50 मीटर की लंबाई वाले और 15 समुद्री मील तक की गति वाले इस पोत का इस्तेमाल एनएसटीएल द्वारा विकसित पानी के अंदर चलने वाले हथियारों के तकनीकी परीक्षण के लिए किया जाएगा.
•    आईएनएस अस्त्र धारिणी उच्च समुद्र परिस्थितियों में भी काम कर सकता है और इसमें तैनाती और परीक्षणों के दौरान टोरपीडो के विभिन्न प्रकार के उबरने के लिए टारपीडो लांचर के साथ एक बड़ा डेक क्षेत्र है.
•    जहाज में आधुनिक विद्युत उत्पादन और वितरण नेविगेशन और संचार प्रणाली भी है. जहाज का अनूठा पतवार फार्म देश के जहाज के प्रारूप और जहाज निर्माण क्षमताओं को दर्शाता है.

Take Weekly Tests on app for exam prep and compete with others. Download Current Affairs and GK app

एग्जाम की तैयारी के लिए ऐप पर वीकली टेस्ट लें और दूसरों के साथ प्रतिस्पर्धा करें। डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप

AndroidIOS
Comment ()

Post Comment

0 + 7 =
Post

Comments