Search

एचआईवी की रोकथाम की दवा (PrEP) पीएरईपी के सकारात्मक परिणाम

प्री– एक्सपोजर प्रोफायलिक्स (PrEP),जिन लोगों के एचआईवी से संक्रमित होने का खतरा रहता है.

Sep 8, 2015 18:22 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

पीएरईपी (PrEP)– एचआईवी से ग्रसित लोगों की मदद करने के लिए बनाई गई दवा
 
प्री– एक्सपोजर प्रोफायलिक्स (PrEP),(जिन लोगों के एचआईवी से संक्रमित होने का खतरा रहता है) कि मदद के लिए बनाई गई दवा 3 सितंबर 2015 को सुर्खियों में थी क्योंकि इस दवा का सेवन करने वाले लोगों में किया गया व्यावहारिक परीक्षण ने उन्हें एचआईवी मुक्त दिखाया.

 

परीक्षण के नतीजे


•  वैज्ञानिकों ने 32 माह की अवधि तक इस दवा का सेवन करने वाले 650 लोगों पर अध्ययन किया.


•  ज्यादातर उपयोगकर्ता समलैंगिक पुरुष थे क्योंकि इस समूह में अन्य गैर– उपयोगकर्ता समूह के मुकाबले अधिक यौन– भागीदारों के होने की रिपोर्ट थी. वे सभी एचआईवी मुक्त रहे.


•  अध्ययन साबित करता है कि PrEP एचआईवी के प्रसार को रोकने का कारगर तरीका है. अमेरिका का सेंटर फ़ॉर डिजिज कंट्रोल ने कहा है कि अगर इसे उचित तरीके से लिया गया तो यह दवा एचआईवी के जोखिम को 92 फीसदी तक कम कर सकता है.


प्री– एक्सपोजर प्रोफायलिक्स (PrEP)  

•  PrEP वैसे लोगों के लिए उपचार है जिन्हें एचआईवी तो नहीं है लेकिन जो इसके होने के पर्याप्त जोखिम वाली परिस्थितियों में जी रहे हैं. एक गोली रोजाना लेकर एचआईवी संक्रमण को रोकने के लिए इसका इस्तेमाल किया जा सकता है.


•  गोली ( ब्रांड नाम त्रुवदा) में दो दवाएं ( टेनोफोविर और एमट्रीसीटेबाइन) होती हैं जिनका इस्तेमाल अन्य दवाओं के साथ एचआईवी का उपचार करने में किया जाता है.


•  लगातार लेने पर, PrEP ने एचआईवी संक्रमण होने के उच्च जोखिम के साथ रहने वाले लोगों में जोखिम को 92 फीसदी तक कम कर दिया. लेकिन अगर इस दवा को लगातार नहीं लिया जाए तो इसका प्रभाव बहुत कम होता है.


•  यह शक्तिशाली एचआईवी रोकथाम उपकरण है और अकेले इस्तेमाल किए जाने  की तुलना में कॉन्डोम और अन्य रक्षात्मक उपायों के तरीके के साथ इस्तेमाल कर और अधिक सुरक्षा प्रदान की जा सकती है.