Search

केंद्र सरकार ने 29 शहरों के केंद्रीय कर्मचारियों के एचआरए और ट्रैवल एकाउंस में बढ़ोतरी की घोषणा की

केंद्रीय कैबिनेट ने 30 मई 2015 को अपने एक फैसले में 29 शहरों के केन्द्रीय कर्मचारियों के एचआए और ट्रैवल एकाउंस में बढ़ोतरी की घोषणा की.

May 30, 2015 18:10 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय कैबिनेट ने 30 मई 2015 को अपने एक फैसले में 29 शहरों के केन्द्रीय कर्मचारियों के एचआए और ट्रैवल एकाउंस में बढ़ोतरी की घोषणा की. इसके साथ ही 29 शहरों और कस्बों की श्रेणी के उन्नयन को मंजूरी दी गई. इससे इन शहरों के केन्द्रीय कर्मचारियों को अधिक आवास एवं परिवहन भत्ता मिल सकेगा.


केंद्र सरकार ने यह कदम वर्ष 2011 की जनगणना के आधार पर उठाया है. यह फैसला 1 अप्रैल 2014 से प्रभावी होगा. इससे वर्ष 2014-15 के लिए सरकारी खजाने पर 128 करोड़ रुपए का बोझ पड़ेगा. इसके साथ ही जनगणना के आधार पर दो शहरों-पुणे और अहमदाबाद-की श्रेणी वाई से बढ़ाकर एक्स और 21 शहरों की श्रेणी जेड से बढ़ाकर वाई कर दी गई.

भत्ता बढ़ाये गए 21 शहरों की सूची:

1.    नेल्लोर,
2.    गुड़गांव,
3.    बोकारो स्टील सिटी,
4.    गुलबर्ग,
5.    त्रिसूर,
6.    मलप्पुरम,
7.    कन्नूर,
8.    कोल्लम,
9.    उज्जैन,
10.    वसई-विरार सिटी,
11.    मालेगांव,
12.    नांदेड़-वाघला,
13.    सांगली,
14.    राउरकेला,
15.    अजमेर,
16.    इरोड़ा,
17.    नोएडा,
18.    फीरोजाबाद,
19.    झाँसी,
20.    सिलिगुड़ी,
21.    दुर्गापुर.

इनके अलावा परिवहन भत्ते के लिए छह शहरों-पटना, कोच्चि, इंदौर, कोयंबतूर एवं गाजियाबाद- की श्रेणी का अन्य स्थान से उन्नयन कर विशिष्ट उच्च श्रेणी कर दिया गया. अब तक इन शहरों और कस्बों में केंद्र सरकार के अधिकारियों को एचआरए और परिवहन भत्ता देने के लिये वर्ष 2001 की जनगणना के आंकड़ों को इस्तेमाल किया जा रहा था, जिसके लिए अब वर्ष 2011 की जनगणना के आंकड़ों को इस्तेमाल होगा.