Search
  1. Home
  2.    
  3. CURRENT AFFAIRS
  4.    

कोयला ब्लॉक आवंटन घोटाले से जुड़े मामले में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से पूछताछ करने का आदेश

कोयला ब्लॉक आवंटन घोटाले से जुड़े मामले में विशेष न्यायालय ने 16 दिसंबर 2014 को सीबीआई को पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से पूछताछ करने का आदेश दिया.

Dec 17, 2014 16:11 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

कोयला ब्लॉक आवंटन घोटाले से जुड़े मामले में विशेष न्यायालय ने 16 दिसंबर 2014 को सीबीआई को पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से पूछताछ करने का आदेश दिया. यह मामला हिंडाल्को को 'तालाबीरा-2' कोयला ब्लॉक आवंटन से जुड़ा है. वर्ष 2005 में जब हिंडाल्को को तालाबीरा-2 कोयला ब्लॉक आवंटन किया गया था उस वक्त कोयला मंत्रायलय का प्रभार तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के पास था.

पटियाला हाउस न्यायालय (दिल्ली) के विशेष न्यायाधीश भरत पराशर ने तालाबीरा-2 कोयला ब्लॉक आवंटन को लेकर दर्ज मुकदमा को बंद करने के लिए सीबीआई द्वारा दाखिल क्लोजर रिपोर्ट को अस्वीकार करते हुए यह आदेश दिया. उन्होंने क्लोजर को वापस लौटाते हुए सीबीआई को मामले की दोबारा जांच करने का आदेश दिया.

विदित हो कि यह मामला ‘मेसर्स हिंडाल्को’ को ओडिशा के तालाबीरा-2 कोयला ब्लॉक आवंटन से जुड़ा है। सीबीआई ने पहले उद्योगपति कुमार मंगलम बिड़ला, पूर्व कोयला सचिव पी सी पारख, मेसर्स हिंडाल्को इंडस्ट्रीज लिमिटेड और अन्य अज्ञात लोगों एवं अधिकारियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की थी. उनके खिलाफ आईपीसी की धारा 120-बी (आपराधिक साजिश) और भ्रष्टाचार निरोधक कानून की धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई थी. सीबीआई ने 27 अगस्त 2014 को मामले में क्लोजर रिपोर्ट दाखिल की थी. क्लोजर रिपोर्ट में सीबीआई ने कहा था कि हिंडाल्को को तालाबीरा-2 कोयला ब्लॉक आवंटन की पूरी प्रक्रिया में शामिल किसी भी व्यक्ति के खिलाफ कोई आपराधिक मामला नहीं बनता है.