Search

पद्मभूषण से सम्मानित वायलिन वादक एमएस गोपालकृष्णन का चेन्नई में निधन

वायलिन वादक एमएस गोपालकृष्णन का चेन्नई में 3 जनवरी 2013 को निधन हो गया. भारत सरकार ने उन्हें वर्ष 2012 में पद्मभूषण से सम्मानित किया...

Jan 4, 2013 15:31 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

वायलिन वादक (Violin maestro) एमएस गोपालकृष्णन (MS Gopalakrishnan) का चेन्नई में 3 जनवरी 2013 को निधन हो गया. वह वर्ष 82 के थे. भारत सरकार ने उन्हें वर्ष 2012 में पद्मभूषण से सम्मानित किया. उन्होंने अपने पिता पेरूर सुन्दरम अय्यर (Parur Sundaram Iyer) से संगीत की शिक्षा ली. एमएस गोपालकृष्णन को कर्नाटक संगीत (दक्षिण भारतीय) और हिंदुस्तानी संगीत (उत्तर भारतीय) दोनों का ही गहरा ज्ञान था. एमएस गोपालकृष्णन के बड़े भाई एमएस अनंतरामन भी वायलिन वादक थे. उनके समकालीनों में वायलिन वादक लालगुड़ी जी जयरामन और टीएन कृष्णन थे.

एमएस गोपालकृष्णन का जन्म केरल राज्य में हुआ था. एमएस गोपालकृष्णन के परिवार में उनकी पत्नी, दो पुत्रियां और एक पुत्र हैं. उनकी एक बेटी डॉ. एम नर्मदा ने अपने पिता से वायलिन वादन की शिक्षा ग्रहण की.

एमएस गोपालकृष्णन से संबंधित मुख्य तथ्य निम्नलिखित हैं:

• 2012 पद्मभूषण से सम्मानित, भारत सरकार
• 1998 संगीत कला निधि मद्रास म्यूजिक अकादमी चेन्नई
• 1982 केंद्रीय संगीत नाटक अकादमी अवार्ड
• 1979 केरल संगीत नाटक अकादमी अवार्ड
• 1975 पदमश्री सम्मान भारत सरकार

Download our Current Affairs & GK app For exam preparation

डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप एग्जाम की तैयारी के लिए

AndroidIOS