Search

बहुमत की दौड़

कुल सीट - 542
  • पार्टीसीट (जीते+आगे)बहुमत से आगे/पीछे

    बहुमत 272

प्रधानमंत्री मोदी ने दांडी में ‘नमक सत्याग्रह स्मारक’ का उद्घाटन किया

भारत की स्वतंत्रता के इतिहास में महत्वपूर्ण स्थान दांडी में 110 करोड़ रुपये के खर्च से 15 एकड़ में राष्ट्रीय नमक सत्याग्रह स्मारक का निर्माण किया गया है.

Jan 31, 2019 09:29 IST
नमक सत्याग्रह स्मारक का मॉडल

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 30 जनवरी 2019 को गुजरात के सूरत और दांडी का दौरा किया. यहां उन्होंने सूरत हवाईअड्डे पर टर्मिनल भवन के विस्तार परियोजना और एक अस्पताल की आधाशिला रखी. इसके साथ ही प्रधानमंत्री ने दांडी में राष्ट्रीय नमक सत्याग्रह स्मारक राष्ट्र को समर्पित किया.

नमक सत्याग्रह स्मारक

•    भारत की स्वतंत्रता के इतिहास में महत्वपूर्ण स्थान दांडी में 110 करोड़ रुपये के खर्च से 15 एकड़ में राष्ट्रीय नमक सत्याग्रह स्मारक का निर्माण किया गया है.

•    गांधीजी की पुण्यतिथि के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 30 जनवरी को इसका उद्घाटन किया. अब यह स्मारक जनता के लिए खोल दिया गया है.

•    यहां 14 नमक बनाने वाले पेन रखे गये हैं. साथ ही खारा पानी भी उपलब्ध कराया गया है. पर्यटक जब खारा पानी पेन में डालेंगे, तब पेन के अंदर लगी हुई मशीन पानी का वाष्पीकरण कर देगी और पेन में नमक बन जाएगा.

•    इसके अतिरिक्त 41 सोलर वृक्ष प्रतिदिन 144 किलोवाट बिजली उत्पन्न करेंगे. इनका इस्तेमाल स्मारक में बिजली की आपूर्ति के लिए किया जाएगा.

•    इसमें उन 80 पदयात्रियों की प्रतिमाएं हैं जिन्होंने दांडी मार्च में गांधी जी का साथ दिया था.

•    नमक सत्याग्रह स्मारक में 18 फीट ऊंची गांधीजी की प्रतिमा बनाई गई है.

•    यहां खारे पानी का कृत्रिम तालाब बनाया गया है जिसमें पर्यटकों को यात्रा के बारे में समझाया जायेगा.

•    इसके अलावा यहाँ उन 24 स्थलों के स्मृतिपथ भी बनाए गये हैं जहां गांधीजी गये थे.

 

30 जनवरी: शहीद दिवस

शहीद दिवस प्रत्येक वर्ष 30 जनवरी को मनाया जाता है. नाथूराम गोडसे ने 30 जनवरी 1948 को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की गोली मार कर हत्या कर दी थी. बापू की पुण्यतिथि को हर साल शहीद दिवस के रूप में मनाया जाता है. हर साल इस दिन राष्ट्रपति, उप-राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, रक्षा मंत्री और तीनों सेना के प्रमुख राजघाट स्थित महात्मा गांधी की समाधि पर उन्हें श्रद्धांजलि देते हैं.

30 जनवरी के अलावा 23 मार्च को भी शहीद दिवस मनाया जाता है. विदित हो कि 23 मार्च के दिन ही भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरू को फांसी दी गई थी. इसीलिए 23 मार्च को भी शहीद दिवस मनाया जाता है.



सूरत में अन्य विकास परियोजनाओं की शुरुआत

प्रधानमंत्री कार्यालय के अनुसार, यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री ने सूरत हवाईअड्डे पर टर्मिनल भवन के विस्तार की आधारशिला रखी. सौर ऊर्जा और एलईडी प्रकाश व्यवस्था के इस्तेमाल से यह एक पर्यावरण अनुकूल भवन होगा. प्रधानमंत्री ने सूरत में न्यू इंडिया यूथ कॉन्क्लेव में युवाओं के साथ बातचीत भी की. साथ ही उन्होंने रसीलाबेन सेवंतीलाल शाह वीनस अस्पताल का भी उद्घाटन किया तथा उन्होंने वहां की सुविधाओं का भी जायजा लिया.


यह भी पढ़ें: चित्रा मुद्गल सहित 24 लेखक साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित