Search

भारत-बांग्लादेश अंतर-सरकारी रेलवे बैठक (आईजीआरएम) नई दिल्ली में संपन्न

भारत-बांग्लादेश अंतर-सरकारी रेलवे बैठक (आईजीआरएम) 25 मई 2015  से लेकर 27 मई 2015 तक नई दिल्ली में आयोजित की गई.

May 28, 2015 11:41 IST

भारत-बांग्लादेश अंतर-सरकारी रेलवे बैठक (आईजीआरएम) 25 मई 2015  से लेकर 27 मई 2015 तक नई दिल्ली में आयोजित की गई. भारतीय रेलवे और बांग्लादेश रेलवे के अधिकारियों के अलावा दोनों देशों के कस्टम, आव्रजन और विदेश विभागों के प्रतिनिधियों ने भी इस बैठक में हिस्सा लिया.


भारत-बांग्लादेश अंतर-सरकारी रेलवे बैठक (आईजीआरएम) का मुख्य उद्देश्य दोनों देशों की रेलवे के बीच आपसी विश्वास एवं सहयोग के माहौल में वृद्धि करना था. भारत-बांग्लादेश के बीच इस तरह की पिछली बैठक अप्रैल 2014 में ढाका में आयोजित की गई थी. 4 जनवरी 2015 से ‘मैत्री एक्सप्रेस’ को सप्ताह में तीन दिन चलाने का निर्णय भी इस बैठक में लिया गया था.

भारत-बांग्लादेश अंतर-सरकारी रेलवे बैठक (आईजीआरएम) से संबंधित मुख्य तथ्य:

•    ‘मैत्री एक्सप्रेस’ को सप्ताह में चार दिन चलाने की बात पर सहमति जताई गई.
•    इस बात पर भी सहमति जताई गई कि दोनों पक्ष कस्टम एवं आव्रजन चेक को कोलकाता और ढाका में स्थानांतरित करने की पहल पर जारी बातचीत को आगे बढ़ाएंगे.
•     भारतीय रेलवे ने कहा कि वह मैत्री एक्सप्रेस को एक पूर्णत: वातानुकूलित ट्रेन में तब्दील करने को तैयार है.
•    कोलकाता और खुलना के बीच एक साप्ताहिक यात्री ट्रेन सेवा शुरू करने की जरूरत एवं मांग के जवाब में दोनों पक्षों ने शुरुआत में इसे सप्ताह में एक दिन चलाने की संभावनाओं का तेजी से आकलन करने पर सहमति जताई.
•    भारतीय रेलवे ने भारत और बांग्लादेश के बीच कंटेनर ट्रेन सेवाएं तत्काल शुरू करने की जरूरत पर बल दिया.
•    दोनों देशों की रेलवे ने रोहनपुर एवं सिंघाबाद स्थित वर्तमान इंटरचेंज प्वाकइंट्स के रास्ते असम स्थित नुमालीगढ़ रिफाइनरी से बांग्लादेश के पर्बतीपुर तक रेलवे के जरिए पेट्रोलियम उत्पादों की ढुलाई शुरू करने पर भी सहमति जताई.
•    दोनों देशों के बीच व्यापार को नई गति प्रदान करने के लिए राधिकापुर (भारत)-बीरॉल (बांग्लादेश), चीलाहाटी (बांग्लादेश)-हल्दीबाड़ी (भारत), शाहबाजपुर (बांग्लादेश)-महिसासन (भारत), अखौरा (बांग्लादेश)-अगरतला (भारत) और फेनी (बांग्लादेश)-बेलोनिया (भारत) जैसी रेल संपर्क (कनेक्टिविटी) परियोजनाएं शुरू करने की जरूरत पर सहमति प्रस्ताव.
•    पूर्वोत्तर राज्यों में आवागमन के लिए बीआर नेटवर्क में पहुंच की इजाजत देने संबंधी भारतीय रेलवे के आग्रह के जवाब में बांग्लादेश रेलवे ने अपनी सरकार में समुचित स्तरों पर इस प्रस्ताव को विचारार्थ रखने पर सहमति जताई.

 

Now get latest Current Affairs on mobile, Download # 1  Current Affairs App