Search

भारतीय फुटबॉल टीम के कोच स्टीफन कांस्टेनटाइन ने दिया इस्तीफा

अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर कहा कि कांस्टेनटाइन ने इस्तीफा दे दिया है. कांस्टेनटाइन का अनुबंध 31 जनवरी 2019 को खत्म होना था.

Jan 16, 2019 10:31 IST

भारतीय फुटबॉल टीम के मुख्य कोच स्टीफन कांस्टेनटाइन ने एएफसी एशियन कप के अंतिम ग्रुप मैच में बहरीन के खिलाफ मिली 0-1 की हार के बाद इस्तीफा दे दिया है.

अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर कहा कि कांस्टेनटाइन ने इस्तीफा दे दिया है. कांस्टेनटाइन का अनुबंध 31 जनवरी 2019 को खत्म होना था.

भारत प्रतियोगिता से बाहर:

टूर्नामेंट के पहले मैच में थाईलैंड को 4-1 हराकर शानदार शुरुआत करने वाली भारतीय टीम अपनी जीत को लय को जारी नहीं रख सकी और मेजबान संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) एवं बहरीन के खिलाफ हारकर प्रतियोगिता से बाहर हो गई.

भारत बहरीन के खिलाफ ग्रुप ए के आखिरी मैच में 90वें मिनट तक गोलरहित बराबरी पर था और पहली बार नॉकआउट में जगह बनाने के करीब था, लेकिन बहरीन ने पेनल्टी कॉर्नर पर गोल करके मैच जीत लिया.

 

भारत वर्ष 1964 में इस टूर्नामेंट का उपविजेता रहा था लेकिन टूर्नामेंट राउंड रोबिन प्रारूप में खेला गया था और केवल चार टीमों ने ही उसमें हिस्सा लिया था.

 

स्टीफन कांस्टेनटाइन के बारे में:

•   इंग्लैंड के स्टीफन कांस्टेनटाइन को वर्ष 2015 में भारतीय फुटबॉल टीम का मुख्य कोच नियुक्त किया गया था. उन्हें इस दौरान अंडर-23 राष्ट्रीय टीम का भी कोच बनाया गया था.

•   उनके कार्यकाल को दो बार एक साल के लिए बढाया गया था.

   उनके मार्गदर्शन में टीम ने आठ साल के लंबे अंतराल के बाद एशियन कप के लिए क्वालीफाई किया.

   इससे पहले, कांस्टेनटाइन ने वर्ष 2002 से वर्ष 2005 के बीच भारतीय टीम के कोच रहे थे.

•   बता दें कि भारतीय फुटबॉल टीम के कोच बनने से पहले स्टीफन कांस्टेनटाइन रवांडा की राष्ट्रीय टीम के मुख्य कोच थे.

   स्टीफन कांस्टेनटाइन के प्रशिक्षण में टीम ने वियतनाम में एलजी कप जीता था और अफ्रो-एशियन गेम्स में भी उपविजेता रही थी.

•   स्टीफन कांस्टेनटाइन इससे पहले नेपाल, मलावी और सूडान के भी मुख्य कोच रह चुके हैं.

•   उनके निर्देशन में रवांडा की फुटबॉल टीम ने दिसंबर 2014 की फीफा रैंकिंग में अपनी सर्वश्रेष्ठ रैकिंग (68) प्राप्त की थी.

 

यह भी पढ़ें: सुरजीत भल्ला ने प्रधानमंत्री की आर्थिक सलाहकार परिषद से इस्तीफा दिया