Search

भारत और अमेरिका ने स्वास्थ्य क्षेत्र में सहयोग मजबूत करने के लिए समझौतों पर हस्ताक्षर किए

भारत और अमेरिका ने स्वास्थ्य क्षेत्र में सहयोग मजबूत करने के लिए कई समझौतों पर 25 जून 2015 को हस्ताक्षर किए.

Jun 27, 2015 12:58 IST

भारत और अमेरिका ने कैंसर अनुसंधान, रोकथाम नियंत्रण और प्रबंधन पर सहयोग तथा पर्यावरण एवं व्यवसाय गत स्वास्थ्य एवं जख्म रोकथाम एवं नियंत्रण में गठबंधन तथा सूक्ष्म जीवीरोधी प्रतिरोधक अनुसंधान पर आशय पत्र (एलओआई) के सहमति पत्र पर 25 जून 2015 को हस्ताक्षर किए.

भारत और अमेरिका के मध्य हस्ताक्षरित एमओयू की सूची

कैंसर अनुसंधान, रोकथाम नियंत्रण और प्रबंधन पर सहयोग के लिए एमओयू पर हस्ताक्षर
दोनों देशों ने कैंसर अनुसंधान, रोकथाम नियंत्रण और प्रबंधन पर द्विपक्षीय सहयोग, जनसंख्या आधारित कैंसर नियंत्रण एवं क्रियान्वयन विज्ञान पर सहयोगात्मक अनुसंधान परियोजनाओं का विकास, मूलभूत एवं महामारी विज्ञान अनुसंधान, पूर्व-नैदानिक अनुकृति विकास, नैदानिक अनुसंधान एवं कर्क रोग देखभाल आपूर्ति के क्षेत्रों में परियोजनाओं का विकास पर हस्ताक्षर किए.

इस समझौता ज्ञापन पर एनसीआरआई (एम्स), भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (सरकारी विभाग), जैव प्रौद्योगिकी विभाग, (सबसे), एनसीआई (एनआईएच) और स्वास्थ्य और मानव सेवा के अमेरिकी 'विभाग (DHHS) के बीच हस्ताक्षर किए गए.

पर्यावरण में सहयोग, व्यावसायिक स्वास्थ्य और चोट की रोकथाम और नियंत्रण पर समझौता ज्ञापन
उन्होंने पर्यावरण में सहयोग, व्यावसायिक स्वास्थ्य और चोट की रोकथाम और नियंत्रण पर समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किया.

समझौता ज्ञापन के अंतर्गत सहयोग को कवर किया जाएगा
• विषैले रसायनों तथा हानिकारक तत्वों से संबंधित बीमारी की रोकथाम;
• निरीक्षण समेत पर्यावरण एवं पेशागत सार्वजनिक स्वास्थ्य एवं जख्म रोकथाम प्रयासों को बढ़ाने के लिए बेहतर उपकरणों, प्रौद्योगिकियों तथा पद्धतियों का उपयोग एवं विकास;
• खाना पकाने तथा गर्म करने के लिए ठोस ईंधन को जलाने के साथ जुड़े जोखिमों पर फोकस समेत परिवेशी एवं घर के भीतर के वायु प्रदूषण का सार्वजनिक स्वास्थ्य प्रभाव
• कार्यस्‍थल पर दुर्घटनाओं संबंधित चोट एवं बीमारी की रोकथाम तथा संबंधित अनुसंधान

सूक्ष्म जीव रोधी प्रतिरोधक अनुसंधान पर एक आशय पत्र (एलओआई) पर हस्ताक्षर
भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर), स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के स्वास्थ्य अनुसंधान विभाग, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय के जैव प्रौद्योगिकी विभाग और अमेरिका के स्वास्थ्य एवं मानव सेवा विभाग के राष्ट्रीय स्वास्थ्य संस्थान के राष्ट्रीय एलर्जी एवं संक्रामक रोग संस्थान के बीच सूक्ष्म जीव रोधी प्रतिरोधक अनुसंधान पर एक आशय पत्र (एलओआई) पर हस्ताक्षर किए.

इसका उद्देश्य दोनों देशों के बीच सूक्ष्म जीव रोधी प्रतिरोधक अनुसंधान के बीच सहयोग को मजूबत करना है जिनमें निम्नलिखित क्षेत्र शामिल हैं.
• प्रणालीगत जीवविज्ञान के उपयोग समेत सूक्ष्म जीव रोधी प्रतिरोधक का तंत्र
• तुलनात्मक जांच और नए परीक्षणों के प्रमाणीकरण में सहायता
• नवीन योजनाओं का विकास
• नवजात शिशु सघन देखभाल इकाइयों में एएमआर की संभावित पद्धतियों की खोज जैसा कि भारत और अमेरिका में पाया गया.
• पुरानी दवाओं के नए एवं मिश्रण/उपयोग को निर्धारित करने के लिए नैदानिक अध्ययनों में संभावित सहयोग की खोज.

Now get latest Current Affairs on mobile, Download # 1 Current Affairs App