Search

भारत और सिंगापुर की नौसेनाओं के मध्य वार्षिक नौसेना अभ्यास सिम्बेक्स-15 संपन्न

भारत और सिंगापुर की नौसेनाओं के मध्य वर्ष 2015 का वार्षिक नौसेना अभ्यास दक्षिणी चीन सागर में 26 मई 2015 को संपन्न हो गया.

May 28, 2015 14:58 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

भारत और सिंगापुर की नौसेनाओं के मध्य वर्ष 2015 का वार्षिक नौसेना अभ्यास दक्षिणी चीन सागर में 26 मई 2015 को संपन्न हो गया.  सिम्बेक्स-2015 के नाम से आयोजित यह अभ्यास 23 मई 2015 से प्रारंभ हुआ था. यह श्रृंखला का 22वां अभ्यास है. इसे दोनों नौसेनाओं के बीच अंतर–ऑपरेशन और आपसी समझ को बढ़ाने के लिए डिजाइन किया गया.

नौसैनिक युद्धाभ्यायस के दौरान सिंगापुर और भारत की नौसेना द्वारा उन्नत युद्ध प्रशि‍क्षण किया गया जि‍समें वायु, सतह, उप-सतही अभ्यास भी शामि‍ल रहा. इस नौसेना अभ्यास का उद्देश्य दोनों देशों की नौसेना के बीच परस्पर क्रि‍या और आपसी समझ को बढ़ाना है.

सिंगापुर की नौसेना की ओर से इस युद्ध अभ्यापस में युद्धपोत सुप्रीम और पनडुब्बी आर्चर के साथ-साथ लड़ाकू विमान और समुद्री गश्ती विमानों ने भाग लिया, जबकि भारत की नौसेना की ओर से गाइडेड मिसाइल स्टील्थ फ्रिगेट आईएनएस सतपुरा और पनडुब्बी नाशक आईएनएस कामोर्ता के साथ-साथ लंबी दूरी के समुद्री गश्ती एवं पनडुब्बी रोधी युद्धक विमान पी-81 ने इस युद्ध अभ्यास में भाग लिया.

भारत और सिंगापुर के बीच द्वीपक्षीय नौसैनिक सहयोग, सिम्बेक्स के बारे में
दोनों देशों की नौसेना के बीच द्वीपक्षीय नौसैनिक सहयोग सबसे पहले वर्ष 1994 में औपचारिक रूप दिया गया जब आरएसएन जहाजों ने भरतीय नौसेना के साथ पनडुब्बी रोधी युद्ध (एएसडब्ल्यू) का प्रशिक्षण शुरु किया.