Search

भावना कस्तूरी ने रचा इतिहास, परेड में पहली बार महिला ऑफिसर सेना की टुकड़ी का नेतृत्व करेगी

प्रत्येक वर्ष 15 जनवरी को देश में सेना दिवस मनाया जाता है. वर्ष 1949 में लेफ्टिनेंट जनरल के. एम. करियप्पा ने जनरल सर फ्रांसिस बुकर से कमांडर इन चीफ का चार्ज लिया था.

Jan 11, 2019 12:48 IST

प्रत्येक वर्ष 15 जनवरी को मनाये जाने वाले सेना दिवस परेड कार्यक्रम में इस बार ऐतिहासिक क्षण देखने को मिलेंगे. दरअसल, महिला ऑफिसर लेफ्टिनेंट भावना कस्तूरी पहली महिला ऑफिसर होंगी जो परेड में सेना की टुकड़ी का नेतृत्व करेंगी.

यह सैन्य टुकड़ी महिलाओं की उस टुकड़ी से अलग है जिसका नेतृत्व कैप्टन दिव्या अजिथ ने वर्ष 2015 में गणतंत्र दिवस के मौके पर किया था. 71वें सेना दिवस परेड के दिन लेफ्टिनेंट भावना कस्तूरी इंडियन आर्मी सर्विस कॉर्प्स (ASC) टुकड़ी का नेतृत्व करेंगी, जिसमें 144 पुरुष जवान शामिल होंगे.

लेफ्टिनेंट भावना कस्तूरी सेना की सर्विस कोर (एएससी) से आती हैं. आर्मी सर्विस कोर 23 वर्ष के बाद पहली बार आर्मी डे परेड में हिस्सा ले रही है. इस अवसर पर आर्मी चीफ जनरल बिपिन रावत बतौर मुख्य अतिथि शामिल होंगे और परेड का निरीक्षण करेंगे.

 

सेना दिवस

प्रत्येक वर्ष 15 जनवरी को देश में सेना दिवस मनाया जाता है. वर्ष 1949 में लेफ्टिनेंट जनरल के.एम. करियप्पा ने जनरल सर फ्रांसिस बुकर से कमांडर इन चीफ का चार्ज लिया था. उसी ऐतिहासिक घटना की याद में प्रत्येक वर्ष सेना दिवस मनाया जाता है. यह दिन देश के जवानों को सम्मान देने के लिए मनाया जाता है. माना जाता है कि भारतीय सेना विश्व की सबसे शक्तिशाली सेनाओं में से एक है और उसकी तुलना अमेरिका, रूस और चीन की सेनाओं से होती है. सेना दिवस के उपलक्ष्य में प्रत्येक वर्ष दिल्ली छावनी के करियप्पा परेड ग्राउंड में परेड निकाली जाती है, जिसकी सलामी थल सेनाध्यक्ष लेते हैं.


कैप्टन शिखा सुरभी का रिकॉर्ड


लेफ्टिनेंट कस्तूरी के अतिरिक्त एक अन्य महिला ऑफिसर कैप्टन शिखा सुरभी एक आर्मी डेयरडेविल्स मोटरसाइकिल डिस्प्ले टीम का नेतृत्व करेंगी. यह भी किसी महिला अफसर के लिए पहला मौका है. इस टीम में 33 पुरुष रहेंगे, जो कि 9 बाइक पर पिरामिड का निर्माण करेंगे. कैप्टन शिखा बाइक चलाते हुए मेहमानों को सैल्यूट करती भी दिखेंगी. हालांकि, पूरी डेयरडेविल्स की टुकड़ी को मेजर मनप्रीत सिंह लीड करेंगे.

 

यह भी पढ़ें: अलोक वर्मा सीबीआई प्रमुख पद से हटाकर फायर सर्विस विभाग के डीजी नियुक्त