Search

महाराष्ट्र सरकार ने दही हांडी को साहसिक खेल के रूप में घोषित किया

महाराष्ट्र सरकार ने दही हांडी को सुरक्षित खेल बनाने के लिए साहसिक खेल के रूप में मनाये जाने की घोषणा 12 दिसंबर 2014 को की.

Dec 17, 2014 11:26 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

महाराष्ट्र सरकार ने दही हांडी को सुरक्षित खेल बनाने के लिए साहसिक खेल के रूप में मनाये जाने की घोषणा 12 दिसंबर 2014 को की. दही हांडी कृष्ण जन्माष्टमी के अवसर पर एक मानव पिरामिड बनाकर ऊंचाई पर बंधे छाछ के साथ भरे एक मिट्टी के बर्तन  को तोड़ने वाला खेल है. यह महाराष्ट्र का एक पारंपरिक खेल है.

राज्य सरकार ने एक सुरक्षित गतिविधि के रूप में दही हांडी खेल को मनाये जाने के लिए राज्य आयोग द्वारा सुझावों के आधार पर नए नियम और सुरक्षा के दिशा निर्देशों को बनाने का फैसला लिया. यह नियम निर्धारण प्रतिभागियों के लिए उचित प्रशिक्षण और सभी सुरक्षा उपकरणों के उपयोग को सुनिश्चित करेगा.
अगस्त 2014 में बंबई उच्च न्यायालय ने इन आयोजनों में घातक दुर्घटनाओं का हवाला देते हुए दही हांडी खेल में 18 वर्ष से कम उम्र के बच्चों की भागीदारी पर प्रतिबंध लगा दिया था. हालांकि सर्वोच्च न्यायालय ने यह उम्र 18 वर्ष से घटाकर 12 वर्ष करने का निर्देश दिया. इसके साथ ही दुर्घटनाओं को रोकने के लिए उचित सुरक्षा उपायों को अपनाये जाने के लिए आयोजकों को निर्देश दिया.

 

Download our Current Affairs & GK app For exam preparation

डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप एग्जाम की तैयारी के लिए

AndroidIOS