Search

माइक्रोसॉफ्ट ने की ‘डिजिटल भारत’ पहल में व्हाइट-फाई तकनीक के प्रयोग कि घोषणा की

जुलाई 2015 के दूसरे सप्ताह में व्हाइट-फाई तकनीक या टीवी व्हाइट स्पेस प्रौद्योगिकी चर्चा में रही क्योंकि माइक्रोसॉफ्ट ने भारत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ‘डिजिटल भारत’ पहल को बढ़ावा देने के लिए इस तकनीक को लागू करने की घोषणा की है.

Jul 18, 2015 02:38 IST

जुलाई 2015 के दूसरे सप्ताह में व्हाइट-फाई तकनीक या टीवी व्हाइट स्पेस प्रौद्योगिकी चर्चा में रही क्योंकि माइक्रोसॉफ्ट ने भारत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ‘डिजिटल भारत’ पहल को बढ़ावा देने के लिए इस तकनीक को लागू करने की घोषणा की है.
माइक्रोसॉफ्ट के अनुसार यह तकनीक लगभग एक अरब ऐसे भारतीयों को मुफ्त वाई-फाई कनेक्टिविटी प्रदान करेगी जो अब तक नेट की सेवा से वंचित हैं. कम्पनी की योजना इस तकनीक को अंतरराष्ट्रीय सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान बंगलौर के परिसर से शुरू करने की है.

 


व्हाइट-फाई तकनीक की विशेषताएँ –

• व्हाइट-फाई तकनीक टेलीविजन के प्रसारण के लिए उपयोग किये जाने वाले स्पेक्ट्रम में अप्रयुक्त आवृत्तियों का प्रयोग करती है.
• इन अप्रयुक्त स्पेक्ट्रम को विज्ञान की भाषा में ‘व्हाइट स्पेस’ या ‘टीवी व्हाइट स्पेस प्रौद्योगिकी’ कहा जाता है.
• व्हाइट-फाई तकनीक में 200 से 300 मेगाहर्ट्ज आवृति के स्पेक्ट्रम की मदद से 10 किमी की दूरी तक वाई-फाई तकनीक का इस्तेमाल किया जा सकता है जबकि वर्तमान में वाई-फाई तकनीक की सीमा 100 मीटर है.
• यह सौर ऊर्जा पर भी कार्य कर सकती है. अतः इस तकनीक से इंटरनेट उपकरणों को स्थापित करने में आने वाली लागत कम होगी.

यह डिजिटल भारत पहल की सहायता कैसे करेगी ?
 
डिजिटल भारत योजना के तहत केंद्र सरकार कि योजना देश के सभी हिस्सों में ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क स्थापित करना है.
 
• अंतिम उपभोगता को इन्टरनेट की सेवा से जोड़ने के लिए वायरलेस तकनीक आवश्यक है क्योंकि फाइबर नेटवर्क सिर्फ ग्राम पंचायत स्तर तक ही स्थापित किए जाएंगे.
• प्रायः 200 से 600 मेगाहर्ट्ज की आवृत्ति का प्रयोग टीवी चैनलों के डेटा के लिए किया जाता है परन्तु  भारत में इस स्पेक्ट्रम के 93 प्रतिशत हिस्से का उपयोग नहीं होता है. व्हाइट-फाई तकनीक के तहत इस अप्रयुक्त स्पेक्ट्रम का प्रयोग किया जा सकता है.
• यह कम आय वाले समूह को डिजिटल कनेक्टिविटी प्रदान करने के लिए सबसे अनुकूल तकनीक है.

Now get latest Current Affairs on mobile, Download # 1  Current Affairs App