राष्ट्रीय डोपिंग रोधी एजेंसी ने तैराक अर्जुन मुरलीधरन पर डोपिंग के लिए 2 वर्ष का प्रतिबंध लगाया

राष्ट्रीय डोपिंग रोधी एजेंसी (नाडा) ने देश के शीर्ष तैराक अर्जुन मुरलीधरन पर डोपिंग टेस्ट में पॉजीटिव पाए जाने के बाद 2 वर्ष का प्रतिबंध लगाया.

Created On: Oct 31, 2013 15:28 ISTModified On: Oct 31, 2013 15:24 IST

भारत के शीर्ष तैराक अर्जुन मुरलीधरन पर डोपिंग टेस्ट में पॉजीटिव पाए जाने के कारण 2 वर्ष का प्रतिबंध लगाया गया. राष्ट्रीय डोपिंग रोधी एजेंसी (नाडा) के पैनल द्वारा अर्जुन मुरलीधरन पर यह प्रतिबंध लगाया गया जो 25 अक्टूबर 2013 से लागू होना है.

मार्च 2013 में हुई अखिल भारतीय पुलिस तैराकी चैंपियनशिप-2013 के दौरान अर्जुन मुरलीधरन को शक्तिवर्धक दवा मिथाइलहेक्सानियामिन के सेवन का दोषी पाया गया. अभी अर्जुन मुरलीधरन के पास यह अधिकार है कि वह राष्ट्रीय डोपिंग रोधी अपील पैनल में अपील कर सकते हैं.

अर्जुन मुरलीधरन से संबंधित मुख्य तथ्य

• अर्जुन मुरलीधरन महाराष्ट्र के रहने वाले हैं.
• अर्जुन मुरलीधरन ने अक्टूबर 2013 तक 15 राष्ट्रीय खिताब जीते हैं.
• वह वर्ष 2004 से वर्ष 2007 तक लगातार तीन ओपेन राष्ट्रीय चैंपियनशिप में सर्वश्रेष्ठ तैराक रहे.
• अर्जुन मुरलीधरन ने ऑस्ट्रेलिया के बेनडिगो में वर्ष 2004 राष्ट्रमंडल युवा खेलों के दौरान 200 मीटर बटरफ्लाई स्पर्धा में कांस्य पदक जीता था.
• उन्होंने दक्षिण एशियाई खेलों में भी कई खिताब जीते.
• उन्होंने अपना अंतिम अंतरराष्ट्रीय पदक ढाका में दक्षिण एशियाई खेलों के दौरान 100 मीटर बटरफ्लाई में स्वर्ण पदक के रूप में जीता था.

विदित हो कि नवम्बर 2013 में अर्जुन मुरलीधरन के भाई अमर मुरलीधरन पर डोपिंग टेस्ट में पॉजीटिव पाए जाने पर 2 वर्ष का प्रतिबंध लगाया गया था.

Take Weekly Tests on app for exam prep and compete with others. Download Current Affairs and GK app

एग्जाम की तैयारी के लिए ऐप पर वीकली टेस्ट लें और दूसरों के साथ प्रतिस्पर्धा करें। डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप

AndroidIOS
Comment ()

Post Comment

3 + 8 =
Post

Comments