Search

संयुक्त अरब अमीरात ने अपनी अंतरिक्ष एजेंसी के लिए रणनीतिक ढांचे का शुभारंभ किया

25 मई 2015 को संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) ने अपनी नयी स्थापित अंतरिक्ष एजेंसी के लिए रणनीतिक ढांचे का शुभारंभ किया

May 27, 2015 18:03 IST

25 मई 2015 को संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) ने अपनी नयी स्थापित अंतरिक्ष एजेंसी के लिए रणनीतिक ढांचे का शुभारंभ किया. संयुक्त अरब अमीरात अंतरिक्ष एजेंसी के महानिदेशक मोहम्मद नासिर अल एहबाबी हैं.

इसका उद्देश्य उपग्रह मिशन की शुरुआत करना तथा वर्ष 2021 तक मंगल ग्रह पर मानव रहित यान भेजना है. इस मिशन का नाम होप प्रोब है.

इसका उद्घाटन समारोह आबू धाबी के राष्ट्रीय प्रदर्शनी केन्द्र में उपराष्ट्रपति तथा प्रधानमंत्री शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम की उपस्थिति में अबू धाबी में किया गया.


इस दौरान बनायी गयी रणनीति का उद्देश्य यूएई 2021 विज़न को लागू करना है जिसके तहत यूएई को 2021 तक विश्व के अग्रणी देशों में शामिल करने की योजना बनायी गयी है. वर्ष 2021 में यूएई अपनी स्थापना दिवस की 50वीं वर्षगांठ मनायेगा.

इसके अतिरिक्त अल याह उपग्रह संचार कम्युनिकेशन कंपनी (Yahsat), मसदर इंस्टिट्यूट ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी तथा ऑर्बिटल एटीके के बीच एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किये गए.

इन तीन प्रमुख संस्थाओं के बीच समझौता होने के बाद मध्य पूर्व के देशों में पहली बार अन्तरिक्ष विज्ञान में स्नातक कार्यक्रम आरंभ किया जायेगा.


संयुक्त अरब अमीरात ने अन्तरिक्ष क्षेत्र में पहली बार उस समय कदम उठाया था जब स्वर्गीय शेख जायद बिन सुल्तान अल नायन ने वर्ष 1976 में अपोलो मून कार्यक्रम के लिए नासा की टीम के साथ मुलाकात की. संयुक्त अरब अमीरात ने काफी वर्षों तक इस क्षेत्र में मार्गदर्शन प्राप्त किया जिसका परिणामस्वरूप होप प्रोब की शुरुआत है.

Now get latest Current Affairs on mobile, Download # 1  Current Affairs App