Search

स्वच्छ ऊर्जा क्रांति को गति देने के लिए मिशन इनोवेशन का शुभारंभ

मिशन इनोवेशन का शुभारंभ बिल गेट्स के नेतृत्व में शुरू किए गए ब्रेकथ्रू एनेर्जी कोएलिशन से अलग किया गया है.

Dec 3, 2015 15:04 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

विश्व में स्वच्छ ऊर्जा क्रांति को गति देने के लिए 30 नवंबर  2015 को “मिशन इनोवेशन” का शुभारंभ किया गया. मिशन का शुभारंभ पेरिस ले बर्जत, फ्रांस में संयुक्त राष्ट्र जलवायु परिवर्तन सम्मेलन 2015 सीओपी 21 (COP21) के मंच से भारत सहित 20 प्रतिभागी देशों द्वारा शुरू किया गया.

इस घोषणा के साथ ही सम्मेलन 2015 सीओपी 21 में  भाग लेने वाले देश 2020 तक स्वच्छ ऊर्जा अनुसंधान और विकास के वित्तपोषण को दोगुना करेंगे.
मिशन इनोवेशन का शुभारंभ बिल गेट्स के नेतृत्व में शुरू किए गए ब्रेकथ्रू एनेर्जी कोएलिशन से अलग किया गया है. यह जीवाश्म ईंधन के लिए मांग को कम करने के लिए किया गया.

मिशन इनोवेशन की मुख्य विशेषताएं-

• मिशन इनोवेशन का उद्देश्य साथ वैश्विक स्वच्छ ऊर्जा को गति देना,पुनर्जीवित करना और स्वच्छ ऊर्जा के लिए व्यापक रूप से किफायती बनाने का उद्देश्य के है.

• मिशन इनोवेशन का उद्देश्य सभी के लिए सस्ती और विश्वसनीय ऊर्जा प्रदान करने के साथ  आर्थिक विकास को बढ़ावा देने के प्रयासों में वृद्धि करना है.
 
• काम करने का ढंग: मौजूदा अंतरराष्ट्रीय संस्थानों के साथ काम करते हुए, सम्मेलन में भाग लेने वाले देश अन्य देशों के साथ व उनकी सरकारों के साथ सहयोग और  निजी निवेशकों और प्रौद्योगिकी के नवीन आविष्कारों में मदद करने के लिए सहयोग करेंगे.

• सहयोग से आशय स्वच्छ ऊर्जा प्रौद्योगिकियों के व्यावसायीकरण और प्रसार को बढ़ावा देने के क्रम में विशेषज्ञ प्रौद्योगिकी और विश्लेषण क्षेत्र में डेटा का आदान प्रदान करेंगे.

• यह जलवायु परिवर्तन की समस्या से निपटने के लिए दीर्घकालिक वैश्विक प्रतिक्रिया के रूप में शुरू किया गया.

• सम्मेलन में भाग लेने वाले देश हैं: ऑस्ट्रेलिया, ब्राजील, कनाडा, चिली, चीन, डेनमार्क, फ्रांस, जर्मनी, भारत, इंडोनेशिया, इटली, जापान, मेक्सिको, नॉर्वे, सऊदी अरब, दक्षिण कोरिया, स्वीडन, संयुक्त अरब अमीरात, ब्रिटेन और संयुक्त राज्य अमेरिका आदि

Download our Current Affairs & GK app For exam preparation

डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप एग्जाम की तैयारी के लिए

AndroidIOS