देश के 1500 स्कूलों में बनेंगे अटल टिंकरिंग लैब्स

अटल टिंकरिंग लैब्स छठी कक्षा से लेकर बारहवीं कक्षा तक के विद्यार्थियों के लिए अपने अभिनव विचारों को साकार रूप देने का कार्य स्थल है.

Created On: Dec 27, 2017 10:32 IST
1500 schools selected for setting up of Atal Tinkering Labs
1500 schools selected for setting up of Atal Tinkering Labs

नीति आयोग द्वारा आरंभ किये गये अटल इनोवेशन मिशन (एआईएम) के तहत अटल टिंकरिंग लैब (एटीएल) की स्थापना के लिए 1500 स्कूलों का चयन किया गया है. इतने स्कूलों का चयन करने से ‘भावी अन्वेषकों के रूप में भारत में एक मिलियन बच्चों की प्रतिभा संवारने’से जुड़े मिशन के सपने को साकार करने में काफी मदद‍ मिलेगी.

अटल टिंकरिंग लैब से जुड़ी इस घोषणा के साथ ही एआईएम के तहत एटीएल की स्थापना के लिए देश भर में अब तक 2441 स्कूलों का चयन किया गया है. इस दिशा में औपचारिक प्रयास एक साल से भी अधिक समय पहले शुरू किए गए थे. भारत सरकार के एक प्रमुख कार्यक्रम अटल इनोवेशन मिशन (एआईएम) का उद्देश्य देश भर में फैले स्कूलों, विश्व विद्यालयों और उद्योगों में नवाचार (इनोवेशन) एवं उद्यमिता को बढ़ावा देना है.

 

यह भी पढ़ें: मंत्रिमंडल ने उपभोक्ता संरक्षण विधेयक को मंजूरी प्रदान की

अटल टिंकरिंग लैब (एटीएल) क्या है?

यह छठी कक्षा से लेकर बारहवीं कक्षा तक के विद्यार्थियों के लिए अपने अभिनव विचारों को साकार रूप देने का कार्य स्थल है. इन कार्य स्थलों पर कुछ ऐसा नया करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है जो विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी से जुड़ा होता है.

अत्याधुनिक प्रौद्योगिकियों जैसे 3डी प्रिंटर, रोबोटिक्स, संवेदी प्रौद्योगिकी किट, इंटरनेट ऑफ थिंग्स (आईओटी), सूक्ष्म इलेक्ट्रॉनिक्स से युक्त ये कार्य स्थल विद्यार्थियों को उभरती प्रौद्योगिकियों का इस्तेमाल कर स्थानीय सामुदायिक समस्याओं को गहराई से समझने एवं सुलझाने में समर्थ करते हैं. विद्यार्थियों को ‘खुद से करो’ की अवधारणा का उपयोग कर अपने अभिनव विचारों को मूर्त रूप देने और भारत की सामाजिक, सामुदायिक अथवा आर्थिक समस्याओं का अभिनव समाधान वि‍कसित करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है.

CA eBook

उद्देश्य

आईओटी उपकरणों तथा रोबोटिक्स का उपयोग कर सेंसर आधारित समाधान विकसित करना भी इन परियोजनाओं में शामिल है. यह वर्ष 2022 तक अपने सपनों का ‘नया भारत’ बनाने की दृष्टि से विद्यार्थियों के लिए एक बड़ा अवसर साबित होगा. इन प्रयोगशालाओं (लैब) को कुछ इस तरह से तैयार किया गया है जिससे कि रचनात्मकता को बढ़ावा मिले और विद्यार्थी नियमित पाठ्यक्रम एवं अपनी पाठ्य पुस्तकों के अलावा कुछ अभिनव जानकारियां हासिल करें. इस तरह की लैब से विद्यार्थियों को भावी कौशल जैसे कि रचनात्मक एवं अभिकलनात्मक सोच, अनुकूल शिक्षण एवं कृत्रिम बुद्धिमत्ता (आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस) से युक्त, करने में भी मदद मिलेगी.

यह भी पढ़ें: लोकसभा ने अचल संपत्ति (संशोधन) विधेयक पारित किया

Take Weekly Tests on app for exam prep and compete with others. Download Current Affairs and GK app

एग्जाम की तैयारी के लिए ऐप पर वीकली टेस्ट लें और दूसरों के साथ प्रतिस्पर्धा करें। डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप

AndroidIOS

Related Stories

Comment (0)

Post Comment

7 + 4 =
Post
Disclaimer: Comments will be moderated by Jagranjosh editorial team. Comments that are abusive, personal, incendiary or irrelevant will not be published. Please use a genuine email ID and provide your name, to avoid rejection.

    Monthly Current Affairs PDF

    • Current Affairs PDF November 2021
    • Current Affairs PDF October 2021
    • Current Affairs PDF September 2021
    • Current Affairs PDF August 2021
    • Current Affairs PDF July 2021
    • Current Affairs PDF June 2021
    View all

    Monthly Current Affairs Quiz PDF

    • Current Affairs Quiz PDF November 2021
    • Current Affairs Quiz PDF October 2021
    • Current Affairs Quiz PDF September 2021
    • Current Affairs Quiz PDF August 2021
    • Current Affairs Quiz PDF July 2021
    • Current Affairs Quiz PDF June 2021
    View all