Search

अभिनंदन वर्धमान एवं बालाकोट एयर स्ट्राइक में शामिल पायलटों को मिलेंगे सेना के सर्वश्रेष्ठ पदक

विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान ने अभूतपूर्व साहस और कौशल का प्रदर्शन करते हुए पाकिस्तान के एफ-16 लड़ाकू विमान को निशाना बनाया था.

Aug 8, 2019 11:06 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान को उनके वीरता प्रदर्शन के लिए वीर चक्र पदक से सम्मानित किया जायेगा. उनके अतिरिक्त बालाकोट एयर स्ट्राइक में शामिल मिराज-2000 लड़ाकू विमान के पायलटों को भी वायु सेना पदक से सम्मानित किया जा सकता है. मिराज-2000 के लड़ाकू विमानों की सहायता से पायलटों ने बालाकोट में स्थित जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी शिविरों को ध्वस्त किया था.

विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान ने अभूतपूर्व साहस और कौशल का प्रदर्शन करते हुए पाकिस्तान के एफ-16 लड़ाकू विमान को निशाना बनाया था. हालांकि, उन्हें पाकिस्तान की सेना द्वारा पकड़ लिया गया था लेकिन बाद में भारत सरकार एवं अंतर्राष्ट्रीय दबाव के चलते उन्हें छोड़ा गया था. परमवीर चक्र और महावीर चक्र के बाद वीर चक्र भारत का तीसरा सबसे बड़ा सैन्य पदक है.

अभिनंदन वर्धमान के बारे में

विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान अपने मिग-21 बायसन विमान द्वारा पाकिस्तान के एफ-16 विमान का पीछा कर रहे थे. उन्होंने पाकिस्तानी विमान को खदेड़ते हुए उसे मार गिराया लेकिन उनका मिग-21 भी एक मिसाइल के निशाने का शिकार हुआ जिसके चलते उन्हें विमान से निकलना पड़ा. उन्होंने पैराशूट से जम्प किया और पाकिस्तानी जमीन पर आकर उतरे जिसके चलते पाकिस्तानी सेना ने उन्हें अपने कब्जे में ले लिया. विशेषज्ञों का कहना है कि इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ था जब एक मिग-21 ने एफ-16 को निशाना बनाया था. पाकिस्तान ने विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान को 60 घंटों तक अपने कब्जे में रखने के बाद भारत को लौटा दिया था.

एयर स्ट्राइक में शामिल मिराज-2000 विमानों के बारे में

भारत के मिराज-2000 विमानों ने पुलवामा हमले के बदले में बालाकोट स्थित आतंकी शिविरों को निशाना बनाया. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार 12 मिराज-2000 विमानों ने बालाकोट आतंकी ठिकानों पर लगभग एक हजार किलोग्राम के बम बरसाकर उन्हें तबाह कर दिया. इस हमले में जैश-ए-मोहम्मद के विभिन्न आतंकी ठिकाने तबाह हो गये और भारतीय विमान सकुशल वापिस लौट आये. इस एयर स्ट्राइक में भारतीय मिराज-2000 विमानों द्वारा इज़राइल निर्मित स्पाइस-2000 बमों का उपयोग किया गया था.

वीर चक्र

वीर चक्र भारतीय सेना द्वारा दिया जाने वाला वीरता पुरस्कार है. वीर चक्र एक गोलाकार पदक है जिसके मध्य में एक तीखे किनारों वाला सितारा तथा मध्य में राजकीय चिन्ह सहित गोलाकार परिधि बनी हुई है.इसकी स्थापना 26 जनवरी 1950 को की गई थी जिसे 15 अगस्त 1947 से प्रभावी माना गया था.

वायु सेना पदक (वीएसएम)

यह भारतीय सैन्य पदक है जिसे सामान्यतः शांति काल में उल्लेखनीय योगदान के लिए दिया जाता है. हालांकि इसे युद्धकाल में भी दिया गया है. इसकी स्थापना भारत के राष्ट्रपति द्वारा वर्ष 1960 में की गई थी. इस पदक की दो श्रेणियां हैं – वायु सेना पदक (शौर्य) एवं वायु सेना पदक (कर्तव्य के प्रति समर्पण).

यह भी पढ़ें: सेना में महिलाओं को स्थायी कमीशन देने हेतु विशेष काडर बनाया जायेगा

Download our Current Affairs & GK app For exam preparation

डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप एग्जाम की तैयारी के लिए

AndroidIOS