Search

झारखंड में शहीद ग्राम विकास योजना का शुभारम्भ

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व राज्य सभा सांसद अमित शाह ने बिरसा मुंडा के जन्मस्थल से शहीद ग्राम विकास योजना की शुरुआत की. शहीद ग्राम विकास योजना के तहत शहीदों के गांवों में पक्के मकान, शुद्ध पेयजल, बिजली, शिक्षा और आधारभूत संरचनाओं का संपूर्ण विकास किया जायेगा.

Sep 19, 2017 15:12 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

झारखंड में शहीद ग्राम विकास योजना का शुभारम्भ किया गया. यह शुभारम्भ भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने किया. शहीद ग्राम विकास योजना के तहत शहीदों के गांवों में पक्के मकान, शुद्ध पेयजल, बिजली, शिक्षा और आधारभूत संरचनाओं का संपूर्ण विकास किया जायेगा.   

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व राज्य सभा सांसद अमित शाह ने बिरसा मुंडा के जन्मस्थल से शहीद ग्राम विकास योजना की शुरुआत की. इस अवसर पर अमित शाह ने जनता को उज्जवल आयोजन के तहत गैस कनेक्शन और सोलर आदि का वितरण नभी किया. अमित शाह के अनुसार भगवान बिरसा का झारखंड ही नहीं, पूरा राष्ट्र ऋणी है. इन्होंने अपना पूरा जीवन अपनी संस्कृति और अपने देश की स्वतंत्रता को अक्षुण्ण रखने में लगा दिया.

इलेक्ट्रिक वाहनों के विकास हेतु फोर्ड ने महिंद्रा के साथ समझौता किया


उन्होंने अंग्रेजों के खिलाफ लड़ाई लड़ी. अपने 25 साल के जीवन में भगवान बिरसा मुंडा करोड़ो लोगों के लिए प्रेरणादायी कार्य कर गए. उनके उलगुलान को रोकने के  काफी प्रयास किए गए, किन्तु उन्होंने बिना विचलित हुए लक्ष्य को अंजाम दिया.

CA eBook

उन देशों की सूची जिन्होंने उत्तर कोरिया के राजदूतों को निष्कासित किया

शहीद ग्राम विकास योजना-

  • केंद्र सरकार ने स्वतंत्रता सेनानियों के गांव को विकसित करने की योजना बनायी. इसके तहत वीर शहीद बिरसा मुंडा के गांव को विकसित करने की योजना झारखंड में शुरू हो रही है.
  • राज्य में शहीदों के 19 गांवों को विकसित किया जायेगा.  केंद्र सरकार की यह शहीदों के लिए सच्ची श्रद्धांजलि होगी.
  • योजना के तहत गांवों में पक्के मकान, शुद्ध पेयजल, बिजली, शिक्षा और आधारभूत संरचनाओं का संपूर्ण विकास किया जायेगा.
  • अनुमान के अनुसार शहीदों के 19 गांवों हेतु 30 करोड़ रूपए विकसित करने में व्यय किए जाएँगे.
  • वर्ष 2022 तक धरती आबा बिरसा मुंडा, तिलका मांझी, सिदो-कान्हू जैसे तमाम वीर शहीदों के सपनों का भारत और झारखंड का निर्माण किया जाएगा.
  • बिरसा मुंडा की कर्मस्थली उलिहातू जैसे गांव में राजधानी जैसी सुविधा उपलब्ध कराई जाएंगी.

लाह बोर्ड का गठन-

  • जनपद खूंटी की लाह चुनने वाली मेहनती महिलाओं के सर्वांगीण विकास के लिए लाह बोर्ड का गठन किया गया है.
  • ऐसी महिलाओं को मुख्यमंत्री उद्यमी बोर्ड के माध्यम से लाह से निर्मित होने वाली वस्तुओं के निर्माण हेतु प्रशिक्षण प्रदान किया जायेगा. झारखंड में निर्मित वस्तुओं का निर्यात अन्य देशों में किया जायेगा.