Search

अरविंद केजरीवाल 16 फरवरी को लेंगे दिल्ली के मुख्यमंत्री पद की शपथ

दिल्ली के लोगों ने अरविंद केजरीवाल के बिजली, पानी, शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में किए गए कामों को लेकर पूरा समर्थन किया है. तीसरी बार विजय मिलने के बाद एक बार फिर आप के राष्ट्रीय विस्तार की चर्चा तेज हो गई है.

Feb 15, 2020 11:55 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

आम आदमी पार्टी (AAP) प्रमुख अरविंद केजरीवाल 16 फरवरी 2020 को रामलीला मैदान में तीसरी बार दिल्ली के मुख्यमंत्री के रूप शपथ ग्रहण करेंगे. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार अरविंद केजरीवाल रामलीला मैदान में पूरी कैबिनेट के साथ शपथ लेंगे.

आम आदमी पार्टी के नेता मनीष सिसोदिया के अनुसार, केजरीवाल को विधायक दल का नेता चुन लिया गया है. उन्होंने कहा कि विधायक दल की बैठक में अरविंद केजरीवाल को सर्वसम्मति से नेता चुना गया. गौरतलब है कि अरविंद केजरीवाल नई दिल्ली विधानसभा सीट से विधायक चुने गए हैं.

दिल्ली के लोगों ने अरविंद केजरीवाल के बिजली, पानी, शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में किए गए कामों को लेकर पूरा समर्थन किया है. तीसरी बार विजय मिलने के बाद एक बार फिर आप के राष्ट्रीय विस्तार की चर्चा तेज हो गई है.

अरविंद केजरीवाल एक भारतीय राजनीतिज्ञ, आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री हैं. अपने पहले कार्यकाल के दौरान वे 28 दिसम्बर 2013 से 14 फ़रवरी 2014 तक इस पद पर रहे. अरविंद केजरीवाल ने 02 अक्टूबर 2012 को अपने राजनीतिक सफर की औपचारिक शुरुआत कर दी थी.

दिल्ली विधानसभा चुनाव परिणाम 2020

दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 के नतीजों में सत्ताधारी आम आदमी पार्टी को जबरदस्त जीत हासिल हुई है. दिल्ली की 70 सीटों में से उसने 62 पर अपना कब्जा जमाया है. वहीं भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) को मात्र आठ सीटों पर ही जीत हासिल हुई. पिछली बार की विधानसभा चुनाव की तरह इस बार भी कांग्रेस का खाता नहीं खुला पाया. आम आदमी पार्टी (आप) को कुल पड़े वोटों का 53.6 प्रतिशत शेयर मिला जबकि बीजेपी को 38.5 प्रतिशत मत पड़े. कांग्रेस के हिस्से में मात्र 4.26 प्रतिशत वोट शेयर रहा.

पृष्ठभूमि

दिल्ली विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी ने साल 2015 में भी जबरदस्त जीत हासिल की थी. आप ने साल 2015 विधानसभा की 70 सीटों में से 67 सीटों पर जीत हासिल किया था. भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) महज 3 सीटों पर ही विजय पताका फहराने में कामयाब हो सकी थी. कांग्रेस साल 2015 के विधानसभा चुनाव में एक भी सिट पर जीत हासिल नहीं कर पाया था.

Download our Current Affairs & GK app For exam preparation

डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप एग्जाम की तैयारी के लिए

AndroidIOS