Search

BCCI ने राहुल द्रविड़ को दी बड़ी जिम्मेदारी, बनें नेशनल क्रिकेट एकेडमी का प्रमुख

राहुल द्रविड़ राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में क्रिकेट संबंधित सभी गतिविधियां देखेंगे और खिलाड़ियों, प्रशिक्षकों और सपोर्ट स्टाफ को कोचिंग, मेंटरिंग, ट्रेनिंग देने का काम करेंगे.

Jul 9, 2019 10:59 IST

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने 08 जुलाई 2019 को पूर्व भारतीय कप्तान राहुल द्रविड़ को बेंगलुरू स्थित राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (national cricket academy) का क्रिकेट प्रमुख नियुक्त किया हैं.

राहुल द्रविड़ राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में क्रिकेट संबंधित सभी गतिविधियां देखेंगे और खिलाड़ियों, प्रशिक्षकों और सपोर्ट स्टाफ को कोचिंग, मेंटरिंग, ट्रेनिंग देने का काम करेंगे.

बीसीसीआई के अनुसार, राहुल द्रविड़ भारत की पुरुष और महिला टीमों के प्रशिक्षकों के साथ भी काम करेंगे और साथ ही इंडिया-ए और अंडर-19, अंडर-23 टीमों के प्रशिक्षकों के साथ भी काम करेंगे. राहुल द्रविड़ को एनसीए में आने के अनुमान काफी समय से लग रहे थे जिस पर अब बीसीसीआई ने मुहर लगा दी है.

यह भी पढ़ें: विदेशी टी20 लीग खेलने वाले पहले भारतीय होंगे युवराज सिंह

अंडर-19 टीम के कोच

राहुल द्रविड़ संन्यास लेने के बाद से ही देश के युवा क्रिकेटरों को तराशने में लगे हैं. वे साल 2016 से अंडर-19 टीम के कोच हैं और उनके मार्गदर्शन में भारत ने दो बार लगातार अंडर-19 वर्ल्ड कप के फाइनल में जगह बनाई है. वे साल 2018 में टीम को खिताब दिलाने में भी सफल रहे थे.

आर्टिकल अच्छा लगा? तो वीडियो भी जरुर देखें!

राहुल द्रविड़ के मार्गदर्शन में मयंक अग्रवाल, कुलदीप यादव, श्रेयस अय्यर, पृथ्वी शॉ, ऋषभ पंत जैसे युवा खिलाड़ी निकल कर आए हैं. राहुल द्रविड़ को ये पद मिलने से भारतीय क्रिकेट का भविष्य और उज्ज्वल होगा.

भारतीय टीम के लिए 500 से ज्यादा अंतरराष्ट्रीय मैच खेल चुके राहुल द्रविड़ ने 24 हजार से ज्यादा अंतरराष्‍ट्रीय रन बनाए हैं. भारतीय टीम से रिटायरमेंट लेने के कुछ समय बाद ही उन्होंने कोचिंग करियर को अपनाया था, जिसमें वे सफल हुए.

राहुल द्रविड़ के बारे में:

•   राहुल द्रविड़ का जन्म 11 जनवरी 1973 को हुआ था.

•   वे भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान के रूप में अक्टूबर 2005 में नियुक्त किये गए थे और सितम्बर 2007 में उन्होंने अपने इस पद से इस्तीफा दे दिया था.

•   उन्होंने 16 साल तक भारत का प्रतिनिधित्व करते रहने के बाद मार्च 2012 में अंतरराष्ट्रीय और राष्ट्रीय क्रिकेट के सभी फॉर्मैट से सन्यास ले लिया था.

•   राहुल द्रविड़ को साल 2004 के उद्घाटन पुरस्कार समारोह में आईसीसी प्लेयर ऑफ़ द ईयर और वर्ष के टेस्ट प्लेयर के पुरस्कार से सम्मानित किया गया था.

•   वे सुनील गावस्कर और सचिन तेंदुलकर के बाद तीसरे ऐसे बल्लेबाज हैं जिन्होंने टेस्ट क्रिकेट में दस हज़ार से अधिक रन बनाये हैं. वे पहले और एकमात्र बल्लेबाज हैं जिन्होंने सभी 10 टेस्ट खेलने वाले राष्ट्र के विरुद्ध शतक बनाया है.

•   वर्तमान में 182 से अधिक कैच के साथ टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा कैच का रिकॉर्ड राहुल द्रविड़ के नाम है. उन्होंने 18 अलग-अलग भागीदारों के साथ 75 बार शतकीय साझेदारी की है, यह एक विश्व रिकॉर्ड है.

यह भी पढ़ें: ICC World Cup 2019: वनडे रैंकिंग में शीर्ष स्थान पर पहुंचा भारत

For Latest Current Affairs & GK, Click here