तमिलनाडु और पुडुचेरी में चक्रवात निवार का खतरा मंडराया, आज शाम बरपेगा इस तूफान का कहर

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एडप्पाडी के पलानीस्वामी ने 25 नवंबर को राज्यव्यापी सार्वजनिक अवकाश घोषित किया है, क्योंकि चक्रवात निवार आज देर शाम को कराईकल और ममल्लापुरम के बीच स्थित तमिलनाडु-पुडुचेरी तटों को पार कर सकता है.

Created On: Nov 25, 2020 11:43 ISTModified On: Nov 25, 2020 12:41 IST

आज 25 नवंबर, 2020 को तमिलनाडु और पुडुचेरी में चक्रवात निवार आने की उम्मीद है. अभी, यह चक्रवाती तूफान चेन्नई के तट से लगभग 450 किलोमीटर की दूरी के आस-पास स्थित है.

तमिलनाडु और पुडुचेरी की सरकारों ने निवार चक्रवात के मद्देनजर कई किस्म के प्रतिबंधों की घोषणा की है. तमिलनाडु राज्य और केंद्रशासित प्रदेश पुडुचेरी के कई हिस्सों में भारी बारिश की उम्मीद है. राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया (NDRF) बल ने भी सावधानी बरतने के बारे में जरुरी निर्देश जारी किये हैं, जबकि इसके कई कर्मी तटीय क्षेत्रों में सावधानीपूर्वक निगरानी कर रहे हैं.

NDRF के DG ने बताया कि, NDRF की 12 टीमों को तमिलनाडु में, 2 टीमों को पुडुचेरी में और 1 टीम को कराईकल में तैनात किया गया है. इसके अलावा, 3 टीमें नेल्लोर में, 3 विजाग में और 1 टीम चित्तूर में तैनात की गई है. कुल मिलाकर, NDRF की 22 टीमें जमीन पर उपलब्ध हैं और अन्य आठ टीमें स्टैंडबाय मॉड (बिलकुल तैयार) पर हैं. दोनों राज्यों के संवेदनशील क्षेत्रों में सहायता प्रदान करने के लिए कुल 30 टीमें प्रतिबद्ध हैं.

लैंडफॉल पॉइंट

आज अर्थात 25 नवंबर को चक्रवाती तूफान निवार महाबलीपुरम और कराईकल के बीच भारी तबाही मचा सकता है.

चक्रवात निवार के लिए तमिलनाडु राज्य ने क्या बचाव व्यवस्था की है?

  • तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एडप्पाडी के पलानीस्वामी ने 25 नवंबर को राज्यव्यापी सार्वजनिक अवकाश घोषित किया है, क्योंकि चक्रवात निवार आज देर शाम को कराईकल और ममल्लापुरम के बीच स्थित तमिलनाडु-पुडुचेरी तटों को पार कर सकता है.
  • तमिलनाडु के सात जिलों में सभी इंटर और इंट्रा-डिस्ट्रिक्ट बस सेवाओं और ट्रेनों की सेवाओं को कुछ समय पूर्व ही निलंबित कर दिया गया है.
  • भारतीय नौसेना ने यह सूचित किया है कि, INS ज्योति को HADR ब्रिक एंड डाइविंग टीमों के साथ तमिलनाडु और पुडुचेरी के तट पर तैनात किया गया है.

चक्रवात निवार के लिए पुडुचेरी में बचाव के क्या प्रबंध किये गये हैं?

  • इस चक्रवात से पुडुचेरी क्षेत्र के गंभीर रूप से प्रभावित होने की आशंका है और जनता के जीवन, स्वास्थ्य और सुरक्षा के लिए यह चक्रवात बहुत गंभीर खतरा उत्पन्न कर सकता है.
  • पुडुचेरी के जिलाधिकारी ने निवार चक्रवात के मद्देनजर पूरे पुडुचेरी क्षेत्र में 24 नवंबर की रात 9 बजे से 26 नवंबर को सुबह 6 बजे तक धारा 144 लगाने का आदेश दिया है.

भारत के अन्य राज्यों में, आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगनमोहन रेड्डी ने 24 नवंबर को चक्रवात निवार से बचाव के लिए चित्तूर, कडप्पा, कुरनूल, अनंतपुरमू, नेल्लोर और प्रकाशम जिलों के कलेक्टरों के साथ एक आभासी बैठक की.

पृष्ठभूमि

बंगाल की खाड़ी में एक गहरे निम्न दबाव ने बंगाल की खाड़ी के दक्षिण-पश्चिम में एक चक्रवाती तूफान, निवार को तेज कर दिया है. इसी चक्रवात के लिए भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) द्वारा अलर्ट जारी किया गया था. इसी तरह का एक गहरा निम्न दबाव अदन और सोमालिया की खाड़ी पर एक दबाव के तौर पर कमजोर हो गया है.

Take Weekly Tests on app for exam prep and compete with others. Download Current Affairs and GK app

एग्जाम की तैयारी के लिए ऐप पर वीकली टेस्ट लें और दूसरों के साथ प्रतिस्पर्धा करें। डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप

AndroidIOS
Comment ()

Related Stories

Post Comment

9 + 8 =
Post

Comments