दिल्ली बजट 2019-20: मुख्य घोषणाएं

Feb 26, 2019 15:00 IST

दिल्ली सरकार ने 26 फरवरी 2019 को वित्त वर्ष 2019-20 के लिए कुल 60,000 करोड़ रुपये का बजट पेश किया है. यह बजट वर्ष 2014-15 में पेश किए गए पहले बजट का दोगुना है. केजरीवाल सरकार ने एक बार फिर बजट का विशेष हिस्सा शिक्षा को दिया है.

वर्ष 2019-20 के लिए शिक्षा को कुल बजट का 26 प्रतिशत आवंटित किया गया है. बजट पेश करते हुए दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि यह बजट पुलवामा हमले में शहीद हुए जवानों को समर्पित किया गया है. सिसोदिया ने दिल्ली विधानसभा में बजट पेश करते हुए कहा, 2019-20 के लिए हमारी सरकार का कुल बजट 60,000 करोड़ रुपये का है जबकि वर्ष 2018-19 के लिए दिल्ली सरकार ने कुल 53,000 करोड़ रुपये का बजट पेश किया था.

दिल्ली बजट 2019-20

•    मनीष सिसोदिया ने बजट पेश करते हुए कहा कि 10वीं कक्षा में 80 प्रतिशत अंक लाने वाले छात्रों को कंप्यूजटर टेबलेट दिया जाएगा.

•    इसके साथ ही 40 हजार बच्चोंा को अंग्रेजी में बात करने की ट्रेनिंग दी जाएगी. इस बार शिक्षा का बजट 26 प्रतिशत रहेगा.

•    लगभग 3429 करोड़ रुपये समाज कल्याण के लिए आवंटित किये गये हैं.

•    अनाधिकृत कॉलोनियों के लिए 1600 करोड़ रुपये राशि रखी गई है जबकि 52 हजार नई आवासीय इकाईयां बनाई जायेंगी.

•    अब प्रति निर्वाचन क्षेत्र के लिए सालाना 4 की जगह 10 करोड़ दिए जायेंगे.

•    दिल्ली में तीन हज़ार नई बसें चलाई जायेंगी जबकि बस टर्मिनलों पर 150 करोड़ रुपये खर्च किये जायेंगे.

•    चौथे चरण की मेट्रो के लिए 500 करोड़ रुपये की राशि आवंटित की गई है.

•    सरकार ने एडवोकेट वेलफेयर फंड में 50 करोड़ रुपये दिए हैं. इसके तहत कानूनी पेश से जुड़े जरूरतमंद लोगों और परिवार के सदस्यों को सामाजिक सुरक्षा का लाभ मिलेगा.

•    किसानों को स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट के अनुसार उनके फसल के न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) का डेढ़ गुना दाम देने के लिए बजट में 100 करोड़ रुपये की राशि आवंटित की गई है.

शिक्षा क्षेत्र हेतु घोषणाएं


•    उपमुख्यमंत्री सिसोदिया ने बजट भाषण में घोषणा की कि दिल्ली के इंजीनियरिंग और पॉलिटेक्निक कॉलेजों में 13000 सीटें बढ़ाई जाएंगी. इसके लिए इस वर्ष 527 करोड़ रुपए आवंटित किए गये हैं.

•    एंटरप्रेन्योर करिकुलम के तहत 11वीं और 12वीं कक्षा के छात्रों को 1,000 रुपये तथा तकनीकी शिक्षा के छात्रों को 5,000 रुपये दिए जायेंगे ताकि वे अपने बिज़नेस प्लान में इसे लगा सकें.

•    मौलाना आज़ाद मेडिकल डेंटल कॉलेज में सुविधाएं बढ़ाई जायेंगी.

•    सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को अंग्रेजी में बोलने का प्रशिक्षण दिया जायेगा. जबकि 10वीं में 80% से ज्यादा अंक लाने वाले छात्रों को टेबलेट दी जाएगी.

•    मौजूदा बजट में दिल्ली के पॉलिटेक्निक और इंजीनियरिंग कॉलेज में 13,000 सीटों को जोड़ा जाएगा, इसके लिए सरकार 527 करोड़ रुपये का आवंटन करेगी.

जलापूर्ति के लिए घोषणाएं

•    दिल्ली में भूजल में सुधार के लिए 100 करोड़ रुपये दिए गये हैं. साथ ही कहा गया है कि 100 वर्ग या इससे बड़े प्लाट पर रेन वाटर हार्वेस्टिंग अनिवार्य होगा.

•    द्वारका में 50 एमजीडी का नया संयंत्र बनाया जायेगा जबकि 345 अनाधिकृत कॉलोनियों में सीवर सुविधा दी जाएगी.

•    यमुना जीर्णोद्धार के लिए 75 करोड़ का प्रावधान किया गया है. इसके अतिरिक्त 2370 करोड़ रुपये का बजट जल बोर्ड की योजनाओं के लिए रखा गया है.


यह भी पढ़ें: भारतीय सेना का पराक्रम, पाकिस्तान पर दूसरी सर्जिकल स्ट्राइक

Is this article important for exams ? Yes

Register to get FREE updates

    All Fields Mandatory
  • (Ex:9123456789)
  • Please Select Your Interest
  • Please specify

  • ajax-loader
  • A verifcation code has been sent to
    your mobile number

    Please enter the verification code below