गूगल ने एचटीसी स्मार्टफोन कारोबार 1.1 अरब डॉलर में खरीदने की घोषणा की

गूगल और एचटीसी की डील में एचटीसी के इंट्लेक्चुअल प्रॉपर्टी का लाइसेंस भी सम्मिलित है. गूगल और एचटीसी पहले भी साथ- साथ काम करते रहे हैं और गूगल का पहला नेक्सस डिवाइस एचटीसी ने ही बनाया.

Created On: Sep 22, 2017 10:50 ISTModified On: Sep 22, 2017 11:07 IST

तकनीकी क्षेत्र की कंपनी गूगल ने ताइवान की कंपनी एचटीसी के स्मार्टफोन कारोबार को 1.1 अरब डॉलर में खरीदने का निर्णय किया. गूगल पिछले कई वर्षों से लगातार हार्डवेयर डिविजन पर काम कर रहा है और इसका बेहतरीन उदाहरण पिछले साल लॉन्च किया गया पिक्सेल और पिक्सेल एक्सएल स्मार्टफोन है.

गूगल और एचटीसी की डील में एचटीसी के इंट्लेक्चुअल प्रॉपर्टी का लाइसेंस भी सम्मिलित है. गूगल और एचटीसी पहले भी साथ- साथ काम करते रहे हैं और गूगल का पहला नेक्सस डिवाइस एचटीसी ने ही बनाया.

पर्यटन मंत्रालय द्वारा वित्तपोषित दूसरा विस्टाडोम कोच रेलवे में शामिल


एचटीसी के सीएफओ पीटर शेन के अनुसार इस डील के बाद भी एचटीसी के पास 2 हजार से ज्यादा रिसर्च और डिजाइन स्टाफ रहेंगे. एचटीसी अपने ब्रांड के साथ आगे भी काम करती रहेगी. ब्लैकबेरी भी एचटीसी का था, जो बंद हो गया. एचटीसी के सीईओ शीर वांग के बयान के अनुसार गूगल के साथ समझौता एचटीसी स्मार्टफोन्स और वाइव वर्चुअल रियलिटी बिजनेस में इनोवेशन को सुनिश्चित करेगा.

CA eBook

गूगल ने पूर्व में भी मोबाइल बिजनेस में काम किया. इसके लिए कंपनी ने 2011 में मोटोरोला मोबिलिटी को लगभग 12.5 बिलियन डॉलर में खरीदा और कुछ स्मार्टफोन लॉन्च भी किए. बाद में मोटोरोला वापस लेनोवो द्वारा खरीद ली गई.

गूगल और एचटीसी के समझौते से स्मार्टफोन इंडस्ट्री प्रभावित होगी. एचटीसी स्मार्टफोन की टीम अब गूगल के पास होगी और ये अब मिलकर सैमसंग और ऐपल को टक्कर दे सकते हैं. ऐपल की तरह गूगल भी अपना खुद का प्रोसेसर तैयार कर रहा है.

मंत्रिमंडल ने दंतचिकित्‍सक (संशोधन) विधेयक, 2017 को मंजूरी प्रदान की


वर्तमान में गूगल अपने पिक्सल स्मार्टफोन हेतु दूसरी कंपनियों के साथ समझौता करता है और हार्डवेयर वही कंपनियां बनाती हैं. गूगल के प्रोससेर पिक्सल स्मार्टोन्स में क्वॉल्कॉम के होते हैं.

दोनों कंपनियों के अनुसार समझौते की परिधि में गूगल के पिक्सल स्मार्टफोन हेतु काम करने वाले एचटीसी के कर्मचारी और बौद्धिक संपदा अधिकार शामिल हैं. एचटीसी को इसके लिए गूगल से 1.1 अरब डॉलर की नकद राशि मिलेगी. एचटीसी के बौद्धिक संपदा अधिकारों के लिए गैर विशिष्ट लाइसेंस भी प्रदान लिया जाएगा.

इस समझौते से एचटीसी को अपने पोर्टफोलियो को तर्कसंगत बनाने, परिचालन क्षमता को बेहतर करने और वित्तीय लचीलापन मिलेगा. गूगल का यह निवेश इस बात का द्योतक है कि ताइवान एक नवोन्मेषी और तकनीकी केंद्र की दृष्टि से महत्वपूर्ण है.

एचटीसी-
ताइवान की कंपनी एचटीसी का गठन 1997 में पहले लैपटॉप निर्माता कंपनी के तौर पर हुआ. बाद में एचटीसी स्मार्टफोन निर्माण के काम से जुड़ गई. शुरुआत में कंपनी विंडोज मोबाइल पर आधारित स्मार्टफोन बनाती थी.
उसने अपना पहला एंड्रॉयड स्मार्टफोन एचटीसी ड्रीम को 2008 में लॉन्च किया. एचटीसी ने टैबलेट मार्केट में गूगल नेक्सस 9 के जरिए 2014 में पुन: प्रवेश किया.

 

Take Weekly Tests on app for exam prep and compete with others. Download Current Affairs and GK app

एग्जाम की तैयारी के लिए ऐप पर वीकली टेस्ट लें और दूसरों के साथ प्रतिस्पर्धा करें। डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप

AndroidIOS
Comment ()

Post Comment

2 + 3 =
Post

Comments