Search

बहुमत की दौड़

कुल सीट - 542
  • पार्टीसीट (जीते+आगे)बहुमत से आगे/पीछे

    बहुमत 272

गोपी थोनाकाल ने एशियन मैराथन चैंपियनशिप ख़िताब जीता

इससे पूर्व दो महिला खिलाड़ियों ने एशियन मैराथन में स्वर्ण पदक जीता है जबकि गोपी पहले पुरुष खिलाड़ी हैं जिन्होंने यह उपलब्धि हासिल की.

Nov 27, 2017 09:29 IST

गोपी थोनाकल ने 26 नवम्बर 2017 को एशियाई मैराथन चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीता. यह ख़िताब जीतने वाले वह पहले भारतीय पुरुष एथलीट हैं.

गोपी थोनाकल ने दो घंटे 15 मिनट और 48 सेकेंड का समय निकालते हुए इस प्रतियोगिता का स्वर्ण पदक जीता. उज्बेकिस्तान के आंद्रे पेत्रोव ने दो घंटे 15 मिनट और 51 सेकेंड के साथ रजत पदक जीता. तीसरे स्थान के लिए मंगोलिया के ब्यमबालेव सीवेनरावदान दो घंटे 16 मिनट और 14 सेकेंड के समय के साथ कांस्य पदक जीतने में सफल रहे.

इससे पूर्व दो महिला खिलाड़ियों ने एशियन मैराथन में स्वर्ण पदक जीता है जबकि गोपी पहले पुरुष खिलाड़ी हैं जिन्होंने यह उपलब्धि हासिल की. उनसे पहले भारतीय महिला एथलीट आशा अग्रवाल (1985) और सुनीता गोदरा (1992) ने एशियन मैराथन में स्वर्ण पदक हासिल किया था. गौरतलब है कि गोपी ने इस वर्ष नई दिल्ली मैराथन में भी खिताबी जीत हासिल की थी.

यह भी पढ़ें: भारतीय पहलवान संदीप यादव पर चार साल का प्रतिबंध लगा

एशियन मैराथन चैंपियनशिप

एशियाई मैराथन चैंपियनशिप एक अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता है जिसे वर्ष में दो बार एथलीटों के लिए आयोजित किया जाता है. इसका आयोजन एशियन एथलेटिक्स एसोसिएशन द्वारा किया जाता है. इसकी स्थापना 1988 में हुई थी. इसका पहला आयोजन जापान में किया गया था.

इस प्रतियोगिता में पूर्वी एशिया के खिलाड़ी सबसे अधिक बार ख़िताब जीत चुके हैं, उन्होंने अब तक पुरुषों के नौ तथा महिलाओं के चार ख़िताब प्राप्त किये हैं. चीन, दक्षिण कोरिया एवं उत्तर कोरिया ने महिला एवं पुरुषों की दौड़ में चार-चार ख़िताब जीते हैं. उत्तर कोरिया की किम कुम धावक इस प्रतियोगिता के इतिहास की सबसे सफलतम खिलाड़ी हैं. उन्होंने वर्ष 2006,  2008 और 2013 में स्वर्ण पदक जीते हैं.

यह भी पढ़ें: मुंबई क्रिकेट टीम 500 रणजी मैच खेलने वाली पहली टीम बनी