Search

वैश्विक भ्रष्टाचार धारणा सूचकांक में भारत 78वें रैंक पर

वैश्विक भ्रष्टाचार सूचकांक, 2018 में भारत की रैंकिंग में सुधार हुआ है. भ्रष्टाचार-निरोधक संगठन द्वारा जारी वार्षिक सूचकांक के मुताबिक इस सूची में चीन काफी पीछे छूट गया है.

Jan 30, 2019 17:45 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल द्वारा जारी किए गए 'वैश्विक भ्रष्टाचार धारणा सूचकांक' में भारत को 78वें पर रखा है. एशिया प्रशांत क्षेत्र में भ्रष्टाचार और प्रेस स्वतंत्रता के मामले में सबसे खराब स्थिति वाले मामले में देश का नाम रखा गया.

वैश्विक भ्रष्टाचार सूचकांक, 2018 में भारत की रैंकिंग में सुधार हुआ है. भ्रष्टाचार-निरोधक संगठन द्वारा जारी वार्षिक सूचकांक के मुताबिक इस सूची में चीन काफी पीछे छूट गया है.

भ्रष्टाचार धारणा सूचकांक में भारत:

भ्रष्टाचार धारणा सूचकांक 2018 के अनुसार, भारत ने 41 अंक हासिल कर 180 देशों में 78वां स्थान हासिल किया है. जबकि वर्ष 2017 के सूचकांक में वह 40 अंक के साथ 81वें स्थान पर था. इससे पहले वर्ष 2016 में भारत इस सूचकांक में 79वें स्थान पर था.

सूचकांक के बारे में:

इस सूचकांक में सार्वजनिक क्षेत्र के भ्रष्टाचार के मामलों को लेकर 180 देशों को रखा गया था.सूचकांक 0 से 100 के पैमाने का उपयोग करता है, जहां 0 अत्यधिक भ्रष्ट को दिखाता है वहीं नंबर 100 बहुत भ्रष्टाचारमुक्त को बताता है.

 

रिपोर्ट: मुख्य तथ्य

   इस सूचकांक में 39 अंकों के साथ चीन 87 वें स्‍थान पर, 38 अंक के साथ श्रीलंका और इंडोनेशिया 89 वें स्‍थान, 35 अंकों के साथ 105 वें स्‍थान पर, 33 अंकों के साथ पाकिस्‍तान 117 वें स्‍थान पर, 31 अंकों के साथ नेपाल और मालदीव 124 वें स्‍थान पर, 29 अंकों के साथ म्‍यांमार 132 वें स्थान पर है.

   रिपोर्ट के अनुसार,  इस सूची 28 अंकों के साथ ईरान, मैक्सिको और रूस 138 वें स्‍थान पर, 26 अंकों के साथ बांग्‍लोदश 149 वें स्‍थान पर, 18 अंकों के साथ बेनेजुएला और इराक 168 वें स्‍थान पर, 16 अंक के साथ अफगानिस्‍तान 172 स्‍थान पर, 14 अंकों के साथ उत्‍तर कोरिया 176 वें स्‍थान पर है.

   सूचकांक के अनुसार सबसे भ्रष्ट देश सोमालिया है, सोमालिया के बाद दक्षिणी सूडान और सीरीया को सबसे भ्रष्ट बताया गया है.

•   रिपोर्ट के अनुसार, दुनिया में डेनमार्क में सबसे कम भ्रष्टाचार है. डेनमार्क को सबसे बेहतर रैंक दी गई है. उसे 88 अंक दिये गये हैं.

   डेनमार्क के बाद न्यूजीलैंड, फिनलैंड, सिंगापुर, स्वीडन और स्विटजरलैंड सूचकांक के अनुसार सबसे कम भ्रष्ट देश हैं.

   इस सूचकांक में सबसे चौकाने वाली बात यह है कि वर्ष 2011 के बाद पहली बार अमेरिका शीर्ष 20 सबसे कम भ्रष्ट देशों की सूची से बाहर हो गया है. अमेरिका खिसककर 22 वें स्थान पर पहुंच गया है.

भ्रष्टाचार धारणा सूचकांक 2018 में शीर्ष 10 देश

स्थान

देश

1

डेनमार्क

2

न्यूजीलैंड

3

फिनलैंड

3

सिंगापुर

3

स्वीडन

3

स्विटजरलैंड

7

नॉर्वे

8

नीदरलैंड

9

कनाडा

9

लक्ज़मबर्ग

 

निष्कर्ष:

इन परिणामों से ये भी निकल कर आया कि प्रेस और गैर-सरकारी संगठनों (एनजीओ) की कम सुरक्षा वाले देशों में भ्रष्टाचार की स्थिति सबसे बुरी है.

 

यह भी पढ़ें: वेनेज़ुएला संकट: विश्व में उभरती नई समस्या, जानिए कैसे?