Search

भारतीय मुक्केबाज सरिता देवी एआईबीए की पहली एथलीट आयोग में चुनी गईं

एशियाई चैम्पियनशिप में पांच स्वर्ण पदक सहित आठ पदक जीतने वाली सरिता देवी भारतीय मुक्केबाजी संघ में खिलाड़ियों का प्रतिनिधित्व करती है.

Nov 18, 2019 15:02 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

प्रसिद्ध भारतीय मुक्केबाज सरिता देवी हाल ही में निर्विरोध तरीके से अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाजी महासंघ (एआईबीए) के पहली एथलीट आयोग में चुनी गयी. वे एशियाई संघ का प्रतिनिधित्व करेंगी. अनुभवी मुक्केबाज उन छह मुक्केबाजों में शामिल थे, जिन्हें पांच महाद्वीपों से आयोग के सदस्यों के रूप में चुना गया था.

इस आयोग में पांच क्षेत्रीय संघों एशिया, ओसनिया, यूरोप, अमेरिका और यूरोप से एक महिला और एक पुरुष मुक्केबाज को चुना गया है. एशियाई चैम्पियनशिप में पांच स्वर्ण पदक सहित आठ पदक जीतने वाली सरिता देवी भारतीय मुक्केबाजी संघ में खिलाड़ियों का प्रतिनिधित्व करती है.

भारतीय मुक्केबाजी महासंघ ने विश्व संस्था में इस पद हेतु उनका नाम चुना था. एआईबीए एथलीट आयोग पहली बार विश्व चैम्पियनशिप के दौरान मतदान के जरिये बनाया जायेगा. सरिता देवी इस पद हेतु क्षेत्र से इकलौती उम्मीद्वार है.

एक मतदान प्रक्रिया के माध्यम से नए सदस्यों को चुना गया था जिसमें विश्वभर के मुक्केबाजों ने भाग लिया था. यूरोप के मामले को छोड़कर, एक सदस्य प्रति महाद्वीप चुना गया, जिसमें दो निर्वाचित प्रतिनिधि हैं.

एआईबीए एथलीट आयोग

एआईबीए एथलीट आयोग पहली बार विश्व चैम्पियनशिप के दौरान मतदान के जरिए बनाया जायेगा. एथलीट आयोग उन सुधारों का भाग हैं जिनकी अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति ने एआईबीए हेतु सिफारिश की थी. यह फैसला एआईबीए में प्रशासनिक और वित्तीय अनियमितताओं के आरोपों के वजह से लिया गया है.

एथलीटों आयोग के सदस्यों के कर्तव्य क्या होंगे?

एआईबीए एथलीटों आयोग के सदस्यों को खेल के लिए नियमों और परियोजनाओं के निर्माण में अधिक पारदर्शिता और समन्वय सुनिश्चित करने हेतु एआईबीए और मुक्केबाजों के बीच एक सेतु के रूप में कार्य करना आवश्यक होगा. एथलीटों आयोग के सदस्यों को भी आईओसी के साथ मिलकर काम करने की उम्मीद होगी.

यह भी पढ़ें:रोहित शर्मा ने रचा इतिहास, 100 अंतरराष्ट्रीय टी-20 खेलने वाले पहले भारतीय पुरुष क्रिकेटर बने

पृष्ठभूमि

अंतरराष्ट्रीय ओलम्पिक समिति (आईओसी) एक अंतरराष्ट्रीय समिति है. इसका मुख्यालय स्विट्जरलैण्ड के लॉज़ेन में स्थित है. वर्तमान समय में विश्व की कुल 205 राष्ट्रीय ओलम्पिक समितिया (एनओसी) इसकी सदस्य हैं. आईओसी ने एआईबीए को साल 2020 टोक्यो ओलंपिक हेतु क्वालीफायर आयोजित करने से रोक दिया है.

सरिता देवी साल 2000 में एक पेशेवर मुक्केबाज बन गई थीं. वे मणिपुर पुलिस में डीएसपी हैं. सरिता देवी आठ बार की एशियाई चैम्पियनशिप पदक विजेता हैं, जिसमें पाँच स्वर्ण पदक शामिल हैं. उन्हें साल 2009 में अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया गया था.

वे वर्तमान में भारतीय मुक्केबाजी महासंघ (बॉक्सिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया) की कार्यकारी समिति में एक एथलीट प्रतिनिधि हैं. महासंघ ने उन्हें विश्व मुक्केबाजी निकाय में स्थान के लिए नामित किया है.

यह भी पढ़ें:मनु भाकर ने दोहा में एशियन चैम्पियनशिप में जीता स्वर्ण पदक

यह भी पढ़ें:विराट कोहली का रिकॉर्ड टूटा, शुभमन गिल ने रचा इतिहास

Download our Current Affairs & GK app For exam preparation

डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप एग्जाम की तैयारी के लिए

AndroidIOS