Search

श्री रामायण एक्समप्रेस: जानिए ट्रेन से जुड़ी खास बातें

आईआरसीटीसी के मुताबिक बुकिंग पूरी तरह से पहले आओ पहले पाओ के अनुसार होगी. श्री रामायण एक्सप्रेस में दस कोच होंगे जिसमें पांच स्लीपर क्लास के गैर-वातानूकूलित कोच और पांच एसी के 3-टीयर कोच होंगे. 

Feb 20, 2020 15:43 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

भगवान राम से जुड़े स्थलों की तीर्थ यात्रा पर जाने के इच्छुक लोगों हेतु रेलवे 28 मार्च से विशेष पर्यटक ट्रेन चलाएगा. भारतीय रेलवे खानपान एवं पर्यटन निगम (आईआरसीटीसी) ने हाल ही में 28 मार्च से एक विशेष ट्रेन 'श्री रामायण एक्सप्रेस' चलाने की घोषणा की है.

'श्री रामायण एक्सप्रेस' में दस कोच होंगे जिसमें पांच स्लीपर क्लास के गैर-वातानूकूलित कोच और पांच एसी के 3-टीयर कोच होंगे. यह ट्रेन भगवान राम से जुड़े सभी तीर्थ स्थलों को कवर करेगी. आईआरसीटीसी के मुताबिक बुकिंग पूरी तरह से पहले आओ पहले पाओ के अनुसार होगी. यह ट्रेन 28 मार्च 2020 को सफदरजंग रेलवे स्टेशन (नई दिल्ली) से अपनी यात्रा शुरू करेगी.

श्री रामायण एक्सप्रेस का रूट

‘श्री रामायण एक्‍सप्रेस' की यात्रा में अयोध्या में राम जन्मभूमि तथा हनुमान गढ़ी, नंदीग्राम में भारत मंदिर, सीतामढ़ी (बिहार) में सीता माता मंदिर, जनकपुर (नेपाल), वाराणसी में तुलसी मानस मंदिर और संकट मोचन मंदिर, सीतामढ़ी (उत्तर प्रदेश) में सीतामढ़ी स्थल, प्रयाग में त्रिवेणी संगम, हनुमान मंदिर और भारद्वाज आश्रम, श्रृंगवेरपुर में श्रृंगी ऋषि मंदिर, चित्रकूट में रामघाट और सती अनुसुइया मंदिर, नासिक में पंचवटी, हंपी में अंजनाद्री हिल एवं रामेश्वरम में ज्योतिर्लिंग शिव मंदिर शामिल हैं.

भारत का रामायण सर्किट

इस ट्रेन की 16 रातों-17 दिनों की यात्रा में यात्री भगवान राम से जुड़े तमाम पर्यटन स्थलों का दौरा करेंगे जिन्हें 'भारत का रामायण सर्किट' भी कहा जाता है. इस यात्रा के लिए इच्छुक पर्यटक दिल्ली से सफदरजंग, गाजियाबाद, मुरादाबाद, बरेली और लखनऊ से ट्रेन में चढ़ सकते हैं.

सुविधाएं

इस टूर में यात्रियों को पूरी तरह से शुद्ध शाकाहारी भोजन और आवास प्रदान प्रदान की जाएगी. इस टूर में यात्रियों को होटल, धर्मशाला और स्थानीय सफर के लिए बस सेवा भी मिलेगी. यात्रियों को सुबह की चाय, कॉफी भी दी जाएगी. इस टूर में यात्रियों को सुबह का नाश्ता, दोपहर का खाना और डिनर दिया जाएगा.

प्रति व्यक्ति किराया

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, इसका किराया स्‍लीपर क्लास में प्रति व्‍यक्ति 16,065 रुपये होगा, जबकि वातानुकूलित श्रेणी में प्रति व्यक्ति किराया 26,775 रुपये होगा. इस यात्रा के अंतर्गत इच्‍छुक पर्यटक श्रीलंका में भगवान राम से जुड़े पर्यटन स्‍थलों का भी दौरा कर सकते हैं. अगर यात्री श्रीलंका जाना चाहते हैं तो उन्हें अतिरिक्त शुल्क देना होगा. यात्री चेन्नई से कोलंबो के लिए उड़ान भर सकते हैं. श्रीलंका में 'रामायण सर्किट' के दर्शन के इच्‍छुक पर्यटकों से प्रति व्यक्ति 37,800 रुपये का अतिरिक्त शुल्क लिया जाएगा.

यह भी पढ़ें:Vande Bharat Express के परिचालन का एक साल पूरा, जानें इसकी खासियत

यह भी पढ़ें:प्रधानमंत्री मोदी ने Mahakal Express को दिखाई हरी झंडी, जानिए ट्रेन का किराया और खास फीचर्स

Download our Current Affairs & GK app For exam preparation

डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप एग्जाम की तैयारी के लिए

AndroidIOS