आईसीसी हॉल ऑफ फेम में शामिल हुए 10 क्रिकेटर, देखें पूरी लिस्ट

इन दस खिलाड़ियों के शामिल होने के साथ ही इस प्रतिष्ठित सूची में शामिल होने वाले क्रिकेटरों की संख्या 103 हो जाएगी. भारत के लेफ्ट आर्म स्पिनर वीनू  मांकड़ को इसमें जगह दी गई है. 

Created On: Jun 15, 2021 09:28 ISTModified On: Jun 15, 2021 09:28 IST

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आइसीसी) ने 13 जून 2021 को आईसीसी हॉल ऑफ फेम का घोषणा किया है. आईसीसी ने 13 जून को वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप से पहले आईसीसी हॉल ऑफ फेम में 10 खिलाड़ियों को शामिल किया. इन दस क्रिकेटरों ने टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में अभूतपूर्व योगदान दिया है.

इन दस खिलाड़ियों के शामिल होने के साथ ही इस प्रतिष्ठित सूची में शामिल होने वाले क्रिकेटरों की संख्या 103 हो जाएगी. भारत के लेफ्ट आर्म स्पिनर वीनू  मांकड़ को इसमें जगह दी गई है. इसमें पांच युगों के 10 खिलाड़ियों को शामिल किया गया है.

7वें भारतीय खिलाड़ी

वीनू माकंड हॉल ऑफ फेम में शामिल होने वाले 7वें भारतीय खिलाड़ी बन गये हैं. इससे पहले हॉल ऑफ फेम में भारत के दिग्गज खिलाड़ी बिशन सिंह बेदी, कपिल देव, सुनील गावस्कर, अनिल कुंबले, राहुल द्रविड़ और सचिन तेंदुलकर को शामिल किया जा चुका है.

शामिल लोगों की कुल संख्या 103

आईसीसी से जारी बयान के अनुसार, इसमें शामिल किए जाने वाले खेल के 10 दिग्गजों ने टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में अहम योगदान दिया है और आईसीसी हॉल ऑफ फेम की शानदार सूची में शामिल हो गए हैं. इसमें शामिल लोगों की कुल संख्या 103 हो गई है.

देखें पूरी लिस्ट

आईसीसी हॉल ऑफ फेम में 5 अलग-अलग समय के दिग्गज खिलाड़ियों को शामिल किया गया है. इसमें प्रारंभिक युग (1918 से पहले) के लिए दक्षिण अफ्रीका के ऑब्रे फॉल्कनर और ऑस्ट्रेलिया के मोंटी नोबल को शामिल किया गया.

विश्व युद्ध के बीच के समय के लिए (1918-1945) वेस्टइंडीज के सर लीरी कॉन्सटेंटाइन और ऑस्ट्रेलिया के स्टेन मैककेबे को चुना गया है.

विश्व युद्ध के बाद के युग (1946 -1970) के लिए इंग्लैंड के टेड डेक्सटर और भारत के वीनू मांकड़ को शामिल किया गया.

वन-डे युग (1971-1995) के लिए वेस्टइंडीज के डेसमंड हेन्स और इंग्लैंड के बॉब विलिस को हॉल ऑफ फेम में शामिल किया गया.

आधुनिक युग (1996-2016) के लिए जिम्बाब्वे के एंडी फ्लावर और श्रीलंका के कुमार संगकारा को हॉल ऑफ फेम में जगह दी गयी.

वीनू माकंड का क्रिकेट करियर: एक नजर में

वीनू माकंड भारत के महान ऑलराउंडरों में गिने जाते हैं. उन्होंने भारत के लिए 44 टेस्ट खेले, जिसमें 31.47 के औसत से 2109 रन बनाये और 32.32 के औसत से 162 विकेट भी लिये. साल 1952 में इंग्लैंड के खिलाफ वीनू माकंड ने बेहतरीन प्रदर्शन किया था. उस मैच में उन्होंने पहली पारी में 72 और दूसरी पारी में शानदार 184 रन बनाये थे.

वीनू माकंड ने महान बल्लेबाज सुनील गावस्कर को भी कोचिंग दी थी. उन्होंने 233 प्रथम श्रेणी मैचों में 34.70 की औसत से 26 शतक और 52 अर्द्धशतक सहित 11,591 रन और गेंदबाज़ी में 24.53 के शानदार औसत से 782 विकेट भी लिए. वीनू माकंड का जन्म 12 अप्रैल 1917 को जामनगर, गुजरात में हुआ था. उनका वास्तविक नाम मूलवंतराय हिम्मतलाल मांकड़ था.

Take Weekly Tests on app for exam prep and compete with others. Download Current Affairs and GK app

एग्जाम की तैयारी के लिए ऐप पर वीकली टेस्ट लें और दूसरों के साथ प्रतिस्पर्धा करें। डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप

AndroidIOS
Comment ()

Related Stories

Post Comment

3 + 9 =
Post

Comments