Search

इजरायल में प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू की अगुवाई में नई सरकार ने ली शपथ, जानें विस्तार से

इजरायली संसद में नई सरकार के विश्वास मत के दौरान पक्ष में 73 वोट पड़े, जबकि विरोध में 46 वोट पड़े. चुनावों में स्पष्ट बहुमत नहीं मिलने पर बेंजामिन नेतन्याहू ने प्रतिद्वंद्वी से साथी बने ब्लू एंड व्हाइट पार्टी के बेनी गेंट्ज के साथ मिलकर सरकार बनाई है.

May 19, 2020 10:57 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

इजरायल में 17 मई 2020 को प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के नेतृत्व में नई सरकार ने शपथ ले ली. इजराइल में एक साल में हुए तीन चुनाव के बाद बेंजामिन नेतन्याहू ने गठबंधन सरकार में प्रधानमंत्री पद की शपथ ली. इसके साथ ही देश में 500 दिनों से जारी राजनीतिक संकट खत्म हो गया. एक के बाद एक हुए तीन चुनावों में किसी को स्पष्ट बहुमत नहीं मिला था.

पूर्व सेना प्रमुख बेनी गेंट्ज और बेंजामिन नेतन्याहू 18-18 महीने के लिए प्रधानमंत्री रहेंगे. बेंजामिन नेतन्याहू पहले 14 मई को शपथ लेने वाले थे. लेकिन, उनकी पार्टी के कुछ सांसद मंत्रिमंडल में मिलने वाले मंत्रालयों से संतुष्ट नहीं थे. इसी कारण से 14 मई को होने वाला शपथ ग्रहण समारोह टल गया था.

प्रधानमंत्री मोदी ने बधाई दी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बेंजामिन नेतन्याहू को सरकार के गठन पर बधाई दी है. प्रधानमंत्री मोदी ने हिब्रू और अंग्रेजी भाषा में ट्विटर पर लिखे संदेश में कहा कि मेरे मित्र बेंजामिन नेतन्याहू को इजरायल में पांचवीं बार सरकार बनाने के लिए बधाई. मैं आपको और बेनी गेंट्ज को शुभकामनाएं देता हूं एवं भारत-इजरायल की रणनीतिक साझेदारी और मजबूत करने के लिए आपकी सरकार के साथ मिलकर काम करने हेतु आशान्वित हूं.

पक्ष में 73 वोट और विरोध में 46 वोट

इजरायली संसद में नई सरकार के विश्वास मत के दौरान पक्ष में 73 वोट पड़े, जबकि विरोध में 46 वोट पड़े. चुनावों में स्पष्ट बहुमत नहीं मिलने पर बेंजामिन नेतन्याहू ने प्रतिद्वंद्वी से साथी बने ब्लू एंड व्हाइट पार्टी के बेनी गेंट्ज के साथ मिलकर सरकार बनाई है.

18 महीने बाद पद छोड़ेंगे बेंजामिन नेतन्‍याहू

समझौते के तहत नई सरकार में 18 महीने बाद बेंजामिन नेतन्याहू पद छोड़ देंगे और 17 नवंबर 2021 को गेंट्ज प्रधानमंत्री का पद संभालेंगे. बेंजामिन नेतन्याहू की लिकुड पार्टी के यारिव लेविन को नया अध्यक्ष चुना गया है.

सबसे ज्यादा समय तक रहे प्रधानमंत्री

बेंजामिन नेतन्याहू ने जुलाई 2019 में डेविड बेन गुरियन को पीछे छोड़ते हुए इजरायल के सबसे ज्यादा समय तक प्रधानमंत्री रहने की उपलब्धि हासिल की थी. बेंजामिन नेतन्याहू 1996 में पहली बार इजराइल के प्रधानमंत्री बने थे. साल 2005 में नेतन्याहू लिकुड पार्टी के  अध्यक्ष बने और फिर साल 2009 में दोबारा प्रधानमंत्री बने. बेंजामिन नेतन्याहू पर इस समय इजराइल में रिश्वत, भ्रष्टाचार, धोखाधड़ी और विश्वास तोड़ने के आरोप में मुकदमा चल रहा है. बेंजामिन नेतन्याहू ने पांचवीं बार इजराइल के प्रधानमंत्री का पद संभाला है.

राजनैतिक करियर की शुरुआत

बेंजामिन नेतन्याहू ने अपने राजनैतिक करियर की शुरुआत साल 1988 में लिकुड पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़कर की. इस चुनाव में उन्हें जीत हासिल हुई और वह इजरायली संसद नेसेट के सदस्य बने. उनकी राजनीतिक महत्वकांक्षा को देखते हुए सरकार में उन्हें उप विदेश मंत्री का पद दिया गया था.

Download our Current Affairs & GK app For exam preparation

डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप एग्जाम की तैयारी के लिए

AndroidIOS