Search

झारखंड विधानसभा चुनाव रिजल्ट 2019: जेएमएम गठबंधन को 47 सीटें, बीजेपी को 25

राज्य में झारखंड मुक्ति मोर्चा (जेएमएम ) के नेतृत्व में बने झामुमो-कांग्रेस-राजद गठबंधन ने 47 सीटें जीत कर स्पष्ट बहुमत प्राप्त कर लिया है. झामुमो नेता हेमंत सोरेन ने 27 दिसंबर 2019 को मोरहाबादी मैदान में नयी सरकार के शपथग्रहण की घोषणा की है.

Dec 24, 2019 10:57 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

चुनाव आयोग ने हाल ही में झारखंड विधानसभा चुनाव के अंतिम परिणाम जारी कर दिए हैं. इसमें झारखंड मुक्ति मोर्चा (जेएमएम ) को 30, कांग्रेस को 16 और आरजेडी को 1 सीट मिली है. वहीं, राज्य में दूसरी सबसे बड़ी पार्टी बनी बीजेपी 25 सीटों पर विजय हुई. जेवीएम (प्रजातांत्रिक) को 3, आजसू को 2 और कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया (मार्क्ससिस्ट-लेनिनिस्ट) (लिबरेशन) को 1 सीट मिली है.

जेएमएम के नेता हेमंत सोरेन ने 27 दिसंबर 2019 को मोरहाबादी मैदान में नई सरकार के शपथग्रहण की घोषणा की है. सत्ताधारी भाजपा के मुख्यमंत्री रघुवर दास और पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुवा चुनाव हार गये हैं. भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) को सिर्फ 25 सीटें हासिल हुई.

झारखंड विधानसभा की 81 सीटों हेतु वोटों की गिनती 23 दिसम्बर 2019 को शुरू हुई थी. इससे पहले बीजेपी को हरियाणा में सत्ता बनाए रखने हेतु चुनाव के बाद जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) से गठजोड़ करना पड़ा था. वहीं महाराष्ट्र बीजेपी-शिवसेना गठबंधन को बहुमत मिलने के बाद भी बीजेपी सरकार बनाने में असफल रही थी.

झारखंड विधानसभा चुनाव रिजल्ट 2019: एक नजर

बहुमत मिलने के बावजूद जेएमएम-कांग्रेस-राजद के गठबंधन को 35.25 प्रतिशत वोट मिले हैं. वहीं अकेले चुनाव लड़ रही बीजेपी को 33.5 प्रतिशत वोट मिले हैं.

हालांकि, पूर्व मुख्यमंत्री समेत पार्टी के सभी दिग्गज नेताओं को हार का सामना करना पड़ा. मुख्यमंत्री रघुबर दास को जमशेदपुर ईस्ट से सरयू राय ने हारा दिया. सरयू राय चुनाव से पहले बीजेपी छोड़कर चले गए थे.

झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने विधानसभा चुनाव में मिली हार के बाद अपने पद से त्यागपत्र दे दिया है. उन्होंने राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू को हाल ही में राजभवन में अपना इस्तीफा सौंपा.

बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष लक्षमण गिलुवा भी अपनी चक्रधरपुर सीट पर हार गये जबकि भावी मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन समेत अन्य सभी बड़े दलों के नेता विधानसभा चुनाव में जीतने में सफल रहे.

पार्टी

कुल

जीते

आगे

बीजेपी

25

25

0

आजसु पार्टी

02

02

0

कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया (मार्क्ससिस्ट-लेनिनिस्ट)(लिबरेशन)

01

01

0

कांग्रेस

16

16

0

झारखण्ड मुक्ति मोर्चा

30

30

0

झारखण्ड विकास मोर्चा (प्रजातांत्रिक)

03

03

0

नेशनलिस्ट कॉंग्रेस पार्टी

01

01

0

राष्ट्रीय जनता दल

01

01

0

निर्दलीय

02

02

0

 

सुबह आठ बजे से मतगणना शुरू हुई थी

23 दिसंबर 2019 को सुबह आठ बजे से मतगणना शुरू हुई थीं. मतगणना पदाधिकारी एवं कर्मियों को प्रात: छह बजे तक मतगणना कक्ष में पहुंचने का निर्देश दिया गया था. प्रत्येक टेबल पर तीन कर्मियों की प्रतिनियुक्ति की गई थीं. इसमें एक मतगणना पर्यवेक्षक, एक मतगणना सहायक एवं एक मतगणना माइक्रोऑब्‍जर्वर थे.

यह भी पढ़ें:शिवसेना संस्थापक Bal Thackeray के नाम पर होगा मुंबई-नागपुर एक्सप्रेसवे का नाम

पृष्ठभूमि

झारखंड विधानसभा का कार्यकाल 05 जनवरी 2020 को समाप्‍त हो रहा है. यहां कुल 81 विधानसभा सीटें हैं. इनमें 28 अनुसूचित जनजाति और 09 अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित हैं. चुनाव आयोग के अनुसार, इस बार के चुनाव में 02 करोड़ 27 लाख मतदाताओं को अपना नेता चुनने का मौका मिला है. इस बार के विधानसभा चुनाव में 65.23 प्रतिशत मतदान हुआ जबकि साल 2014 में 66.53 प्रतिशत वोट पड़े थे.

इस बार 127 महिलाओं समेत कुल 1216 उम्मीदवार मैदान में थे. झारखंड में 30 नवंबर से 20 दिसंबर तक पांच चरणों में मतदान हुआ था. इस चुनाव में बीजेपी को करारी हार का सामना करना पड़ा है. बीजेपी ने पिछले विधानसभा चुनावों में जहां  37 सीटें जीती थीं, वहीं वह इस बार पार्टी केवल 25 सीटें पर सिमट गई. बीजेपी की सहयोगी रही एजेएसयू पिछली विधानसभा में सिर्फ आठ सीटें लड़कर पांच सीटों पर जीती थी, जबकि इस बार उसने 53 सीटें लड़कर महज दो सीटों पर जीत हासिल की. वहीं दूसरी ओर, झारखंड मुक्ति मोर्चा (जेएमएम) 30 सीटें हासिल कर प्रदेश में सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है.

यह भी पढ़ें:आंध्र प्रदेश सरकार का बड़ा फैसला: दुष्कर्म मामले की 21 दिनों में होगी सुनवाई

यह भी पढ़ें:दमन दीव और दादरा नगर हवेली विलय विधेयक संसद में पारित

Download our Current Affairs & GK app For exam preparation

डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप एग्जाम की तैयारी के लिए

AndroidIOS