Microsoft ने की इंटरनेट एक्सप्लोरर बंद करने की घोषणा, जानें वजह

माइक्रोसॉफ्ट ने इंटरनेट एक्सप्लोरर को 16 अगस्त 1995 को रिलीज किया था. वर्ष 2003 तक माइक्रोसॉफ्ट का ये ब्राउजर इंटरनेट की दुनिया में टॉप पर था.

Created On: May 25, 2021 12:46 ISTModified On: May 25, 2021 12:59 IST

विश्व की जानी-मानी टेक कंपनी माइक्रोसोफ्ट (Microsoft) ने यूजर्स को झटका देते हुए अपने पॉपुलर वेब ब्राउजर इंटरनेट एक्सप्लोरर (Internet Explorer) को बंद करने का घोषणा किया है. माइक्रोसॉफ्ट इंटरनेट एक्स्प्लोरर ने पिछले 25 सालों से ज्यादा समय तक लोगों को सेवा दी है.

माइक्रोसॉफ्ट ने हाल ही में एक ब्लॉग पोस्ट में कहा कि इस वेब ब्राउजर की पेशकश विंडोज 95 के साथ की गई थी. अब माइक्रोसॉफ्ट ने आधिकारिक रूप से बता दिया है कि इंटरनेट एक्सप्लोरर अगले वर्ष 2022 में 15 जून को रिटायर हो जाएगा.

माइक्रोसॉफ्ट एज के कार्यक्रम प्रबंधक ने क्या कहा?

माइक्रोसॉफ्ट एज के कार्यक्रम प्रबंधक सीन लिंडर्से ने इस फैसले के बारे में पर कहा कि इंटरनेट एक्सप्लोरर 11 डेस्कटॉप अनुप्रयोग सेवामुक्त हो जाएगा और विंडोज 10 के कुछ संस्करणों के लिए 15 जून 2022 से इसका समर्थन बंद हो जाएगा.

उन्होंने आगे कहा कि विंडोज 10 पर इंटरनेट एक्सप्लोरर का भविष्य माइक्रोसॉफ्ट एज है. माइक्रोसॉफ्ट एज न केवल इंटरनेट एक्सप्लोरर की तुलना में एक तेज, अधिक सुरक्षित और अधिक आधुनिक ब्राउजिंग अनुभव है, बल्कि यह पुरानी, ​पारंपरिक वेबसाइटों और अनुप्रयोगों के अनुरूप भी है.

15 जून 2022 से बंद होगा

माइक्रोसॉफ्ट ने कहा कि वह अगले साल 15 जून को अपने ब्राउजर इंटरनेट एक्सप्लोरर को सेवामुक्त कर देगा, जो लगभग 25 साल से इंटरनेट यूजर को अपनी सेवाएं दे रहा है.

इंटरनेट एक्सप्लोरर: एक नजर में

माइक्रोसॉफ्ट ने इंटरनेट एक्सप्लोरर को 16 अगस्त 1995 को रिलीज किया था. ये इस तरह का पहला वेब ब्राउजर था जिसको लोगों ने हाथों हाथ लिया. लोग साइबर कैफे में इसी वेब ब्राउजर पर काम किया करते थे. वर्ष 2003 तक माइक्रोसॉफ्ट का ये ब्राउजर इंटरनेट की दुनिया में टॉप पर था.

इसके बंद होने का कारण

माइक्रोसॉफ्ट का इंटरनेट एक्सप्लोरर दुनिया के सभी कंप्यूटर और लैपटॉप में पहले से ही इंस्टॉल्ड आता है, लेकिन क्रोम और मॉजिला फायरफॉक्स ने लगातार अपने को अपडेट किया. कुछ ना कुछ नया किया जिसके कारण लोगों में अपनी ज्यादा पहुंच बना ली. अब 25 साल के बाद माइक्रोसॉफ्ट इंटरनेट एक्सप्लोरर केवल इतिहास में रह जाएगा. इंटरनेट एक्सप्लोरर को बंद करने के पीछे की वजह आज इसका कम इस्तेमाल होना है. 25 साल से चला आ रहे इस ब्राउजर को आज की तारीख में केवल पांच प्रतिशत लोग ही इस्तेमाल करते हैं.

Take Weekly Tests on app for exam prep and compete with others. Download Current Affairs and GK app

एग्जाम की तैयारी के लिए ऐप पर वीकली टेस्ट लें और दूसरों के साथ प्रतिस्पर्धा करें। डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप

AndroidIOS
Comment ()

Related Stories

Post Comment

0 + 7 =
Post

Comments