Search

महेंद्र सिंह धोनी के संन्यास की चर्चाएं हुईं तेज, जानें उनके पांच रिकार्ड जिन्हें तोड़ना लगभग असंभव

ऐसा आशंका जताया जा रहा है कि धोनी विश्व कप खत्म होने के बाद अपने संन्यास का घोषणा कर देगे. मगर धोनी की तरफ से अभी तक संन्यास से संबंधित कोई ऐसी बात सुनने को नहीं मिली है.

Jul 15, 2019 11:00 IST

आईसीसी क्रिकेट विश्व कप 2019 के सेमीफाइनल मैच में न्यूजीलैंड के विरुद्ध भारतीय टीम की हार के बाद अब दिग्गज विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी के संन्यास को लेकर चर्चाएं खूब जोर पकड़ रही हैं. न्यूजीलैंड टीम ने इंग्लैंड के मैनचेस्टर में खेले गए पहले सेमीफाइनल मुकाबले में भारतीय टीम को 18 रनों से हरा दिया. इसी के साथ ही भारत का तीसरी बार विश्व चैम्पियन बनने का सपना भी टूट गया.

ऐसा आशंका जताया जा रहा है कि धोनी विश्व कप खत्म होने के बाद अपने संन्यास का घोषणा कर देगे. मगर धोनी की तरफ से अभी तक संन्यास से संबंधित कोई ऐसी बात सुनने को नहीं मिली है. सोशल मीडिया पर भी यही बात कही जा रही है कि धोनी ने अब शायद देश के लिए कलर कपड़ो में अंतिम मुकाबला खेल लिया है.

पूर्व केंद्रीय मंत्री का बयान

पूर्व केंद्रीय मंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता संजय पासवान ने कहा है कि महेंद्र सिंह धोनी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की टीम का हिस्सा बन सकते हैं. ऐसा अनुमान जताया जा रहा है कि धोनी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद राजनीति में कदम रख सकते हैं. महेंद्र सिंह धोनी झारखंड की राजधानी रांची के रहने वाले हैं. झारखंड में इसी साल विधानसभा के चुनाव होने हैं. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने लोकसभा चुनावों से पहले अपने 'संपर्क फॉर समर्थन' कार्यक्रम के दौरान धोनी से मुलाकात की थी.

यह भी पढ़ें: वर्ल्ड कप 2019: आईसीसी की बीसीसीआई से अपील, धोनी अपने ग्लव्स से सेना का चिन्ह हटाएं

धोनी के पांच रिकार्ड जिन्हें तोड़ना लगभग असंभव

तीनों आईसीसी विश्व प्रतियोगिताएं जीतने वाले इकलौते कप्तान: धोनी एकमात्र ऐसे कप्तान हैं, जिन्होंने आईसीसी की तीनों बड़ी ट्रॉफी जीती हैं. धोनी साल 2007 टी-20 विश्वकप, साल 2011 एकदिवसीय विश्व कप और साल 2013 आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी जीतने में सफल रहे. उनकी कप्तानी में भारत आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में शीर्ष स्थान पर पहुंचा भी था. धोनी ये कारनामा करने वाले विश्व के एकमात्र और अभी तक आखिरी कप्तान हैं.

विकेटकीपर बल्लेबाज द्वारा एकदिवसीय क्रिकेट में उच्चतम स्कोर: धोनी ने 31 अक्टूबर 2005 को जयपुर में विकेटकीपर बल्लेबाज के रूप में तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए श्रीलंका के विरुद्ध 183 रन बनाए थे. धोनी ने इस मैच मे एकदिवसीय पारी में एक विकेटकीपर बल्लेबाज द्वारा बनाए गए सबसे अधिक रन का रिकॉर्ड बनाया.

आर्टिकल अच्छा लगा? तो वीडियो भी जरुर देखें!

विकेटकीपर के तौर पर सबसे ज्यादा बार गेंदबाज़ी: धोनी ने विकेटकीपर के रूप में खेलते हुए नौ अंतरराष्ट्रीय मैचों में गेंदबाज़ी की है. धोनी ने विकेटकीपर के रूप में खेलते हुए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे अधिक मैचों में गेंदबाज़ी की हैं. धोनी ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में एक विकेट भी लिये हैं.

T20 विश्वकप में सबसे अधिक बार नेतृत्व: धोनी ने साल 2007 के प्रथम टी-20 विश्वकप को जीतकर क्रिकेट इतिहास में अपना नाम दर्ज करवा लिया. उन्होंने साल 2007 से साल 2016 तक सीमित ओवरों के प्रारूप में भारतीय राष्ट्रीय टीम की कप्तानी की. उन्होंने इस समयावधि में पहले 6 टी-20 विश्वकप का नेतृत्व कर एक और विश्व रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया जिसे तोड़ पाना शायद ही मुमकिन हो.

क्रिकेट इतिहास में सबसे महँगा बल्ला: यह वह बल्ला है जिसने विश्व कप इतिहास का सबसे यादगार छक्का जड़ा था. धोनी ने श्रीलंका के विरुद्ध साल 2011 विश्व कप की फाइनल पारी मे खेलने के बाद जिस बल्ले की नीलामी की थी, वह बल्ला 100,000 पाउंड में नीलाम हुआ. यह क्रिकेट जगत का सबसे महँगा बल्ला है. धोनी का बल्ला गिनीज बुक में विश्व का सबसे महँगा बल्ला होने का रिकॉर्ड रखता है.

यह भी पढ़ें: क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी ने सबसे धीमा अर्धशतक बनाने का रिकॉर्ड बनाया

यह भी पढ़ें: विराट कोहली ने रचा इतिहास, तोड़ा सचिन का रिकॉर्ड

For Latest Current Affairs & GK, Click here