प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 'सियोल शांति पुरस्कार-2018' हेतु चयनित

चयन समिति के अध्यक्ष चोइ चुंग-हो ने अपने संबोधन में कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का चयन भारत के 1.35 अरब लोगों का जीवन सुधारने की खातिर उनके द्वारा किए जा रहे प्रयासों के लिए किया गया है.

Created On: Oct 24, 2018 11:21 ISTModified On: Oct 24, 2018 11:40 IST

भारत के वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को वर्ष 2018 के 'सियोल शांति पुरस्कार' के लिए चयनित किया गया है. उन्हें यह पुरस्कार भारतीय और वैश्विक अर्थव्यवस्था में योगदान के लिए दिया जायेगा.

पुरस्कार समिति ने भारत में अमीर और गरीब के बीच के सामाजिक और आर्थिक अंतर को कम करने के लिए उनकी 'मोदीनॉमिक्स' को सराहा है. सियोल शांति पुरस्कार सांस्कृतिक फाउंडेशन के चेयरमैन क्वॉन ई-हायोक की अध्यक्षता में सियोल के जंग-यू में हुई चयन समिति की बैठक के बाद यह फैसला लिया गया.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सियोल शांति पुरस्कार

•    चयन समिति के अध्यक्ष चोइ चुंग-हो ने अपने संबोधन में कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का चयन भारत के 1.35 अरब लोगों का जीवन सुधारने की खातिर उनके द्वारा किए जा रहे प्रयासों के लिए किया गया है.

•    उन्होंने लोक कल्याण के क्षेत्र में सुधार के लिए कई देशों के साथ आर्थिक संबंध स्थापित किए हैं.

•    मोदी विश्व शांति और एशिया पैसिफिक क्षेत्र की स्थिरता के लिए बड़ा योगदान कर रहे हैं.

•    वह कूटनीति के जरिये अंतरराष्ट्रीय सहयोग को बढ़ावा दे रहे हैं.

•    पुरस्कार चयन समिति ने प्रधानमंत्री मोदी को इस पुरस्कार के लिए 'उत्तम प्रत्याशी' बताया है. मोदी इस पुस्कार को पाने वाले 14वें शख्स हैं.

•    समिति ने पीएम मोदी को सक्रिय विदेश नीति के जरिये वैश्विक और विश्व शांति में योगदान का श्रेय भी दिया है. समिति ने खास तौर पर 'मोदी डॉक्टरेन' और 'एक्ट ईस्ट पॉलिसी' की जिक्र किया है.

•    इस पुरस्कार के साथ पीएम मोदी को 2 लाख डॉलर की राशि भी दी जाएगी.

कैसे हुआ चयन?

बारह सदस्यीय चयन  समिति ने दुनिया भर के 100 से ज्यादा प्रत्याशियों के बीच से एक कड़ी, उद्देश्यपरक और गहन मंत्रणा के बाद विजेता का चुनाव किया है. जिन लोगों के बीच इस पुरस्कार के लिए मुकाबला था उनमें कई देशों के मौजूदा और पूर्व प्रमुख, राजनेता, बिजनेस जगत के दिग्गज, धार्मिक नेता, स्कॉलर, पत्रकार, सांस्कृतिक शख्सियतें, कलाकार, खिलाड़ी और अंतरराष्ट्रीय संगठन शामिल थे.



सियोल शांति पुरस्कार के बारे में

•    सियोल शांति पुरस्कार जीतने वालों में अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति के चेयरमैन जुआन एंटोनियो समरंच, अमेरिका के पूर्व विदेश मंत्री जॉर्ज शुल्ट्ज, एनजीओ डॉक्टर्स विदाउट बॉर्डर, नोबेल शांति पुस्कार विजेता, डेनिस मुकवेज और संयुक्त राष्ट्र के महासचिव कोफी अन्नान और बान की मून शामिल हैं.


modi to get peace prize

•    यह गौर करने लायक बात है कि जिन 13 लोगों को यह पुरस्कार मिला उनमें से चार को नोबेल शांति पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया.

•    इनमें एनजीओ डॉक्टर्स विदाउट बॉर्डर, कोफी अन्नान, ग्रामीण बैंक के संस्थापक मोहम्मद यूनुस और पंजी हॉस्पिटल के संस्थापक डेनिस मुकवेज शामिल हैं.

•    वर्ष 1990 में सियोल में आयोजित 24वें ओलंपिक खेलों के समापन के बाद सियोल शांति पुरस्कार की स्थापना की गई थी. अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति के पूर्व अध्यक्ष जुआन एंटोनियो समरंच को सबसे पहले इस सम्मान से नवाजा गया था.

मोदी को 'चैंपियंस ऑफ द अर्थ' पुरस्कार

गौरतलब है कि सितंबर 2018 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को संयुक्त राष्ट्र का सबसे बड़ा पर्यावरण सम्मान भी दिया गया था. संयुक्त राष्ट्र ने मोदी और फ्रांसीसी राष्ट्रपति एमैनुएल मैक्रों को संयुक्त रूप से 'चैंपियंस ऑफ द अर्थ' अवॉर्ड से सम्मानित किया था. उनके अलावा पांच अन्य व्यक्तियों और संगठनों को इस अवॉर्ड से सम्मानित किया गया था.

 

यह भी पढ़ें: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ‘चैंपियंस ऑफ़ अर्थ अवार्ड’ से सम्मानित किये गये

 

Take Weekly Tests on app for exam prep and compete with others. Download Current Affairs and GK app

एग्जाम की तैयारी के लिए ऐप पर वीकली टेस्ट लें और दूसरों के साथ प्रतिस्पर्धा करें। डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप

AndroidIOS
Comment ()

Post Comment

7 + 6 =
Post

Comments