16 दिसंबर से 24 घंटे कर सकेंगे NEFT: आरबीआई

आरबीआई के अनुसार, 16 दिसंबर 2019 से सभी बैंकों में 24 घंटे एनईएफटी की सुविघा शुरू हो जाएगी. बैंक इसके लिए ग्राहकों से किसी तरह का कोई शुल्क नहीं लेगा. आरबीआई ने ऐसा करने का आदेश बैंकों को दिया है.

Created On: Dec 8, 2019 10:00 ISTModified On: Dec 7, 2019 15:02 IST

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने हाल ही में डिजिटल लेन-देन को बढ़ावा देने हेतु राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिक कोष हस्तांतरण प्रणाली (एनईएफटी) के जरिए चौबीसों घंटे लेन-देन की सुविधा 16 दिसंबर से शुरू करने की घोषणा की. आरबीआई ने यह घोषणा 06 दिसंबर 2019 को की.

आरबीआई के अनुसार, 16 दिसंबर 2019 से सभी बैंकों में 24 घंटे एनईएफटी की सुविघा शुरू हो जाएगी. बैंक इसके लिए ग्राहकों से किसी तरह का कोई शुल्क नहीं लेगा. आरबीआई ने ऐसा करने का आदेश बैंकों को दिया है.

एनईएफटी की सुविधा

एनईएफटी की सुविधा अभी सुबह आठ बजे से शाम सात बजे तक रहती है. एनईएफटी का समय महीने के पहले एवं तीसरे शनिवार को सुबह आठ बजे से दोपहर एक बजे तक रहता है. लेकिन, आरबीआई के इस आदेश के बाद 16 दिसंबर से एनईएफटी की सुविघा 24 घंटे शुरू हो जाएगी.

आरबीआई ने 06 जून 2019 को हुई आरबीआई की मौद्रिक नीति समिति की समीक्षा बैठक में रियल टाइम ग्रॉस सेटलमेंट (आरटीजीएस) और एनईएफटी के जरिये होने वाला लेन-देन निशुल्क कर दिया था. यह नियम 01 जुलाई 2019 से लागू हो चुका था.

डिजिटल बैंकिंग को बढ़ावा देना: आरबीआई

आरबीआई के अनुसार, यह कदम देश भर में डिजिटल बैंकिंग को बढ़ावा देने हेतु उठाया है. आरबीआई ने इसके साथ ही फास्टैग का भुगतान करने हेतु मोबाइल वॉलेट, सभी तरह के कार्ड्स एवं यूपीआई से इसे लिंक करने के लिए कहा है ताकि इसका उपयोग पार्किंग तथा पेट्रोल पंप पर भी किया जा सके.

यह भी पढ़ें:कैबिनेट ने सार्वजनिक क्षेत्र के पांच केन्द्रीय उपक्रमों में अपनी हिस्सेदारी बेचने की अनुमति दी

क्या है एनईएफटी?

एनईएफटी का मतलब नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड्स ट्रांसफर है. एनईएफटी का उपयोग इंटरनेट के जरिये दो लाख रुपये तक के लेन-देन हेतु किया जाता है. इसके तहत किसी भी शाखा के किसी भी बैंक खाते से किसी भी शाखा के बैंक खाते को पैसा भेजा जा सकता है. इसके लिए भेजने वाले और पैसा पाने वाले, दोनों के पास इंटरनेट बैंकिंग सेवा का होना जरूरी है.

आरबीआई ने सभी बैंकों से यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है कि ग्राहकों को इस सुविधा के उपयोग में किसी तरह की दिक्कत ना हो. उसने सभी सदस्य बैंकों से इसके लिए जरूरी आधारिक संरचना विकसित करने को कहा है.

यह भी पढ़ें:फॉर्च्यून की बिजनेस पर्सन ऑफ द ईयर 2019 की सूची जारी, सत्य नडेला शीर्ष स्थान पर

यह भी पढ़ें:केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने लद्दाख क्षेत्र हेतु विंटर ग्रेड डीजल लॉन्च किया

Take Weekly Tests on app for exam prep and compete with others. Download Current Affairs and GK app

एग्जाम की तैयारी के लिए ऐप पर वीकली टेस्ट लें और दूसरों के साथ प्रतिस्पर्धा करें। डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप

AndroidIOS
Comment ()

Related Stories

Post Comment

5 + 6 =
Post

Comments