Search

प्रधानमंत्री मोदी ने Mahakal Express को दिखाई हरी झंडी, जानिए ट्रेन का किराया और खास फीचर्स

प्रधानमंत्री ने कार्यक्रम स्थल से देश की तीसरी निजी ट्रेन काशी-महाकाल एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया. इस ट्रेन का संचालन भारतीय रेलवे खानपान एवं पर्यटन निगम (आईआरसीटीसी) कर रही है.

Feb 17, 2020 13:04 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 16 फरवरी 2020 को चंदौली में वीडियो कांफ्रेस के जरिए काशी महाकाल एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया. प्रधानमंत्री मोदी ने इसस पहले पंडित दीन दयाल उपाध्याय की प्रतिमा का लोकार्पण किया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में 1,200 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का उद्घाटन किया.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारतीय वायु सेना के एक विशेष विमान से वाराणसी पहुंचे. प्रधानमंत्री मोदी का स्वागत राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किया. उनके साथ कई मंत्री भी मौजूद रहे. पीएम मोदी ने चंदौली में पंडित दीन दयाल उपाध्याय की 63 फीट ऊंची प्रतिमा का अनावरण किया.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वाराणसी में लगभग 1200 करोड़ रुपये की कई योजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास भी किया. पिछले छह वर्षों में, यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की वाराणसी की 22वीं यात्रा थी. इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि पंडित दीनदयाल जी की आत्मा हमें हमेशा प्रेरणा देती रहती है.

काशी-महाकाल एक्सप्रेस: देश की तीसरी निजी ट्रेन

प्रधानमंत्री ने कार्यक्रम स्थल से देश की तीसरी निजी ट्रेन काशी-महाकाल एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया. इस ट्रेन का संचालन भारतीय रेलवे खानपान एवं पर्यटन निगम (आईआरसीटीसी) कर रही है. यह ट्रेन वाराणसी से इंदौर के बीच चलेगी. यह ट्रेन तीन ज्योतिर्लिंगों- काशी विश्वनाथ, ओमकारेश्वर (इंदौर के निकट) और महाकालेश्वर (उज्जैन) को जोड़ेगी.

कॉमर्शियल शुरुआत 20 फरवरी से

काशी-महाकाल एक्सप्रेस की कॉमर्शियल शुरुआत 20 फरवरी 2020 से होगी. इस ट्रेन के लिए बुकिंग आईआरसीटीसी की वेबसाइट से शुरू हो गई है. इस ट्रेन का परिचालन सप्ताह में तीन दिन किया जाएगा. दो दिन इस ट्रेन को सुल्तानपुर-लखनऊ के रास्ते चलाया जाएगा. एक दिन इसे प्रयागराज (इलाहाबाद) के रास्ते चलाया जाएगा.

आठ विभिन्न तीर्थस्थलों की यात्रा का पैकेज

काशी-महाकाल एक्सप्रेस में आठ विभिन्न तीर्थस्थलों की यात्रा का पैकेज भी होगा. आईआरसीटीसी ने वाराणसी, अयोध्या, प्रयागराज, इंदौर, उज्जैन, भोपाल के धार्मिक और पर्यटन स्थलों के लिए पैकेज तैयार किया है. यह एक्सप्रेस यूपी और मध्य प्रदेश के प्रमुख धार्मिक स्थलों को जाने वाले पर्यटकों को बेहतर सुविधा देगी. इससे दोनों ही प्रदेशों के पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा.

पांच पैकेज तैयार

काशी-महाकाल मार्ग के लिए कुल पांच पैकेज तैयार किए गए हैं. हालांकि, चार पैकेज वाराणसी, इलाहाबाद और लखनऊ से जाने वालों को दिए जाएंगे. यात्रियों को मंदिरों और पर्यटन स्थलों का आनंद लेने, खाने और जाने हेतु कुछ सुविधाएँ और व्यवस्थाएँ उपलब्ध होंगी. इन पैकेजों को ऑनलाइन और ऑफलाइन बुक किया जा सकता है.

पैकेज में यात्रियों के रुकने, खान-पान और मंदिरों व पर्यटन स्थलों पर भ्रमण की व्यवस्था रहेगी. ये पैकेज ऑनलाइन लिये जा सकते हैं. इसके अतिरिक्त ट्रेन में सफर कर रहे अन्य यात्री भी चाहें तो उसी समय भुगतान कर पैकेज में शामिल हो सकते हैं.

काशी दर्शन -1: काशी दर्शन एक का पैकेज 6010 रुपये का होगा. इसमें वाराणसी के घाट, काशी विश्वनाथ मंदिर, संकट मोचन मंदिर, दशाश्वमेघ घाट पर गंगा आरती शामिल है.

काशी दर्शन -2: काशी दर्शन दो का पैकेज 8110 रुपये का होगा. इसमें सारनाथ के दर्शन को भी जोड़ा जाएगा.

काशी-प्रयाग दर्शन: काशी-प्रयाग दर्शन 10 हजार 50 रुपये का होगा. इसमें काशी दो के स्थानों के साथ प्रयाग का संगम तट भी रहेगा.

यह भी पढ़ें:पुलवामा अटैक का एक साल: CRPF ने अपने शहीदों को कुछ इस तरह से किया याद

काशी-महाकाल ट्रेन का किराया

काशी महाकाल एक्सप्रेस का किराया तेजस ट्रेनों की तरह डायनिमिक होगा. इसका मतलब है कि आप जितनी जल्दी टिकट बुक कराएंगे उतने फायदे में रहेंगे. आईआरसीटीसी की वेबसाइट के अनुसार वाराणसी से इंदौर के बीच केवल एक व्यक्ति का किराया 1951 रुपये का है.

अन्य परियोजनाएँ

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वाराणसी में 1250 करोड़ रुपये की 50 परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया. इसमें बीएचयू में 430 बिस्तर का सुपरस्पेशियलिटी अस्पताल और वैदिक विज्ञान केंद्र, कबीरचौरा में 100 बेड का मैटर्निटी विंग, लहरतारा-चौकाघाट फ्लाईओवर, काशी विश्वनाथ अन्न क्षेत्र सहित 34 प्रोजेक्ट का लोकार्पण शामिल है. इसके अतिरिक्त स्मार्ट सिटी, हेरिटेज डेवलपमेंट और आधा दर्जन सड़कों सहित 14 परियोजनाओं का शिलान्यास किया.

यह भी पढ़ें:Supreme Court का SC/ST एक्ट पर बड़ा फैसला, बिना जांच गिरफ्तारी संभव

यह भी पढ़ें:अफ्रीकी देशों की रक्षा जरूरतों को पूरा करेगा भारत: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह

Download our Current Affairs & GK app For exam preparation

डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप एग्जाम की तैयारी के लिए

AndroidIOS