पंजाब में कोरोना वैक्सीन कैंपेन के ब्रांड एंबेस्डर बने सोनू सूद

विश्वभर में कोरोना वायरस से हाल बुरा हो चला है. कोरोना संक्रमण के मामले भी पहले के मुकाबले बेहद कम हो गए थे. लेकिन अब कोरोना वायरस की दूसरी लहर ने जोर पकड़ लिया है और तेजी से देश में इसका प्रकोप बढ़ता नजर आ रहा है.

Created On: Apr 13, 2021 16:14 ISTModified On: Apr 13, 2021 17:31 IST

कोरोना लॉकडाउन के दौरान प्रवासी मजदूरों के लिए मसीहा बनकर उभरे फिल्म अभिनेता सोनू सूद अधिकारिक रूप से पंजाब में कोरोना वैक्सीन को लेकर ब्रांड एंबेस्डर बन गए हैं. पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने सोनू सूद को ब्रांड एंबेस्डर बनाने की घोषणा की.

विश्वभर में कोरोना वायरस से हाल बुरा हो चला है. कोरोना संक्रमण के मामले भी पहले के मुकाबले बेहद कम हो गए थे. लेकिन अब कोरोना वायरस की दूसरी लहर ने जोर पकड़ लिया है और तेजी से देश में इसका प्रकोप बढ़ता नजर आ रहा है.

सोनू सूद कोविड टीकाकरण मुहिम के लिए पंजाब सरकार (Punjab Government) के ब्रांड एंबेस्डर (Brand Ambassador) बनाए गए हैं. मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने 11 अप्रैल को सोनू सूद के साथ मीटिंग के बाद यह घोषणा किया कि वह कोविड वैक्सीनेशन कार्यक्रम में पंजाब सरकार के ब्रांड एंबेसडर नियुक्त किए गए हैं.

मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने क्या कहा?

मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा कि लोगों को कोविड वैक्सीन लेने के लिए प्रेरित और प्रभावित करने के लिए आदर्श के तौर पर कोई अन्य शख्सियत नहीं हो सकती. पंजाब में वैक्सीन के प्रति लोगों में कई तरह की भ्रांतियां हैं. सोनू सूद की लोगों में लोकप्रियता बहुत ही ज्यादा है. उन्होंने बीते साल महामारी फैलने के समय हजारों प्रवासी कामगारों को सुरक्षित घर पहुंचाने में मदद करके बेमिसाल योगदान दिया है. वह लोगों में फैली वैक्सीन के प्रति भ्रांतियों का दूर करने में निश्चित तौर पर सफल होंगे.

सोनू सूद ने क्या कहा?

सोनू सूद ने कहा कि जीवन बचाने वाली इस वैक्सीन के लिए ब्रांड एंबेस्डर नियुक्त होने पर वह खुशी और गर्व महसूस कर रहे हैं. उन्होंने कहा गृह राज्य के लोगों की जिंदगियों की सुरक्षा के लिए पंजाब सरकार की इस व्यापक मुहिम का हिस्सा बनने पर अपने आप को भाग्यशाली समझते हैं.

किताब आई एम नो मसीहा

इस मौके पर अभिनेता सोनू सूद ने मुख्यमंत्री को अपनी किताब ‘आई एम नो मसीहा' भी भेंट की. इसके बारे में उन्होंने बताया कि इसमें मोगा से मुम्बई तक के तजुर्बों के बारे में लिखा गया है. उन्होंने कहा मैं सचमुच कहता हूं कि मैं कोई रक्षक नहीं हूं.

प्रवासी रोजगार ऐप भी लॉन्च

बता दें कि इससे पहले सोनू सूद प्रवासी रोजगार ऐप भी लॉन्च कर चुके हैं. इसमें कोरोनाकाल में जॉब खो चुके लोगों के लिए 50 हजार से ज्यादा रोजगार के मौके दिए गए हैं. यह ऐप लोगों को कंपनियों से जोड़ता है साथ ही लोगों को ट्रेनिंग भी दिलाता है. इस तरह सोनू सूद के अलग- अलग तरीकों से हर जरूरतमंद की मदद करने की पुरजोर कोशिश की.

Take Weekly Tests on app for exam prep and compete with others. Download Current Affairs and GK app

एग्जाम की तैयारी के लिए ऐप पर वीकली टेस्ट लें और दूसरों के साथ प्रतिस्पर्धा करें। डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप

AndroidIOS
Comment ()

Post Comment

2 + 1 =
Post

Comments