Search

टॉप 10 साप्ताहिक करेंट अफेयर्स घटनाक्रम: 02 सितंबर से 07 सितंबर 2019

जागरण जोश डॉट कॉम अपने पाठकों के लिए पूरे सप्ताह से चुनिंदा एवं महत्वपूर्ण टॉप-10 साप्ताहिक करेंट अफेयर्स घटनाक्रम प्रस्तुत कर रहा है.

Sep 7, 2019 16:30 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

जागरण जोश डॉट कॉम अपने पाठकों के लिए पूरे सप्ताह से चुनिंदा एवं महत्वपूर्ण टॉप-10 साप्ताहिक करेंट अफेयर्स घटनाक्रम प्रस्तुत कर रहा है.

01.चंद्रयान 2: लॉन्चिंग से लेकर अब तक की पूरी कहानी, जानें अब आगे क्या होगा?

चंद्रयान-2 अब चांद के दक्षिणी ध्रुव तक पहुंचने के लिए 48 दिन की यात्रा शुरू हो गई थी. भारत इससे पहले चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग 15 जुलाई को करने वाला था, लेकिन क्रॉयोजेनिक इंजन में लीकेज के कारण रोक दिया गया था. चन्द्रयान-2 मिशन का मुख्य उद्देश्य चांद की सतह का नक्शा तैयार करना, खनिजों की मौजूदगी का पता लगाना, चंद्रमा के बाहरी वातावरण को स्कैन करना और किसी न किसी रूप में पानी की उपस्थिति का पता लगाना था.

चंद्रयान-2 के अंतिम चरण में भारत के मून लैंडर विक्रम से उस समय संपर्क टूट गया था जब वह चंद्रमा की सतह की ओर बढ़ रहा था. इसरो के अनुसार, रात 1:37 बजे लैंडर की चांद पर ‘सॉफ्ट लैंडिंग’ की प्रक्रिया शुरू हो गई थी. लेकिन लगभग 2.1 किमी ऊपर संपर्क टूट गया था. इसरो के अध्यक्ष के. सिवन ने कहा की डेटा की समीक्षा की जा रही है. चंद्रयान 1 की खोजों को आगे बढ़ाने के लिए चंद्रयान-2 को भेजा गया था.

02.चंद्रयान-2: विक्रम लैंडर के साथ संपर्क टूटा, इसरो के वैज्ञानिकों को डेटा का इंतज़ार

इसरो के अनुसार, रात 1:37 बजे लैंडर की चांद पर ‘सॉफ्ट लैंडिंग’ की प्रक्रिया शुरू हो गई थी. लेकिन लगभग 2.1 किमी ऊपर संपर्क टूट गया. इसरो के अध्यक्ष के. सिवन ने कहा की डेटा की समीक्षा की जा रही है. विक्रम लैंडर को रात 1:30 बजे से 2:30 बजे के बीच चांद की सतह पर उतरना था. भारतीय अंतरिक्ष वैज्ञानिकों की उपलब्धि को देखने और उनका हौसला बढ़ाने हेतु प्रधामंत्री नरेंद्र मोदी भी बेंगलुरु में इसरो के मुख्यालय पहुँचे थे.

भारत चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर कोई यान भेजने वाला पहला देश है. अब तक चांद पर गए ज़्यादातर मिशन इसकी भूमध्य रेखा के आस-पास ही उतरे हैं. यदि भारत क़ामयाब रहता तो अमरीका, रूस और चीन के बाद, भारत चंद्रमा पर किसी अंतरिक्ष यान की सॉफ़्ट लैंडिंग करवाने वाला चौथा देश बन जाता. 22 जुलाई 2019 को चंद्रयान-2 लांच किया गया था.

03.Rashid Khan ने रचा इतिहास, सबसे युवा टेस्ट कप्तान बने

बांग्लादेश के विरुद्ध मैदान पर कदम रखते ही राशिद खान टेस्ट इतिहास में किसी टीम की कप्तानी करने वाले सबसे कम उम्र के खिलाड़ी बन गये है. इस समय बांग्लादेश की टीम अपने घरेलू मैदान चटगांव में अफगानिस्तान के विरुद्ध टेस्ट मैच खेल रही है. अफगानिस्तान टीम की कप्तानी इस टेस्ट में राशिद खान कर रहे हैं. राशिद खान ऐसे में किसी टेस्ट मैच में कप्तानी करने वाले विश्व के सबसे कम उम्र के खिलाड़ी बन गये हैं.

इस सूची में तीसरे स्थान पर भारत के पूर्व कप्तान मंसूर अली खान पटौदी हैं. मंसूर अली खान पटौदी ने जब पहली बार वेस्टइंडीज के विरुद्ध साल 1962 में टीम की कमान संभाली थी उस समय उनकी उम्र 21 साल 77 दिन थी. आईसीसी विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप का हिस्सा अफगानिस्तान नहीं है, क्योंकि केवल शीर्ष नौ पूर्ण सदस्य देश ही इस प्रतियोगिता में भाग ले रहे हैं.

04.जिम्बाब्वे के पूर्व राष्ट्रपति रॉबर्ट मुगाबे का निधन, जाने उनकी राजनीतिक सफ़र

वे पिछले कई दिनों से बीमार चल रहे थे. जिम्बाब्वे के राष्ट्रपति इमरसन मंगांगवा ने रॉबर्ट मुगाबे के निधन की जानकारी अपने ट्विटर अकाउंट के द्वारा दी. उन्होंने कहा कि देश तथा महाद्वीप में रॉबर्ट मुगाबे द्वारा किये गये योगदान को कभी भुलाया नहीं जा सकेगा. उन्हें आजादी के नायक के रूप में भी जाना जाता है लेकिन वे बहुत से विवादों में भी घिरे रहे.

रॉबर्ट मुगाबे साल 1980 से ज़िम्बाब्वे की स्वतंत्रता के बाद से ही सत्ता में थे. वे साल 1980 में प्रधानमंत्री बने थे. उन्होंने इसके बाद साल 1987 में प्रधानमंत्री का पद समाप्त करके स्वयं को राष्ट्रपति घोषित किया था. उन्हें नवंबर 2017 में सैन्य तख़्तापलट के बाद सत्ता को छोड़ना पड़ा था. इसके साथ ही उनका तीन दशक (37 साल) का शासनकाल भी समाप्त हो गया था.

05.RBI का बड़ा आदेश, 1 अक्टूबर से सभी बैंक जोड़ें रेपो रेट से लोन

आरबीआई ने सभी बैंकों को 01 अक्टूबर से रेपो रेट के साथ होम लोन, ऑटो लोन, पर्सनल लोन और एमएसएमई सेक्टर के सभी प्रकार के लोन को जोड़ने का आदेश दिया है. आरबीआई ने रेपो रेट जैसे बाहरी बेंचमार्क के अंतर्गत ब्याज दरों में तीन महीने में कम से कम एक बार बदलाव करने को कहा है. आरबीआई दरअसल पिछले कुछ महीनों से लगातार सभी सरकारी और प्राइवेट बैंको से रेपो रेट के साथ बैंक लोन को जोड़ने के लिए कह रहा था.

रेपो रेट को ब्‍याज दर से जोड़ने की व्‍यवस्‍था लागू होने का सीधा फायदा ग्राहकों को मिलेगा. क्योंकि आरबीआई अब आगे से जब-जब रेपो रेट में कटौती करेगा तब बैंकों के लिए भी ब्याज दर में कटौती करना अनिवार्य हो जाएगा. इस कटौती का असर यह होगा कि किसी भी प्रकार के लोन की ईएमआई दर में कमी आएगी. रेपो रेट वह दर होती है जिस पर आरबीआई बैंकों को कर्ज देता है.

06.भारत और अमेरिका के बीच संयुक्त 'युद्ध अभ्यास-2019' शुरू

यह अभ्यास 18 सितंबर 2019 को समाप्त होगा. युद्ध अभ्यास—2019 सबसे लंबे चलने वाले संयुक्त सैन्य प्रशिक्षण अभ्यासों में से एक है. यह युद्धाभ्यास भारत तथा अमेरिका के बीच एक प्रमुख दि्वपक्षीय रक्षा सहयोग का प्रयास है. यह भारत और अमेरिका के बीच सबसे बड़ा संयुक्‍त सैन्‍य प्रशिक्षण और रक्ष सहयोग है. यह युद्धाभ्यास दोनों देशों के बीच बारी-बारी से आयोजित किए जाते है. यह युद्धाभ्यास का 15वां संस्‍करण है.

संयुक्‍त अभ्‍यास से दोनों देशों के सशस्‍त्र बलों के बीच अंतर संचालन में सहायता मिलेगी तथा अप्रत्‍याशित स्थिति से निपटा जा सकेगा. दोनों देशों की सेनाएं संयुक्‍त रूप से प्रशिक्षण नियोजन एवं क्रियान्‍वयन का कार्य करेंगी, ताकि विभिन्‍न प्रकार के खतरों से निपटा जा सके. युद्धाभ्यास के जरिये भारत एवं अमेरिका के सैनिक बटालियन स्तर पर एकीकृत तरीके से साझा प्रशिक्षण लेते हैं.

07.Teachers' Day 2019: जानिए इस दिन का इतिहास, महत्व और ख़ास बातें

डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन भारत के पहले उपराष्ट्रपति और दूसरे राष्ट्रपति थे. डॉ. राधाकृष्णन का जन्म 5 सितंबर, 1888 को हुआ था. Teacher’s Day 2019 के अवसर पर डॉ. राधाकृष्णन की 131वीं जयंती भी मनाई जाएगी. डॉ. राधाकृष्णन का मानना था कि शिक्षकों के पास देश का सर्वश्रेष्ठ दिमाग होना चाहिए. वर्ष 1962 से, जिस वर्ष वे भारत के दूसरे राष्ट्रपति बने, शिक्षक दिवस उनके जन्मदिन पर मनाया जाने लगा.

डॉ. राधाकृष्णन के जन्मदिन के शुभ अवसर पर उनके छात्रों और दोस्तों ने उनसे उनका जन्मदिन मनाने की अनुमति देने का अनुरोध किया, लेकिन जवाब में डॉ. राधाकृष्णन ने कहा कि “मेरे जन्मदिन को अलग से मनाने के बजाय, यह सौभाग्य की बात होगी कि 5 सितंबर को शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाए.” डॉ. राधाकृष्णन को 1954 में भारत के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार भारत रत्न से सम्मानित किया गया था.

08.कतर 2022, FIFA विश्व कप के लिए लोगो जारी किया गया

क़तर ने 2022 के विश्व कप के लोगो को जारी करने का जश्न दोहा और दुनिया भर के शहरों में सार्वजनिक स्थानों पर प्रदर्शित करके मनाया. अधिकारिक लोगो का अनावरण स्थानीय समयानुसार रात 8:22 बजे (17:22 GMT) पर हुआ. देश की कई प्रतिष्ठित इमारतों में हजारों लोगों ने एक ही समय पर जारी किये गये लोगो को देखा. यह लोगो कतर के झंडे के बरगंडी रंग के साथ स्थानीय संस्कृति का प्रतिनिधित्व करता है.

विश्व के तीसरे सबसे बड़े तेल उत्पादक देश कतर में 2022 फुटबॉल वर्ल्ड कप की तैयारियां चल रही हैं. अगले दो वर्षों में यहां इन्फ्रास्ट्रक्चर पर 100 बिलियन डॉलर खर्च किए जाएंगे. इस धनराशि से नौ नए स्टेडियम, एयरपोर्ट, बंदरगाह, सड़कें और रेल प्रोजेक्ट्स तैयार किए जाएंगे. कतर विश्वकप 32 टीमों के पुराने फार्मेट में ही टूर्नामेंट आयोजित किया जाएगा.

09.मिताली राज ने टी20 क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा की

भारतीय क्रिकेट नियंत्रण बोर्ड (BCCI) ने मिताली राज के इस बड़े घोषणा की पुष्टि कर दी है. मिताली राज के नाम टी20 क्रिकेट में भारत की ओर से सबसे ज्यादा मैच खेलने और सबसे अधिक रन बनाने का रिकॉर्ड है. मिताली राज ने 89 टी-20 इंटरनेशनल मैचों में कुल 2,364 रन बनाए हैं जो इस फॉर्मेट में किसी भी भारतीय द्वारा सबसे ज्यादा है. वे अब ओडीआई पर फोकस करेंगी और साल 2021 विश्व कप की तैयारियों में अपनी ऊर्जा लगाएंगी.

मिताली राज ने भारतीय टीम की कप्तानी साल 2012 (श्रीलंका) में, साल 2014(बांग्लादेश) में तथा साल 2016(भारत) में टी20 विश्व कप में की थी. वे भारत के लिए सबसे पहले टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट में 2000 रन बनाने वाली खिलाड़ी बनी थीं. उन्होंने भारतीय पुरष टीम के सदस्य रोहित शर्मा तथा कप्तान विराट कोहली से भी पहले टी-20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 2000 रन पूरे किए थे.

10.भारतीय वायुसेना की बढ़ी ताकत, आठ अपाचे हेलिकॉप्टर वायुसेना में शामिल

इस एयरबेस पर अपाचे की तैनाती से भारतीय वायुसेना की ताकत और बढ़ जाएगी. अमेरिका से भारतीय वायसेना को कुल 22 अपाचे हेलिकॉप्टर मिलेंगे. भारतीय वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल बी एस धनोआ की मौजूदगी में पंजाब के पठानकोट एयरबेस पर 8 अपाचे हेलिकॉप्टर को शामिल कराया गया. अपाचे विश्व के सबसे आधुनिक लड़ाकू हेलिकॉप्टरों में एक है. अमेरिकी सेना भी दुश्मनों के विरुद्ध इसे अपना संकटमोचक मानती है.

अपाचे को विश्व का सबसे ताकतवर एवं खतरनाक हेलिकॉप्टर माना जाता है. इस हेलिकॉप्टर से बिल्कुल सटीक हमले किये जा सकते हैं. इस हेलिकॉप्टर में सटीक मार करने तथा जमीन से उत्पन्न खतरों के बीच प्रतिकूल हवाईक्षेत्र में परिचालित होने की क्षमता है. हेलिकॉप्टर के दोनों ओर 30 एमएम की दो गन लगे हैं. यह हेलिकॉप्टर करीब 293 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से उड़ान भर सकता है.

करेंट अफेयर्स ऐप से करें कॉम्पिटिटिव एग्जाम की तैयारी,अभी डाउनलोड करें| Android|IOS

Download our Current Affairs & GK app For exam preparation

डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप एग्जाम की तैयारी के लिए

AndroidIOS