CM योगी आदित्यनाथ का बड़ा फैसला, कोरोना से अनाथ हुए बच्चों का जिम्मेदारी लेगी सरकार

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संक्रमण के चलते अनाथ और निराश्रित हुए बच्चों को लेकर महत्वपूर्ण फैसला लिया है. उन्होंने कहा कि कोविड-19 महामारी के बीच प्रदेश के भीतर अनाथ अथवा निराश्रित हुए बच्चे अब राज्य की संपत्ति हैं.

Created On: May 20, 2021 14:30 ISTModified On: May 20, 2021 14:26 IST

यूपी में कोरोना महामारी के मरने वालों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी होती जा रही है. कोरोना महामारी ने कई घरों को उजाड़ दिया और बच्चों को अनाथ कर दिया है. उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए घोषणा किया है कि कोरोना महामारी के बीच अनाथ अथवा निराश्रित हुए बच्चों के लिए सरकार नीति लाएगी.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संक्रमण के चलते अनाथ और निराश्रित हुए बच्चों को लेकर महत्वपूर्ण फैसला लिया है. उन्होंने कहा कि कोविड-19 महामारी के बीच प्रदेश के भीतर अनाथ अथवा निराश्रित हुए बच्चे अब राज्य की संपत्ति हैं, उनका ध्यान रखने के लिए राज्य सरकार की तरफ से सभी जिम्मेदारियां निभाई जाएंगी.

विभाग को दिए निर्देश

सरकारी योजना के अंतर्गत कोविड-19 के कारण जिन बच्चों के माता-पिता का देहांत हो गया है, उनके भरण-पोषण सहित सभी तरह की जिम्मेदारी राज्य सरकार द्वारा मुहैया कराई जाएगी. सरकार जल्द ही इस योजना के तहत बच्चों की देखभाल का ज़िम्मा उठाएगी. महिला एवं बाल विकास विभाग को इस संबंध में तत्काल विस्तृत कार्य योजना तैयार करने के निर्देश दिए गए हैं.

प्राइमरी स्‍कूल के छात्रों के लिए भत्ता

इससे पहले राज्‍य में लागू लॉकडाउन के दौरान बंद प्राइमरी स्‍कूल के छात्रों के लिए राज्‍य सरकार भत्ता और अनाज देने का घोषणा किया. उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा विभाग प्राइमरी स्कूलों के छात्रों को लॉकडाउन की अवधि के लिए मिड-डे मील का भत्ता और अनाज देगी.

सरकार द्वारा आवश्यक कदम

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेशवासियों की स्वास्थ्य सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए सरकार द्वारा सभी आवश्यक कदम उठाए जा रहे हैं. यूपी में कोरोना संक्रमण के नए मामलों में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है.

सरकार करवाएगी सर्वेक्षण

मुख्यमंत्री ने ऐसे बच्चों को चिन्हित कर उन्हें सहारा प्रदान करने का निर्देश दिया है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर अब सभी जिलों में ऐसे बच्चों को चिन्हित करने के लिए सर्वेक्षण शुरू किया जाएगा. इनमें वे बच्चे भी शामिल हैं, जिनके परिजनों की कोरोना संक्रमण की जांच नहीं हो सकी, लेकिन माता-पिता का किन्ही भी वजहों से निधन हो गया. 

अधिक कोरोना केस वाला दुनिया का दूसरा देश

भारतीय चिकित्‍सा अनुसंधान परिषद (ICMR) के अनुसार, देश में कोविड-19 के लिए अबतक 32,03,01,177 सैम्‍पल टेस्‍ट किए जा चुके हैं. वहीं, दुनिया में कोरोना के मामलों की बात की जाए तो भारत कुल 2.5 करोड़ से अधिक कोरोना वायरस केस वाला दुनिया का दूसरा देश है. इस मामले में पहले स्‍थान पर अमेरिका है. जबकि ब्राजील तीसरे स्‍थान पर है. ब्राजील में अबतक 1.60 करोड़ के करीब कोरोना के मामले आए हैं.

Take Weekly Tests on app for exam prep and compete with others. Download Current Affairs and GK app

एग्जाम की तैयारी के लिए ऐप पर वीकली टेस्ट लें और दूसरों के साथ प्रतिस्पर्धा करें। डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप

AndroidIOS
Comment ()

Post Comment

1 + 9 =
Post

Comments