1. Home
  2.  |  
  3. GENERAL KNOWLEDGE
  4.  |  
  5. अर्थव्यवस्था

अर्थव्यवस्था

General Knowledge for Competitive Exams

Read: General Knowledge | General Knowledge Lists | Overview of India | Countries of World

यस बैंक संकट क्या है: जानें 5 मुख्य कारण

Mar 7, 2020
वर्तमान में भारत का बैंकिंग सेक्टर भारी संकट से गुजर रहा है. अब एक और वाणिज्यिक बैंक, यस बैंक संकट में है. इस बैंक के पास 24000 करोड़ अमेरिकी डॉलर की देयदरियां हैं.  RBI ने यस बैंक के ग्राहकों के लिए 5 मार्च से 3 अप्रैल तक प्रति ग्राहक 50000 रुपये की निकासी की सीमा निर्धारित की है ताकि सभी खाताधारकों को कुछ ना कुछ पैसा दिया जा सके.

भारत में सभी सार्वजनिक और निजी क्षेत्र के बैंकों की सूची 2020

Feb 26, 2020
वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने 30 अगस्त 2019 को 10 सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों (Public Sector Banks का 4 बड़े सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में विलय कर दिया था. वर्तमान में भारत में सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों की संख्या घटकर 12 रह गई है जो कि 2017 में 27 थी. आइये इस लेख में जानते हैं कि भारत में कौन कौन से सार्वजानिक बैंक हैं?

प्राचीन भारतीय मुद्राओं का क्या इतिहास है और इनकी वैल्यू कितनी होती थी?

Feb 24, 2020
फूटी कौड़ी (Footie Cowrie), धेला (Dhela), दमड़ी (Damri), पाई और  पैसा ये भारतीय सिक्कों की ऐसी इकाइयाँ हैं जो कि बहुत पहले ही चलन से बाहर हो गयी हैं. वर्तमान पीढ़ी के बच्चों ने इन सिक्कों को शायद कभी नही देखा होगा. इसी बात को ध्यान में रखते हुए हमने यह लेख प्रकशित किया है, जिसमें यह बताया गया है कि किस सिक्के की वैल्यू कितनी होती थी?

उत्तर प्रदेश बजट 2020-21 की मुख्य बातें

Feb 20, 2020
उत्तर प्रदेश की योगी सरकार में वित्त मंत्री श्री सुरेश खन्ना ने 2020-21 के लिए 5,12,860 करोड़ रुपये का बजट पेश किया था. यह प्रदेश के इतिहास का सबसे बड़ा बजट था. यह बजट पिछले बजट के आकार से 33,159 करोड़ रूपये अधिक है. उत्तर प्रदेश बजट 2020-21 के बजट आकलन के अनुसार कुल प्राप्तियां 5,00,558 करोड रूपये और कुल व्यय 5,12,860 करोड रूपये अनुमानित है.

तेल और गैस के भंडारों का पता कैसे लगाया जाता है?

Feb 19, 2020
What is the process of oil exploration:तेल एवं गैस शोध कार्य के दौरान 200 फीट तक बोरिंग की जाती है ढाई किलो ग्राम का बम या डायनामाइट नीचे डालकर विस्फोट कराया जाता है. इसकी धमक से दस किलोमीटर क्षेत्र की जमीन कांप जाती है. विस्फोट के बाद उत्पन्न सीस्मिक तरंगों को भूकंपीय फोन (seismic phone) की मदद से रिकॉर्ड किया जाता है. इसके बाद इन तरंगों का अध्ययन करके तेल और गैस के भंडारों का पता लगाया जाता है.

डॉलर दुनिया की सबसे मज़बूत मुद्रा क्यों मानी जाती है?

Feb 18, 2020
एक समय था जब एक अमेरिकी डॉलर सिर्फ 4.16 रुपये में खरीदा जा सकता था, लेकिन इसके बाद साल दर साल रुपये का सापेक्ष डॉलर महंगा होता जा रहा है अर्थात एक डॉलर को खरीदने के लिए अधिक डॉलर खर्च करने पास रहे हैं. ज्ञातव्य है कि 1 जनवरी 2018 को एक डॉलर का मूल्य 63.88 था और 18 फरवरी, 2020 को यह 71.39 रुपये हो गया है. आइये इस लेख में जानते हैं कि डॉलर दुनिया में सबसे मजबूत मुद्रा क्यों मानी जाती है?

नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI): उद्येश्य, और उपलब्धियां

Feb 18, 2020
नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI), की स्थापना 2008 में कंपनी अधिनियम, 2013 की ‘धारा 8’ के तहत पंजीकृत एक गैर-लाभकारी संगठन के रूप में भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) और भारतीय बैंक संघ (IBA) द्वारा की गयी थी. NPCI के द्वारा कई उत्पाद जैसे भीम एप, रूपए कार्ड और IMPS लांच किये गये हैं. आइये इस लेख में NPCI के बारे में बहुत सारी जानकारी इकठ्ठा करते हैं.

फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स की ग्रे लिस्ट और ब्लैक लिस्ट क्या हैं?

Feb 18, 2020
The Financial Action Task Force (FATF) एक स्वतंत्र अंतर-सरकारी निकाय है जो आतंकी फंडिंग और मनी लॉन्ड्रिंग जैसी गतिविधियों के लिए ग्लोबल फाइनेंशियल सिस्टम के दुरूपयोग को रोकने के लिए प्रयास करता है. आतंकी गतिविधियों को फंडिंग उपलब्ध कराने के कारण FATF ने पाकिस्तान को ग्रे लिस्ट में डाला हुआ है.

वित्त मंत्रालय ने एक रुपये का नया नोट छापना क्यों शुरू किया है?

Feb 13, 2020
भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) एक रुपये के नोट को छोड़कर सभी मूल्यवर्ग के करेंसी नोट छापता है. एक रुपये का नोट वित्त मंत्रालय द्वारा छापा जाता है. भारत सरकार के वित्त मंत्रालय ने फैसला किया है कि एक रुपये का नया नोट फिर से छापा जायेगा. आइये इस लेख में जानते हैं कि सरकार ने नया एक रुपये का नोट छापना क्यों शुरू किया है और इस नोट की क्या क्या विशेषताएं हैं?

जानें अकबर के शासन के दौरान अमेरिकियों की तुलना में भारतीय कितने अमीर थे?

Feb 7, 2020
ग्रोनिंगेन विश्वविद्यालय, नीदरलैंड की एक रिपोर्ट के मुताबिक जब भारत में अकबर का शासन था उस समय भारत की प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद आज के ज़माने में विकसित देश कहे जाने वाले फ़्रांस, जर्मनी, अमेरिका और जापान से भी अधिक थी. आइये इस लेख में जानते हैं कि मुगलों के समय भारत की आर्थिक दशा किस प्रकार की थी?

स्विस बैंक में खाता खोलने के लिए क्या योग्यता होती है?

Feb 5, 2020
स्विस बैंक और काला धन ये दोनों शब्द भारत की राजनीति में कोहराम मचा देते हैं. अपुष्ट ख़बरों में कहा गया है कि भारतीयों द्वारा विदेशों में भारत के सकल घरेलू उत्पाद का कम से कम 10% से लेकर 120% तक काला धन जमा है. लेकिन अब सवाल यह उठता है कि आखिर स्विट्ज़रलैंड की बैंकों में खाता खुलवाने के लिए कम से कम कितने रुपये की जरूरत पड़ती है? आइये इस लेख में जानते हैं.

जानें बजट के बारे में 11 रोचक तथ्य

Feb 4, 2020
क्या आपको पता है कि पहली बार बजट कब पेश किया गया था या बजट डॉक्युमेंट की प्रिंटिंग कहां होती है? यदि आपका उत्तर नहीं है तो आइए इस लेख में हम उपरोक्त प्रश्नों के अलावा बजट से संबंधित 11 रोचक तथ्यों का विवरण दे रहें हैं जिससे आपको बजट को समझने में और आसानी होगी. 

विकसित और विकासशील देशों के बीच क्या अंतर होता है?

Feb 3, 2020
देशों को उनकी आर्थिक स्थिति के आधार पर 2 श्रेणियों में बांटा गया है. विकसित देश और विकासशील देश. इन देशों का वर्गीकरण विभिन्न आर्थिक कारकों जैसे प्रति व्यक्ति आय, सकल घरेलू उत्पाद, जीवन स्तर, शिक्षा का स्तर, जीवन प्रत्याशा आदि पर किया जाता है. आइये इस लेख में जानते हैं कि किन देशों को किस श्रेणी में रखा गया है?

भारतीय बजट के बारे में 7 ऐसे प्रश्न जो आप नही जानते हैं

Jan 31, 2020
स्वतंत्र भारत के पहले केंद्रीय बजट को R.K. शणमुखम चेट्टी द्वारा 26 नवम्बर ,1947 को पेश किया गया था. भारतीय संविधान में बजट शब्द का उल्लेख नहीं है बल्कि अनुच्छेद 112 में 'वार्षिक वित्तीय विवरण' का जिक्र किया गया है. बजट (Budget), केंद्र सरकार की एक चित्त वर्ष के दौरान होने वाली आय और व्यय का व्यौरा होता है.

क्या भारत सरकार नए नोट छापकर विदेशी कर्ज चुका सकती है?

Jan 31, 2020
दिसम्बर 2014 में भारत के ऊपर कुल विदेशी ऋण 462 अरब डॉलर था जो कि सकल घरेलू उत्पाद का 23.2% था. लेकिन इसमें साल दर साल वृद्धि होती गयी और जून 2019 में बढ़कर 557 अरब डॉलर हो गया है जो कि सकल घरेलू उत्पाद का 19.8% है. आंकड़े बताते हैं कि पिछले 5 सालों में मोदी सरकार के शासन में देश के ऊपर 95 अरब डॉलर का कर्ज बढ़ा है. लोग यह तर्क दे रहे हैं क्या इस कर्ज को भारत में नयी करेंसी छापकर चुकाया जा सकता है? आइये समझते हैं कि क्या ऐसा संभव है?

केन्द्रीय बजट क्या है: परिभाषा एवं प्रकार

Jan 30, 2020
साधारण शब्दों में बजट (Budget), सरकार की एक चित्त वर्ष के दौरान होने वाली आय और व्यय का व्यौरा होता है. केंद्र सरकार, बजट के माध्यम से देश को यह बताती है कि उसको किन मदों से आय प्राप्त होगी और वह किन मदों पर कितना खर्च करेगी?  इस लेख में हम बजट की परिभाषा, उद्येश्यों और उसके प्रकारों का विवरण दे रहे हैं, जिसकी मदद से आप बजट को और भी अच्छी तरह से समझ सकते हैं.

भारतीय नोटों पर गाँधी जी की तस्वीर कब से छपनी शुरू हुई थी?

Jan 28, 2020
एक RTI के जवाब में केंद्र सरकार और रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने बताया था, कि नोट के दाहिनी तरफ गांधी जी की तस्वीर को छापने की सिफारिश 13 जुलाई 1995 को RBI ने केंद्र सरकार को की थी. इसके बाद आरबीआई ने 1996 में नोटों में बदलाव का फैसला लिया और अशोक स्तंभ की जगह राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के फोटो का इस्तेमाल किया गया.

गर्ल चाइल्ड डे (24 जनवरी): गर्ल्स के लिए भारत सरकार की प्रमुख योजनायें

Jan 24, 2020
महिलाओं के विकास के बिना देश और समाज का विकास अधूरा है.इसीलिए सरकार ने बच्चियों के सशक्तिकरण और विकास के लिए सुकन्या समृद्धि योजना और कस्तूरबा गाँधी बालिका विद्यालय योजना और बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ जैसी योजनाओं की शुरुआत की है. आइये इस गर्ल चाइल्ड डे (24 जनवरी) के मौके पर जानते हैं कि सरकार ने गर्ल्स के कल्याण के लिए कौन सी योजनायें शुरू की हैं?

ब्रिटेन को यूरोपीय संघ से अलग होने के क्या फायदे होंगे?

Jan 21, 2020
BREXIT का मतलब है, ब्रिटेन का यूरोपियन यूनियन से एग्जिट. यह घटना पूरे यूरोपियन मार्किट की सबसे चर्चित घटना है. ब्रिटेन के वर्तमान प्रधानमन्त्री बोरिस जॉनसन, BREXIT चाहते हैं लेकिन इसमें कई दिक्कतें हैं इस कारण यह प्रक्रिया पूरी नहीं हो पा रही है. आइये इस लेख में पूरी BREXIT प्रक्रिया से ब्रिटेन को होने वाले फायदे और नुकसान के बारे में जानते हैं.

चिट फण्ड क्या होता है और कैसे काम करता है?

Jan 20, 2020
आपने देखा होगा कि कुछ झूठे लोग, अशिक्षित लोगों को 3 माह में पैसा डबल करने का लालच देकर, उनका पैसा लेकर रफूचक्कर हो जाते हैं. शारदा चित फण्ड धोखाधड़ी मामला इसी तरह का एक उदाहरण है. भारत में चिट फंड का रेगुलेशन चिट फंड अधिनियम, 1982 के द्वारा होता है. आइये जानते हैं कि चित फण्ड (Chit Fund)क्या होता है?

Register to get FREE updates

    All Fields Mandatory
  • (Ex:9123456789)
  • Please Select Your Interest
  • Please specify

  • ajax-loader
  • A verifcation code has been sent to
    your mobile number

    Please enter the verification code below

Loading...
Loading...
Get App