Jagran Josh Logo
  1. Home
  2.  |  
  3. पर्यावरण और पारिस्थितिकीय

पर्यावरण और पारिस्थितिकीय

General Knowledge for Competitive Exams

Read: General Knowledge | General Knowledge Lists | Overview of India | Countries of World

जानें LED बल्बों का अधिक इस्तेमाल हमारे लिए खतरनाक क्यों है

Dec 11, 2017
पिछले कुछ वर्षों में उर्जा संरक्षण के प्रतीक बन चुके LED बल्बों की लोकप्रियता काफी बढ़ गई है. लेकिन क्या आपको पता है कि LED बल्बों का अधिक इस्तेमाल हमारे लिए खतरनाक है? इस लेख में हम उन विभिन्न पहलुओं का विस्तृत विवरण दे रहे हैं, जिसके आधार पर यह कहा जा सकता है कि LED बल्बों का अधिक इस्तेमाल हमारे लिए खतरनाक क्यों है?

कृत्रिम वर्षा क्या होती है और कैसे करायी जाती है?

Nov 16, 2017
भारत में कई बार पर्याप्त वर्षा ना होने के कारण फसलें अक्सर चौपट हो जाती है इसलिए यहाँ के किसान कर्ज के तले दबे हुए हैं. वैज्ञानिकों ने बारिश की अनिश्चिता या कम बारिश की समस्या से निपटने के लिए कृत्रिम वर्षा का उपाय खोजा है. कृत्रिम वर्षा कराने के लिए कृत्रिम बादल बनाये जाते हैं जिन पर सिल्वर आयोडाइड और सूखी बर्फ़ जैसे ठंठा करने वाले रसायनों का प्रयोग किया जाता है जिससे कृत्रिम वर्षा होती है.

दुनिया भर में वन्य जीवों के क्षेत्रीय वितरण की सूची

Nov 15, 2017
जानवरों का वितरण पर्यावरण एवं पारिस्थितिकी के साथ-साथ जू-जिगोग्राफी में अध्ययन का एक महत्वपूर्ण क्षेत्र है, जो पशुओं की विभिन्न प्रजातियों की विशेषताओं, वर्गीकरण, स्थानिक वितरण, संघ और प्रवास से संबंधित है। जंगली जानवरों का क्षेत्रीय वितरण जंगली जानवर और विद्यमान पर्यावरणीय परिस्थितियों के बीच घनिष्ठ संबंध हैं।

दुनिया भर में फैले विश्व स्तरीय महत्वपूर्ण कृषि विरासत प्रणाली की सूची

Nov 15, 2017
विश्व स्तरीय महत्वपूर्ण कृषि विरासत प्रणाली (GIAHS) कृषि जैव विविधता और संबंधित वन्य जीवन में समृद्ध है और स्वदेशी ज्ञान एवं संस्कृति का महत्वपूर्ण संसाधन है। यहां, हम सामान्य जागरूकता के लिए दुनिया भर में फैले विश्व स्तरीय महत्वपूर्ण कृषि विरासत प्रणाली की सूची दे रहे हैं।

भारत में विश्व स्तरीय महत्वपूर्ण कृषि विरासत प्रणाली (GIAHS) स्थलों की सूची

Nov 15, 2017
खाद्य एवं कृषि संगठन (FAO) ने विश्व स्तरीय महत्वपूर्ण कृषि विरासत प्रणाली स्थलों के प्रति सार्वजनिक जागरूकता पैदा करने और सुरक्षा के उद्देश्य से वैश्विक कृषि विरासत प्रणाली (GIAHS) की शुरुआत की थी। भारत में कृषि विरासत प्रणाली (GIAHS) शहरों के रूप में ओडिशा राज्य में स्थित कोरापुट, कश्मीर घाटी में स्थित पंपोर क्षेत्र और कुट्टानड़ को मान्यता दी गई है. यहां, हम सामान्य जागरूकता के लिए भारत में स्थित वैश्विक कृषि विरासत प्रणाली (GIAHS) की सूची और क्यों इन क्षेत्रों को FAO द्वारा चुना गया है, उसका विवरण दे रहे हैं।

भारत में सबसे कम प्रदूषित शहरों की सूची

Nov 9, 2017
तेजी से हो रहे शहरीकरण और औद्योगिकीकरण के कारण भारतीय शहरों के वातावरण में गंभीर असंतुलन उत्पन्न हो गया है, जिसके कारण प्रदूषण का स्तर बढ़ रहा है. इस लेख में हम दुनिया के 1600 से अधिक शहरों में विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) द्वारा किए गए हालिया सर्वेक्षण के आधार पर 123 भारतीय शहरों में सबसे कम प्रदूषित शहरों की सूची दे रहे हैं.

पर्यावरण को दूषित करने वाले पार्टिकुलेटो (कणों) की सूची

Nov 9, 2017
पार्टिकुलेट से अभिप्राय यह है की ऐसे ठोस सामग्री के छोटे टुकड़े (उदाहरण के लिए, आग से धुआं कण, एस्बेस्टोस का टुकड़ा, धूल कण और उद्योगों से निकला राख) जो वातावरण में तितर-बितर या फिर घूल-मिल जाते हैं। ये न केवल बाह्य कारणों की वजह से पैदा नहीं होते हैं, बल्कि आंतरिक कारणों से भी पैदा होते हैं। इस लेख में हम ऐसे पार्टिकुलेटो (कणों) की सूची दे रहे हैं जो स्वस्थ पर्यावरण की दृष्टि से खतरनाक हैं।

स्मोग क्या है और यह हमारे लिए कैसे हानिकारक है?

Nov 8, 2017
स्मोग दो शब्दों अर्थात धुंए (स्मोक) और कोहरे (फॉग) से मिलकर बना है| जिसकी वजह से सांस लेना मुश्किल हो जाता है | यह एक पीला या काला कोहरा होता है जो वायु प्रदूषण के एक मिश्रण से बना है, जिसमें मुख्य रूप से नाइट्रोजन आक्साइड, सल्फर आक्साइड आदि गैसें होती है जो कि सूर्य के प्रकाश के साथ गठबंधन कर ओजोन का निर्माण करते हैं। इसमें हम पढेंगें कि स्मोग क्या है और यह हमारे लिए कैसे हानिकारक है?

प्रमुख प्रदूषकों, उनके स्रोतों और मानव तथा पर्यावरण पर उनके प्रभावों की सूची

Sep 27, 2017
प्रदूषक एक ऐसा पदार्थ है जो विशेषकर पानी या वायुमंडल को प्रदूषित करता है. यह ज्वालामुखी विस्फोट, कोयला और गैसोलीन को जलाने तथा अन्य मानवीय गतिविधियों के माध्यम से वातावरण में प्रवेश करता है। यहां, हम सामान्य जागरूकता के लिए प्रमुख प्रदूषकों की सूची, उनके स्रोत और मानव और पर्यावरण पर उनके प्रभाव का विवरण दे रहे हैं ।

प्रमुख भारतीय फसलों और उनके उत्पादक राज्यों की सूची

Sep 21, 2017
भारत में कृषि सबसे बड़ी आजीविका प्रदाता है, साथ ही भारत के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में कृषि का महत्वपूर्ण योगदान है। इस लेख में हम "प्रमुख भारतीय फसलों और उनके उत्पादक राज्यों की सूची" दे रहे हैं जो UPSC-prelims, SSC, State Services, NDA, CDS, और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्र-छात्राओं के लिए बहुत उपयोगी है।

विश्वव्यापी हॉट स्पॉट क्षेत्रों की सूची

Sep 13, 2017
हॉट स्पॉट जैव विविधता वाले ऐसे क्षेत्र हैं, जहां जैव विविधता के कई महत्वपूर्ण स्तर दिखाई पड़ते हैं। लेकिन मानवीय गतिविधियों के कारण इन जैव विविधताओं की स्थित खतरनाक हो गई है। किसी हॉट स्पॉट की प्राथमिकता स्थिति को कई महत्वपूर्ण कारक निर्धारित करते हैं। यहां, हम विश्वव्यापी हॉट स्पॉट क्षेत्रों की सूची दे रहे हैं जो न केवल विभिन्न परीक्षाओं के इच्छुक लोगों के सामान्य ज्ञान को बढ़ाएगा बल्कि सामान्य पाठकों के लिए भी लाभकारी होगा।

भारत में पाये जाने वाली विदेशी वनस्पतियो की सूची

Sep 4, 2017
विदेशी वनस्पतियां ऐसे वनस्पति को कहते हैं जो सामान्यतः विदेशी मूल के होते हैं एवं किसी विशेष जैव विविधता के अंतर्गत पाये जाने वाले मूल पौधों और जानवरों के अस्तित्व के ऊपर सवालिया निशान लगाते हैं। इस तरह के वनस्पति समूह में पाये जाते हैं तथा ये अपने अस्तित्व को बचाने के लिए किसी विशेष क्षेत्र की मूल वनस्पतियों के अस्तित्व को समाप्त करने की ताकत रखते हैं। इस लेख में हम भारत में पाये जाने वाली विदेशी वनस्पतियो की सूची दे रहे हैं जिसका प्रयोग विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी में अध्ययन सामग्री के रूप में किया जा सकता है।

भारत के सदाबहार वन क्षेत्रो की सूची

Aug 30, 2017
सदाबहार वन ऐसे पेड़ों और झाड़ियों का समूह है जो तटीय खारा या खारे पानी में बढ़ता है। यह दुनिया भर में उष्णकटिबंधीय और उपोष्णकटिबंधीय क्षेत्रों में पाए जाते हैं, मुख्य रूप से 25° N और 25° S अक्षांश के बीच। इस लेख में हम भारत के सदाबहार वन क्षेत्रो की सूची रहे हैं जिसका प्रयोग विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी में अध्ययन सामग्री के रूप में किया जा सकता है।

यूनेस्को एमएबी सूची में शामिल भारत के बायोस्फीयर रिजर्वो की सूची

Aug 30, 2017
बायोस्फीयर रिजर्व, प्राकृतिक और सांस्कृतिक परिदृश्य का प्रतिनिधित्व करता है जिनका विस्तार स्थलीय या तटीय / समुद्री पारिस्थितिकी प्रणालियों या इनके मिश्रण वाले बड़े क्षेत्र में होता है| उदाहरण के रूप में: जैव-भौगोलिक क्षेत्र/प्रांत। इस लेख में हमने ऐसे भारतीय बायोस्फीयर रिजर्व के नाम दिए हैं जो यूनेस्को एमएबी की सूची में शामिल किये गए हैं जिसका प्रयोग विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी में अध्ययन सामग्री के रूप में किया जा सकता है।

भारत के अधिसूचित हाथी रिजर्व की सूची

Aug 29, 2017
भारत में संरक्षित वन क्षेत्र नेटवर्क के अंतर्गत 730 संरक्षित क्षेत्र (103 राष्ट्रीय उद्यान, 535 वन्यजीव अभ्यारण्य, 66 सुरक्षित संरक्षण क्षेत्र और 26 सामुदायिक क्षेत्र) शामिल हैं। हाथियों की मौजूदा आबादी को उनके प्राकृतिक आवास स्‍थलों में दीर्घकालिक जीवन सुनिश्‍चित करने के लिए पर्याप्‍त संख्‍या में हाथियों की आबादी वाले राज्‍यों की सहायता करने की बाबत फरवरी, 1992 में हाथी परियोजना शुरू की गई थी। इस लेख में हम भारत के अधिसूचित हाथी रिजर्व की सूची दे रहे हैं जिसका प्रयोग विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी में अध्ययन सामग्री के रूप में किया जा सकता है।

भारत में बायोस्फीयर रिजर्व की सूची

Aug 28, 2017
यूनेस्को की अंतर्राष्ट्रीय सह-समन्वय परिषद (आईसीसी) ने नवम्बर 1971 में प्राकृतिक क्षेत्रों के लिए 'बायोस्फीयर रिजर्व' का नाम दिया। उनके पदनाम के बाद, बायोस्फीयर रिजर्व राष्ट्रीय सार्वभौम अधिकार क्षेत्र के अधीन है, लेकिन फिर भी वे अपने अनुभव और विचार राष्ट्रीय स्तर पर, क्षेत्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर बायोस्फीयर रिजर्व (डब्ल्यूएनबीआर) के विश्व नेटवर्क के परिधि के अंदर ही काम करते हैं। इस लेख में हम भारत में बायोस्फीयर रिजर्व की सूची दे रहे हैं जिसका प्रयोग विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी में अध्ययन सामग्री के रूप में किया जा सकता है।

भारत में रामसर नामित आर्द्रभूमि की सूची

Aug 25, 2017
आर्द्रभूमि, वह भूमि है जो स्थलीय और जलीय पारिस्थितिकी प्रणालियों में जहां पानी का तल प्रायः जमीन की सतह पर या जमीन की सतह के पास है या जहां जमीन उथले पानी के द्वारा ढकी रहती है, के बीच संक्रमित होती रहती है।" इस लेख में हम भारत में रामसर नामित आर्द्रभूमि की सूची दे रहे हैं जिसका प्रयोग विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी में अध्ययन सामग्री के रूप में किया जा सकता है।

भारत के प्रोजेक्ट टाइगर रिजर्व की सूची

Aug 25, 2017
केंद्र प्रायोजित योजना बाघ परियोजना अप्रैल 1973 में शुरू की गयी थी इसका उद्धेश्य वैज्ञानिक, आर्थिक, कलात्मक, सांस्कृतिक और पारिस्थितिक मूल्यों के लिए बाघों की आबादी के रखरखाव को सुनिश्चित करना और लोगो के लाभ, शिक्षा और मनोरंजन के लिए इसकी जैविक महत्ता को देखते हुए एक राष्ट्रीय धरोहर के रूप में हर समय इसकी रक्षा करना है। इस लेख में हम भारत के प्रोजेक्ट टाइगर रिजर्व की सूची दे रहे हैं जिसका प्रयोग विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी में अध्ययन सामग्री के रूप में किया जा सकता है।

दुनिया के 10 सबसे अधिक प्रदूषण फ़ैलाने वाले देश

Aug 21, 2017
यूरोपीय आयोग और नीदरलैंड पर्यावरण आकलन एजेंसी द्वारा जारी किए गए “एडगर डेटाबेस” के अनुसार विश्व में सबसे अधिक कार्बन डाइऑक्साइड गैस का उत्सर्जन करने वाला देश चीन है जबकि सर्वाधिक प्रति व्यक्ति कार्बन डाइऑक्साइड गैस का उत्सर्जन करने वाला देश अमेरिका है. यहाँ पर एक चौकाने वाला तथ्य यह है कि दुनिया के 10 सबसे बड़े कार्बन डाइऑक्साइड उत्पादक देशों का कुल कार्बन डाइऑक्साइड गैस के उत्पादन में 67.6% का योगदान है और इसमें में लगभग 30% योगदान अकेले चीन का है.

भारत के वृक्षवाटिकाओ (Sacred Groves) की सूची

Aug 17, 2017
भारतीय संस्कृति में माना जाता है कि पेड़ों में मनुष्यों की तरह जीवन है जो हमारी तरह दर्द और खुशी को महसूस करते हैं इसलिए पेड़ और उनके उत्पाद हमारे अनुष्ठानों और समारोहों का एक विशिष्ट हिस्सा हैं। भारत अपने विविधता के लिए जाना जाता है जिसमे पवित्र वनस्पतियों और पशुवर्ग की विविधता के महत्वपूर्ण भंडार हैं जो स्थानिये समुदायों द्वारा संरक्षित हैं। हम यहाँ भारत के वृक्षवाटिकाओ (Sacred Groves) की सूची दे रहे हैं, जिसका प्रयोग विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी में अध्ययन सामग्री के रूप में किया जा सकता है।

Latest Videos

Register to get FREE updates

    All Fields Mandatory
  • (Ex:9123456789)
  • Please Select Your Interest
  • Please specify

  • ajax-loader
  • A verifcation code has been sent to
    your mobile number

    Please enter the verification code below

Newsletter Signup
Follow us on
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK