1. Home
  2.  |  
  3. भारत दर्शन

भारत दर्शन

General Knowledge for Competitive Exams

Read: General Knowledge | General Knowledge Lists | Overview of India | Countries of World

जानें क्या है आर्टिकल 370?

1 day ago
आर्टिकल 370 को भारत के संविधान में शामिल किया गया था. यह आर्टिकल स्पष्ट रूप से कहता है कि रक्षा, विदेशी मामले और संचार के सभी मामलों में पहल भारत सरकार करेगी. इन प्रावधानों को 17 नवंबर 1952 से लागू किया गया था. आर्टिकल 370 के कारण जम्मू & कश्मीर का अपना संविधान है और इसका प्रशासन इसी के अनुसार चलाया जाता है ना कि भारत के संविधान के अनुसार.

जम्मू एवं कश्मीर के संविधान की क्या विशेषताएं हैं?

3 days ago
जम्मू एवं कश्मीर भारतीय गणतंत्र में शामिल एक मात्र ऐसा प्रदेश है जिसके पास अपना स्वयं का संविधान है और राष्ट्रीय झंडा है. इस प्रदेश में भारत का संविधान भी लागू होता है और यहाँ के स्थायी निवासियों को भारत के नागरिकों को मिलने वाले सभी अधिकार मिलते हैं. इस लेख में हम जम्मू एवं कश्मीर के संविधान की मुख्य विशेषताओं के बारे में जानेंगे.

पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (POK) के बारे में 15 रोचक तथ्य और इतिहास

3 days ago
पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर भारत के जम्मू व कश्मीर राज्य का वह हिस्सा है जिस पर पाकिस्तान ने 1947 में हमला कर अधिकार कर लिया था. पाकिस्तान ने इसे प्रशासनिक रूप से दो हिस्सों में बांट रखा है, जिन्हें सरकारी भाषा में आज़ाद जम्मू-ओ-कश्मीर और गिलगित-बल्तिस्तान कहते हैं. पाकिस्तान में आज़ाद जम्मू-ओ-कश्मीर को केवल आज़ाद कश्मीर भी कहते हैं. यहाँ के लोगों मी जीविका का मुख्य साधन कृषि, पशुपालन, पर्यटन और कालीन उद्योग हैं.

कुंभ मेले का संक्षिप्त इतिहास: कुंभ मेले की शुरुआत किसने और कब की

Feb 13, 2019
कुंभ मेले का अपना ही महत्व है. इसका आयोजन भारत में चार स्थानों पर किया जाता है. दुनिया के विभिन्न हिस्सों से लोग इस मेले में शामिल होते हैं और पवित्र नदी में स्नान करते हैं. हिंदू पौराणिक कथाओं के अनुसार, कुंभ मेला 12 वर्षों के दौरान चार बार मनाया जाता है. इसमें कोई संदेह नहीं है कि, यह मेला दुनिया का सबसे बड़ा धार्मिक और संस्कृति का प्रतीक है. यह मेला 48 दिनों तक चलता है. आइये इस लेख के माध्यम से कुंभ का अर्थ जानते हैं, इसे क्यों मनाया जाता है, इसके पीछे का इतिहास क्या है, किसने कुंभ मेले की शुरुआत की थी, इत्यादि. आइये लेख के माध्यम से अध्ययन करते हैं.

दक्षिण अफ्रीका से भारत तक महात्मा गाँधी की यात्रा एवं उनके प्रयोग

Feb 1, 2019
मोहनदास करमचंद गांधी जिन्हें 'महात्मा गांधी या बापू' के नाम से जाना जाता है, का जन्म 2 अक्टूबर 1869 को हुआ था। वे निस्संदेह एक महान व्यक्ति थे, व्यक्तिगत बल और राजनीतिक प्रभाव से भारत में स्वतंत्रता के संघर्ष के चरित्र को ढाला था। उनकी सत्याग्रह की अवधारणा की नींव सम्पूर्ण अहिंसा के सिद्धान्त पर रखी गयी थी जिसने भारत को आजादी दिलाकर पूरी दुनिया में जनता के नागरिक अधिकारों एवं स्वतन्त्रता के प्रति आन्दोलन के लिये प्रेरित किया। इस लेख में हमने दक्षिण अफ्रीका से भारत तक महात्मा गाँधी की यात्रा एवं उनके प्रयोगों पर चर्चा की है जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है।

क्या आप भारतीय झंडा संहिता,2002 के बारे में जानते हैं?

Jan 28, 2019
भारतीय राष्ट्रीय ध्वज का प्रदर्शन; प्रतीक और नाम (अनुचित प्रयोग का निवारण) अधिनियम, 1950 और राष्ट्रीय गौरव अपमान निवारण अधिनियम,1971 उपबंधों के अनुसार नियंत्रित होता है. भारतीय ध्वज संहिता, 2002 में इन सभी नियमों, रिवाजों, औपचारिकताओं और निर्देशों को एक साथ लाने के प्रयास किया गया है. इस लेख में हमने भारतीय ध्वज संहिता, 2002 में वर्णित मुख्य नियमों, रिवाजों, औपचारिकताओं और निर्देशों को बताया है.

गणतंत्र दिवसः भारतीय गणतंत्र की यात्रा

Jan 25, 2019
भारत 15 अगस्त 1947 को ब्रिटिश शासन से स्वतंत्र हुआ था और तब हमारे देश के पास संविधान नहीं था | 26 जनवरी 1950 को संविधान को अंगीकार किया गया था और उस दिन के बाद से प्रत्येक वर्ष पूरे देश में 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के रूप में बहुत गर्व और खुशी के साथ मनाया जाता है। यह लेख भारतीय गणतंत्र दिवस के इतिहास, उत्पत्ति और पृष्ठभूमि से संबंधित है।

26 जनवरी की परेड से संबंधित 13 रोचक तथ्य

Jan 25, 2019
हर साल आप 26 जनवरी के अवसर पर राजपथ पर आयोजित परेड को दूरदर्शन के माध्यम से देखते हैं| लेकिन क्या आपको पता है कि 26 जनवरी की परेड के आयोजन की जम्मेवारी किसकी है एवं इसके आयोजन में कितना खर्च होता है? इस लेख में हम 26 जनवरी की परेड से जुड़े 13 रोचक तथ्यों का विवरण दे रहें हैं|

कौन से गणमान्य व्यक्तियों को वाहन पर भारतीय तिरंगा फहराने की अनुमति है?

Jan 25, 2019
आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि भारत के हर व्यक्ति को अपनी कार पर राष्ट्रीय ध्वज फहराने की अनुमति नही है. हमारे देश में केवल कुछ गणमान्य व्यक्तियों को ही ऐसा करने की अनुमति है. भारतीय ध्वज संहिता, 2002 ने उन गणमान्य व्यक्तियों का नाम सूचीबद्ध किया है जो कि अपनी कारों पर राष्ट्रीय ध्वज फहरा सकते हैं. इस लेख में सभी गणमान्य व्यक्तियों के नामों की सूची दी गयी है.

‘जन गण मन’: भारत का राष्ट्र गान

Jan 25, 2019
भारत के राष्ट्रगान ‘जन गण मन’ की रचना नोबेल पुरस्कार प्राप्त भारतीय कवि रवीन्द्रनाथ टैगोर द्वारा मूलतः बांग्ला भाषा में 1911 ई. में की गयी थी| ‘जन गण मन’ के हिंदी संस्करण को भारतीय संविधान सभा द्वारा 24 जनवरी,1950 को राष्ट्रगान के रूप में स्वीकृति प्रदान की गयी| ‘जन गण मन’ को पहली बार 27 दिसंबर,1911 को कांग्रेस के कलकत्ता अधिवेशन में गाया गया था|

राफेल जैसे दुनिया के 6 सबसे खतरनाक लड़ाकू विमान

Jan 24, 2019
F-22 रैप्‍टर; अमेरिका द्वारा बनाया गया यह लड़ाकू विमान आज की दुनिया में पांचवीं पीढ़ी का सबसे खतरनाक विमान माना जाता है. इसके अलावा यूरोफाइटर टाइफून, चीन का चेंगदू जे-20 और सुखोई Su-57 (T-50) दुनिया के कुछ सबसे खतरनाक लड़ाकू विमानों में से एक माने जाते हैं. इस लेख में हमने राफेल की टक्कर के खतरनाक विमानों के बारे में बताया है.

आजादी के समय किन रियासतों ने भारत में शामिल होने से मना कर दिया था और क्यों?

Jan 24, 2019
आजादी के दौरान भारत 565 देशी रियासतो में बंटा था. ये देशी रियासतें स्वतंत्र शासन में यकीन रखती थी जो सशक्त भारत के निर्माण में सबसे बडी़ बाधा थी. हैदराबाद, जूनागढ, भोपाल और कश्मीर को छोडक़र 562 रियासतों ने स्वेज्छा से भारतीय परिसंघ में शामिल होने की स्वीकृति दी थी. वर्ष 1947 'भारत' के अन्तर्गत तीन तरह के क्षेत्र थे- (1) 'ब्रिटिश भारत के क्षेत्र' , (2) 'देसी राज्य' (Princely states) और फ्रांस और पुर्तगाल के औपनिवेशिक क्षेत्र.

भारतीय सशस्त्र सेनाओं के समकक्ष रैंक की सूची

Jan 24, 2019
भारतीय सशस्‍त्र सेनाएँ बाहरी और आंतरिक खतरों से राष्ट्र की सुरक्षा की चुनौती से निपटने में निरंतर संलग्न रहती है। भारतीय शस्‍त्र सेनाओं की सर्वोच्‍च कमान भारत के राष्‍ट्रपति के पास है। इस लेख में हमने भारतीय सशस्त्र सेनाओं के समकक्ष रैंक की सूची दिया है जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है।

भारत को सोने की चिड़िया क्यों कहा जाता था?

Jan 24, 2019
प्राचीन काल में भारत को सोने की चिड़िया इस लिए कहा जाता था क्योंकि भारत में अकूत धन सम्पदा मौजूद थी. 1600 ईस्वी के आस-पास भारत की प्रति व्यक्ति जीडीपी 1305 अमेरिकी डॉलर थी जो कि उस समय अमेरिका, जापान, चीन और ब्रिटेन से भी अधिक थी. भारत की यह अकूत संपत्ति ही विदेशी आक्रमणों का कारण भी बनी थी.

वीर चक्र: भारत का तीसरा सबसे बड़ा वीरता पुरस्कार

Jan 18, 2019
स्वतंत्रता के पश्चात, भारत सरकार द्वारा 26 जनवरी, 1950 को तीन वीरता पुरस्कार जिनके नाम हैं; परम वीर चक्र, महावीर चक्र और वीर चक्र प्रारंभ किए थे, जिन्हें 15 अगस्त, 1947 से प्रभावी माना गया था. वीरता के लिए दिया जाने वाला सबसे बड़ा पुरस्कार परमवीर चक्र है जबकि वीर चक्र तीसरा सबसे बड़ा वीरता पुरस्कार है. वीर चक्र की शुरुआत 26 जनवरी 1950 को हुई थी.

भारत vs चीन: 1962 का “रेज़ांग ला” का युद्ध; एक अविश्वसनीय लड़ाई

Jan 18, 2019
रेज़ांग ला (Rezang La) भारत के जम्मू और कश्मीर राज्य के लद्दाख़ क्षेत्र में "चुशूल घाटी" के दक्षिणपूर्व में घाटी में प्रवेश करने वाला एक पहाड़ी दर्रा है. यह 2.7 किमी लम्बा और 1.8 किमी चौड़ा है और इसकी औसत ऊँचाई 16000 फ़ुट है. सन 1962 के भारत-चीन युद्ध में केवल 120 भारतीय सैनिकों ने 1300 चीनी सैनिकों को मारा था.

भारत में वीरता पुरस्कार विजेताओं को कितना मौद्रिक भत्ता मिलता है?

Jan 18, 2019
भारत सरकार द्वारा 26 जनवरी, 1950 को तीन वीरता पुरस्कार शुरू किये गये थे जिनके नाम हैं; परम वीर चक्र, महावीर चक्र और वीर चक्र. वीरता के लिए दिया जाने वाला सबसे बड़ा पुरस्कार परमवीर चक्र है इसके बाद दूसरा सबसे बड़ा पुरस्कार महावीर चक्र है. भारत सरकार इन पुरस्कारों को जीतने वाले सैनिकों या उनके परिवारों को हर महीने कुछ भत्ता देती है. इस लेख में हम आपको यही बता रहे हैं कि किस वीरता पुरस्कार विजेता को कितने रुपये भत्ते के रूप में मिलते हैं.

भारतीय सेंसर बोर्ड किस आधार पर किसी फिल्म को U या A सर्टिफिकेट जारी करता है?

Jan 17, 2019
केन्द्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड या भारतीय सेंसर बोर्ड (1952) भारत में फिल्मों, टीवी धारावाहिकों, टीवी विज्ञापनों और विभिन्न दृश्य सामग्री की समीक्षा का अधिकार रखने वाला निकाय है. अर्थात यह उन सभी कार्यक्रमों को सर्टिफिकेट देता है जिनको जनता के बीच में दिखाया जाता है. व (वयस्क) या A; सर्टिफिकेट उस फिल्म को दिया जाता है जो कि अश्लील होती है और ऐसी फिल्म सिर्फ वयस्क यानि 18 साल या उससे अधिक उम्र वाले व्यक्ति ही देख सकते हैं.

महावीर चक्र: भारत का दूसरा सबसे बड़ा वीरता पुरस्कार

Jan 16, 2019
स्वतंत्रता के पश्चात, भारत सरकार द्वारा 26 जनवरी, 1950 को तीन वीरता पुरस्कार जिनके नाम हैं; परम वीर चक्र, महावीर चक्र और वीर चक्र प्रारंभ किए थे, जिन्हें 15 अगस्त, 1947 से प्रभावी माना गया था. वीरता के लिए दिया जाने वाला सबसे बड़ा पुरस्कार परमवीर चक्र है. इसके बाद दूसरा सबसे बड़ा पुरस्कार महावीर चक्र है. महावीर चक्र की शुरुआत 26 जनवरी 1950 को हुई थी.

मकर संक्रान्ति: इतिहास, अर्थ एवं महत्व

Jan 14, 2019
मकर संक्रान्ति हिन्दुओं का प्रमुख त्योहार है। यह त्योहार भगवान सूर्य को समर्पित है| यह त्योहार जनवरी महीने की 14वीं या 15वीं तिथि को ही मनाया जाता है क्योंकि इसी दिन सूर्य धनु राशि को छोड़ कर मकर राशि में प्रवेश करते हैं। मकर संक्रान्ति के दिन से ही सूर्य की उत्तरायण गति भी प्रारम्भ होती है। इसलिये इस पर्व को उत्तरायणी भी कहा जाता है|

Register to get FREE updates

    All Fields Mandatory
  • (Ex:9123456789)
  • Please Select Your Interest
  • Please specify

  • ajax-loader
  • A verifcation code has been sent to
    your mobile number

    Please enter the verification code below