1. Home
  2.  |  
  3. कला एवं संस्कृति

कला एवं संस्कृति

General Knowledge for Competitive Exams

Read: General Knowledge | General Knowledge Lists | Overview of India | Countries of World

भारत के अलावा 7 ऐसे देश जहाँ होली का त्योहार पूरे उत्साह से मनाया जाता है

2 days ago
होली रंग, आनंद, खुशी और एकता का त्योहार है जिसे वसंत ऋतु में मनाया जाता हैl होली का उत्सव होलीका दहन से शुरू होता है जिसमें लोग होली से एक रात पहले एक साथ इकट्ठा होते हैं, गाते हैं और नृत्य करते हैं। अगली सुबह, लोग रंग और पानी के साथ होली खेलते हैंl होली भारत के सबसे लोकप्रिय त्योहारों में से एक है और यह कहना गलत नहीं होगा कि यह त्योहार कई अन्य देशों में भी उतना ही लोकप्रिय है। इस लेख में हम उन देशों का विवरण दे रहे हैं जहाँ भारत की तरह ही पूरे उत्साह के साथ होली का त्योहार मनाया जाता हैl

बरसाना की लट्ठमार होली: इतिहास और महत्व

2 days ago
दरअसल बरसाना नामक जगह पर राधा जी का जन्म हुआ था और राधा जी को श्रीकृष्णा भगवान की प्रेमिका माना जाता है. ऐसी मान्यता है कि पुराने काल में श्रीकृष्णा होली के समय बरसाना आए थे. यहाँ पर कृष्ण ने राधा और उनकी सहेलियों को छेड़ा था. उसके बाद राधा अपनी सखियों के साथ लाठी लेकर कृष्ण के पीछे दोड़ने लगीं. बस तभी से बरसाने में लठमार होली शुरू हुई थी.

ऑस्कर पुरस्कार विजेताओं की सूची

Mar 5, 2019
ऑस्कर पुरस्कार सिनेमा का सबसे प्रतिष्ठित पुरस्कार है, जिसे फिल्म उद्योग में निर्देशकों, कलाकारों और लेखकों सहित पेशेवरों की उत्कृष्टता को पहचान देने के लिए प्रदान किया जाता है। यह पुरस्कार अमेरिकन अकादमी ऑफ़ मोशन पिक्चर आर्ट्स एंड साइंसेस (AMPAS) द्वारा प्रतिवर्ष आयोजित किया जाता है। इस लेख में हमने अब तक के ऑस्कर पुरस्कार विजेताओं के नाम सूचीबद्ध किया है जो विभिन्न प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे उम्मीदवारों के लिए काफी उपयोगी है।

सियोल शांति पुरस्कार विजेताओं की सूची

Feb 22, 2019
सियोल शांति पुरस्‍कार की शुरूआत 1990 में कोरिया गणराज्‍य में 24वें ओलंपिक खेलों के सफल आयोजन के उपलक्ष्‍य में की गई थी। भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी को अंतर्राष्‍ट्रीय सहयोग और वैश्विक आर्थिक विकास को बढ़ावा देने, आर्थिक विकास को गति देकर भारत में लोगों के जीवन स्‍तर को सुधारने तथा भ्रष्‍टाचार निरोधक उपायों और सामाजिक एकता के प्रयासों के जरिए देश में लोकतंत्र को मजबूत बनाने के लिए 2018 के सियोल शांति पुरस्‍कार से सम्‍मानित किया है। इस लेख में हमने अब तक के सियोल शांति पुरस्कार विजेताओं के नाम सूचीबद्ध किया है जो विभिन्न प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे उम्मीदवारों के लिए काफी उपयोगी है।

नागा साधु और अघोरी बाबा में क्या अंतर होता है?

Feb 14, 2019
अधिकतर कुंभ मेले में नागा साधुओं को देखा जाता है ये साधु कुंभ में बढ़ चढ़कर भाग लेते हैं. देखने में हमें नागा साधु और अघोरी बाबा एक जैसे ही लगते हैं लेकिन वास्तव में ऐसा नहीं होता है. क्या आप नागा साधु और अघोरी बाबा के बीच के मुख्य अंतर को जानते हैं. वे क्या खाते हैं, कहां रहते हैं, उनकी तपस्या कैसी होती है, वे किसकी अराधना करते हैं इत्यादि. आइये इस लेख के माध्यम से अध्ययन करते हैं.

कुंभ मेले का संक्षिप्त इतिहास: कुंभ मेले की शुरुआत किसने और कब की

Feb 13, 2019
कुंभ मेले का अपना ही महत्व है. इसका आयोजन भारत में चार स्थानों पर किया जाता है. दुनिया के विभिन्न हिस्सों से लोग इस मेले में शामिल होते हैं और पवित्र नदी में स्नान करते हैं. हिंदू पौराणिक कथाओं के अनुसार, कुंभ मेला 12 वर्षों के दौरान चार बार मनाया जाता है. इसमें कोई संदेह नहीं है कि, यह मेला दुनिया का सबसे बड़ा धार्मिक और संस्कृति का प्रतीक है. यह मेला 48 दिनों तक चलता है. आइये इस लेख के माध्यम से कुंभ का अर्थ जानते हैं, इसे क्यों मनाया जाता है, इसके पीछे का इतिहास क्या है, किसने कुंभ मेले की शुरुआत की थी, इत्यादि. आइये लेख के माध्यम से अध्ययन करते हैं.

भारतीय शास्त्रीय संगीत के प्रसिद्ध ग्रंथों की सूची

Feb 8, 2019
भारतीय शास्त्रीय संगीत की जड़ों को ईसा से पहले सहस्राब्दी तक खोजा जा सकता है। इसे दो स्कूलों में वर्गीकृत किया गया है- हिंदुस्तानी या उत्तर भारतीय स्कूल और कर्नाटक या दक्षिण भारतीय स्कूल। लेकिन दोनों विद्यालयों का आधार भारत मुनि की नाट्यशास्त्री (भारतीय शास्त्रीय संगीत पर महत्वपूर्ण ग्रंथ) है, जिसे 200 ईसा पूर्व- 400 ईस्वी के बीच संकलित किया गया था। इस लेख में हमने भारतीय शास्त्रीय संगीत के प्रसिद्ध ग्रंथों को सूचीबद्ध किया है जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है।

अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सवों की सूची

Feb 6, 2019
फिल्म महोत्सव एक ऐसा महोत्सव है जिसमे संगठित रूप से किसी भी फिल्म या सिनेमा का विस्तारित प्रस्तुति की जाती है। कई प्रतिष्ठित फिल्म महोत्सव वैश्विक स्तर पर आयोजित किए जाते हैं जो न केवल सार्थक फिल्मों को बढ़ावा देने के लिए बल्कि सिनेमा प्रेमियों को विभिन्न राष्ट्रीयताओं की फिल्मों को देखने का मौका भी देते हैं। इस लेख में हमने, अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सवों की सूची दिया है, जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है।

पटना कलम शैली- उत्पत्ति और विशेषताएं

Jan 31, 2019
मुगल के आगमन के बाद भारतीय चित्रशैली को नया आयाम मिला और उनकी शैली ने चित्रकला के कई ऐसे भारतीय विद्यालयों को प्रभावित किया जिनकी उत्पत्ति बाद में हुई थी। पटना कलम शैली या पटना स्कूल ऑफ पेंटिंग उन स्कूलों में से एक था, जो बिहार में 18 वीं से 20 वीं शताब्दी के शुरुआती दिनों में मुगल चित्रकला का एक आदर्श था। इस लेख में हमने पटना कलम शैली की उत्पत्ति और उसकी विशेषताओं पर चर्चा की है जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है।

गणतंत्र दिवसः भारतीय गणतंत्र की यात्रा

Jan 25, 2019
भारत 15 अगस्त 1947 को ब्रिटिश शासन से स्वतंत्र हुआ था और तब हमारे देश के पास संविधान नहीं था | 26 जनवरी 1950 को संविधान को अंगीकार किया गया था और उस दिन के बाद से प्रत्येक वर्ष पूरे देश में 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के रूप में बहुत गर्व और खुशी के साथ मनाया जाता है। यह लेख भारतीय गणतंत्र दिवस के इतिहास, उत्पत्ति और पृष्ठभूमि से संबंधित है।

पोंगल महोत्सव क्यों मनाया जाता है?

Jan 14, 2019
भारत एक विविधतापूर्ण देश है। इसके विभिन्न भागों में भौगोलिक अवस्थाओं, निवासियों और उनकी संस्कृतियों में काफी अन्तर है। कुछ प्रदेश अफ्रीकी रेगिस्तानों जैसे तप्त और शुष्क हैं, तो कुछ ध्रुव प्रदेश की भांति ठण्डे है। भारत की त्योहारों पर नजर डालें तो ज्यादातर त्योहारों फसल कटाई के बाद ही पड़ते हैं। इस लेख में हमने पोंगल के बारे में बताया है तथा साथ ही साथ में इसके पौराणिक कथा और इतिहास पर भी चर्चा की है।

मकर संक्रान्ति: इतिहास, अर्थ एवं महत्व

Jan 14, 2019
मकर संक्रान्ति हिन्दुओं का प्रमुख त्योहार है। यह त्योहार भगवान सूर्य को समर्पित है| यह त्योहार जनवरी महीने की 14वीं या 15वीं तिथि को ही मनाया जाता है क्योंकि इसी दिन सूर्य धनु राशि को छोड़ कर मकर राशि में प्रवेश करते हैं। मकर संक्रान्ति के दिन से ही सूर्य की उत्तरायण गति भी प्रारम्भ होती है। इसलिये इस पर्व को उत्तरायणी भी कहा जाता है|

जाने विश्व की 10 सबसे ऊंची मूर्तियों के बारे में

Dec 27, 2018
कला और संस्कृति के सन्दर्भ में किसी भी प्रकार के रूप, प्रतिमा (idol) या ठोस वस्तु को मूर्ति कहते हैं, उदाहरण के लिए देवताओं और मनुष्यों की मूर्ति। आज के युग में, मूर्ति या स्टेचू को बनाना एक एतिहासिक घटना या फिर यू कहे कि एक प्रभावशाली व्यक्ति के जीवन पर रौशनी और उनके द्वारा किए गए कार्यों के महत्व को दर्शाने के लिए बनाया जाता है। इस लेख में हमने, विश्व की 10 सबसे ऊंची मूर्तियों के नाम, उनकी ऊँचाई, वे कहा स्थित हैं तथा वे किसको समर्पित हैं जैसे तथ्यों को सूचीबद्ध किया है।

छठ पूजा: इतिहास, उत्पत्ति और संस्कार के सम्बंध में 10 अद्भुत तथ्य

Nov 12, 2018
भारत उपवासों और त्यौहारों का देश है। इसके अलावा यह एकमात्र ऐसा देश है जहाँ आज भी प्राचीन परम्पराएं और संस्कृति मौजूद है। भारत में त्यौहार और प्रकृति का गहरा नाता है। छठ पूजा एक ऐसा त्यौहार है जो दिवाली के एक सप्ताह बाद नदियों के किनारे मनाया जाता है। यह पूजा सूरज देवता को समर्पित है जिस कारण इसे ‘सूर्यषष्ठी’ भी कहते है।

हस्तशिल्प से संबंधित संस्थानों और संगठनों की सूची

Oct 22, 2018
हस्तकला एक ऐसी विद्या है जिसे मुख्यत: हाथ से या सरल औजारों की सहायता से ही कलात्मक कार्य किये जाते हैं। भारत हस्तशिल्प का सर्वोत्कृष्ट केन्द्र माना जाता है। यहाँ दैनिक जीवन की सामान्य वस्तुएँ भी कोमल कलात्मक रूप में गढ़ी जाती हैं। इस लेख में हमने, हस्तशिल्प से संबंधित भारतीय संस्थानों और संगठनों के नामों को सूचीबद्ध किया है जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है।

भारतीय दर्शनशास्त्र के विधर्मिक स्कूलों की सूची

Oct 18, 2018
दर्शन का शाब्दिक अर्थ होता है यथार्थ की परख के लिये एक दृष्टिकोण। प्राचीन भारतीय साहित्य में दर्शन की लंबी परम्परा रही है। कई दार्शनिक जीवन और मृत्यु के रहस्यों तथा इन दोनों शक्तियों के परे स्थित सम्भावनाओं का पता लगाने में रत रहे हैं। इस लेख में, हमने भारतीय दर्शनशास्त्र के विधर्मिक स्कूलों को सूचीबद्ध किया है, जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है।

योग विचारधारा: प्राचीन भारतीय साहित्य दर्शन

Oct 17, 2018
दो मुख्य सत्ताओं का समन्वय ही योग विचारधारा का शाब्दिक अर्थ है और योग शब्द की उत्पत्ति संस्कृत मूल यूजा (YUJA) जिसका अर्थ है एक-दुसरे को जोड़ना या एकजुट करना, से हुई है | मानव यौगिक तकनीकों के शारीरिक प्रयोग तथा ध्यान का प्रयोग कर मुक्ति को प्राप्त कर सकता है और इस तरह पुरुष प्रकृति से पृथक हो जाता है | इस लेख में योग और उसकी विचारधाराओं के बारे में अध्ययन करेंगे |

क्या आप जानते हैं हिंदुस्तानी संगीत और कर्नाटक संगीत में क्या अंतर हैं?

Oct 10, 2018
सुव्यवस्थित ध्वनि, जो रस की सृष्टि करे, संगीत कहलाती है। गायन, वादन व नृत्य ये तीनों ही संगीत हैं।हाल में, पॉप, जैज आदि जैसे संगीत के नये रूपों के साथ शास्त्रीय विराशत का फ्यूज़न करने की ओर रुझान बढ़ा रहा है और लोगो का ध्यान भी आकर्षित कर रहा है। भारतीय शास्त्रीय संगीत को दो प्रकार से बाटा गया है- हिंदुस्तानी शैली और कर्नाटक शैली। इस लेख में हमने, हिंदुस्तान संगीत और कर्नाटक संगीत के बारे में बताया है, जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है।

भारत के प्रसिद्ध बौद्ध मठों की सूची

Sep 20, 2018
बौद्ध मठ का अर्थ ऐसे संस्थानों से है जहाँ बौद्ध धर्म के गुरु अपने शिष्यों को शिक्षा, उपदेश इत्यादि प्रदान करते हैं। विश्व में बौद्ध धर्म के बहुत से तीर्थ स्थल हैं। इनमें से कुछ प्रमुख इस प्रकार से हैं:- विहार, पगोडा, स्तूप, चैत्य, गुफा, बुद्ध मुर्ती एवं अन्य। इस लेख में हमने भारत की प्रसिद्ध बौद्ध मठों को सूचीबद्ध किया है जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है।

जानें भारतीय मंदिरों के कौन-कौन से अंग होते हैं

Sep 20, 2018
भारतीय स्थापत्य में भारतीय मंदिरों के वास्तुकला का विशेष स्थान है। यदि आप प्राचीनकाल के मंदिरों की रचना देखेंगे तो जानेंगे कि सभी कुछ-कुछ पिरामिडनुमा आकार के होते थे। भारत के स्थापत्य की जड़ें यहाँ के इतिहास, दर्शन एवं संस्कृति में निहित हैं और यहाँ की परम्परागत एवं बाहरी प्रभावों का मिश्रण है। इस लेख में हमने शिल्पशास्त्र के अनुसार भारतीय मंदिरों के प्रमुख अंगो की सूची दिया है, जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है।

1234 Next   

Register to get FREE updates

    All Fields Mandatory
  • (Ex:9123456789)
  • Please Select Your Interest
  • Please specify

  • ajax-loader
  • A verifcation code has been sent to
    your mobile number

    Please enter the verification code below