1. Home
  2.  |  
  3. GENERAL KNOWLEDGE
  4.  |  
  5. सामान्य ज्ञान तथ्य
  6.  |  
  7. आर्थिक तथ्य

आर्थिक तथ्य

General Knowledge for Competitive Exams

Read: General Knowledge | General Knowledge Lists | Overview of India | Countries of World

मानव इतिहास के 10 सबसे नायाब और मूल्यवान सिक्के

14 hrs ago
आज डिजिटल करेंसी और प्लास्टिक मनी का दौर है लेकिन सभ्यता के विकास की शुरुआत में मानव ने वस्तु विनिमय से आपसी लेन देन की शुरुआत की फिर सिक्कों को बनाया था. कई राजाओं ने अपने राज्य की मुद्रा का निर्माण सिक्कों के रूप में किया था. आज विश्व के बहुत से देशों में कुछ प्राचीन सिक्के हैं जो चलन में बंद हो चुके हैं लेकिन इनकी मिन्टिंग बंद हो जाने और बहुत अधिक प्राचीन हो जाने के कारण इन सिक्कों में मार्किट वैल्यू बहुत अधिक हो गयी है. आइये इस लेख में इन्हीं सिक्कों के बारे में जानते हैं.

घाटे की वित्त व्यवस्था क्या होती है और इसके क्या उद्येश्य होते हैं?

Oct 4, 2019
जब कभी सरकार की आय उसके द्वारा उसके द्वारा किये जाने वाले व्ययों से कम हो जाती है तो बजट में इस प्रकार के घाटे को पूरा करने के लिए जो व्यवस्था अपनाई जाती है उसे घाटे की वित्त व्यवस्था या हीनार्थ प्रबंधन कहते है. घाटे की वित्त व्यवस्था को तीन प्रकार से पूरा किया जाता है. नए नोट छापकर, विदेशी ऋण लेकर और आंतरिक ऋण लेकर.

Monetary Policy Committee (MPC): संरचना और उद्देश्य

Oct 4, 2019
RBI; मौद्रिक नीति समिति ने 4 अक्टूबर, 2019 को रेपो दर में 25 बेसिस पॉइंट की कटौती कर इसे 5.15% कर दिया है. अब रेपो दर 5.15% है, जो मार्च 2010 के बाद सबसे कम है. केंद्र सरकार द्वारा संशोधित RBI अधिनियम, 1934 की धारा 45ZB के अनुसार 6 सदस्यीय मौद्रिक नीति समिति (MPC) का गठन किया गया है. मौद्रिक नीति समिति की पहली बैठक 3 अक्टूबर, 2016 को आयोजित की गई थी. यह समिति विभिन्न नीतिगत निर्णय लेती है जैसे रेपो रेट, रिवर्स रेपो रेट, एमएसएफ और लिक्विडिटी एडजस्टमेंट फैसिलिटी आदि से सम्बंधित होते हैं.

जानिये भारत के अब तक के सबसे अमीर आदमी ‘उस्मान अली खान’ के बारे में

Oct 3, 2019
हैदराबाद के पूर्व निजाम उस्मान अली खान को भारत ही नहीं बल्कि दुनिया के सबसे धनी व्यक्तियों में गिना जाता है. ब्रिटिश न्यूजपेपर ‘द इंडिपेंडेन्ट’ की एक खबर के अनुसार हैदराबाद के निजाम (1886-1967) की कुल संपत्ति 236 अरब डॉलर आंकी गई थी. आइये इस लेख में मेरे उस्मान अली खान के बारे में कुछ रोचक तथ्यों को जानते हैं.

किन देशों में भारतीय करेंसी मान्य है और क्यों?

Sep 24, 2019
क्या आप जानते हैं कि दुनिया का 85% व्यापार अमेरिकी डॉलर की मदद से होता है? दुनिया भर के 39% क़र्ज़ अमेरिकी डॉलर में दिए जाते हैं और कुल डॉलर की संख्या के 65% का इस्तेमाल अमेरिकी के बाहर होता है. इसलिए विदेशी बैंकों और देशों को अंतरराष्ट्रीय व्यापार में डॉलर की ज़रूरत होती है. यही कारण है कि डॉलर को 'अंतरराष्ट्रीय व्यापार करेंसी' कहा जाता है.

OPEC क्या है और यह अंतरराष्ट्रीय बाजार में तेल की कीमतों को कैसे प्रभावित करता है?

Sep 20, 2019
OPEC की स्थापना 10-14 सितम्बर, 1960 को ईरान, इराक, कुवैत, सऊदी अरब और वेनेज़ुएला द्वारा बगदाद सम्मेलन में की गयी थी. यह पेट्रोलियम निर्यात करने वाले देशों का एक स्थायी अंतर सरकारी संगठन है. सितंबर, 2019 में विश्व के कुल कच्चे तेल उत्पादन में ओपेक सदस्य देशों का हिस्सा 33.1% था. ओपेक के कुल उत्पादन 32,761 मिलियन बैरल प्रतिदिन में सऊदी अरब लगभग 32% योगदान देता है. वर्तमान में ओपेक के कुल 14 सदस्य देश हैं.

भारतीय रिज़र्व बैंक सोना क्यों खरीदता है?

Sep 19, 2019
वित्त वर्ष 2017-18 की जून तिमाही में RBI ने 8.46 मीट्रिक टन सोना खरीदा है. इससे पहले RBI ने नवंबर 2009 में अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) से 200 मीट्रिक टन सोना खरीदा था. रिजर्व बैंक की वार्षिक रिपोर्ट के अनुसार, अब उसके सोने का भंडार 566.23 मीट्रिक टन पहुंच गया है. इस लेख में बताया गया है कि RBI ने इस सोने की खरीद क्यों की है.

बिटकॉइन (Bitcoin) मुद्रा क्या है और कैसे काम करती है?

Sep 11, 2019
वर्तमान समय में सबसे ज्यादा चर्चा में रहने वाली मुद्रा बिट कॉइन (Bitcoin) है. बिटकॉइन डिजिटल मुद्रा का एक रूप है सरल शब्दों में, यह एक गणितीय संरचना है जो एल्गोरिदम पर चलता है. इसे किसने विकसित किया था इसके बारे में कोई भी ठोस सबूत नही है लेकिन छदम रूप से इसके संस्थापक का नाम ‘सोतशी नाकामोतो’ माना जाता हैl जिस तरह रुपए, डॉलर और यूरो खरीदे जाते हैं, उसी तरह बिटकॉइन की भी खरीद होती है। ऑनलाइन भुगतान के अलावा इसको पारम्परिक मुद्राओं में भी बदला जाता है.

क्या आप भारत के सभी वेतन आयोगों का इतिहास जानते हैं?

Aug 3, 2019
भारत में अब तक 7 वेतन आयोगों का गठन किया गया है. भारत में पहले वेतन आयोग का गठन जनवरी, 1946 में श्रीनिवास वरादाचरियर की अध्यक्षता में स्थापित किया गया था. देश में वेतन आयोग का गठन हर 10 साल के अन्तराल पर सरकारी कर्मचारियों के वेतन में वृद्धि के लिए किया जाता है.

भारत सरकार और आरबीआई के बीच रिज़र्व फण्ड ट्रान्सफर विवाद क्या है?

Aug 1, 2019
अगस्त 2019 में भारतीय रिज़र्व बैंक ने मोदी सरकार को 24.8 अरब डॉलर यानी लगभग 1.76 लाख करोड़ रुपए लाभांश और सरप्लस पूंजी के तौर पर देने का फ़ैसला किया है. उम्मीद की जा रही है कि सरकार इस रूपये को वित्तीय संस्थाओं को सौंप सकती है जो कि वित्तीय कमी से गुजर रहे हैं. हालाँकि विपक्ष रिज़र्व बैंक के इस कदम की आलोचना कर रहा है.

भारत में सिक्कों का आकार क्यों घटता जा रहा है?

Jul 8, 2019
देश में करेंसी नोटों को छापने के कार्य रिज़र्व बैंक के द्वारा किया जाता है जबकि सिक्कों को बनाने का काम वित्त मंत्रालय के द्वारा किया जाता है. भारत सरकार कोशिश करती है कि किसी भी सिक्के की मेटलिक वैल्यू उसकी फेस वैल्यू से कम ही रहे क्योंकि यदि ऐसा नही होगा तो लोग सिक्के को पिघलाकर उसकी धातु को बाजार में बेच देंगे जिसके कारण भारत के बाजर से सिक्के गायब हो जायेंगे. सिक्कों की मेटलिक वैल्यू घटाने के लिए सरकार उनका आकार छोटा कर रही है.

सिक्का अधिनियम 2011: भारत में सिक्कों के साथ क्या नहीं कर सकते

Jul 2, 2019
भारतीय रिज़र्व बैंक; भारतीय रिज़र्व बैंक अधिनियम, 1934 के प्रावधानों के अनुसार मुद्रा नोट्स प्रिंट करता है, जबकि भारत में सिक्के, सिक्का अधिनियम, 2011 के अनुसार बनाये जाते हैं. सिक्का अधिनियम, 2011 जम्मू-कश्मीर सहित पूरे भारत में लागू है. इस लेख के माध्यम से यह बताने का प्रयास किया गया है कि भारत में सिक्कों के इस्तेमाल को लेकर क्या क्या नियम बनाये गए हैं.

करेंसी स्वैप किसे कहते हैं और इससे अर्थव्यवस्था को क्या फायदे होंगे?

Jul 1, 2019
करेंसी स्वैप का शाब्दिक अर्थ होता है "मुद्रा की अदला बदली". जब दो देश/ कम्पनियाँ या दो व्यक्ति अपनी वित्तीय जरूरतों को बिना किसी वित्तीय नुकसान के पूरा करने के लिए आपस में अपने देशों की मुद्रा की अदला बदली करने का समझौता करते हैं तो कहा जाता है कि इन देशों में आपस में करेंसी स्वैप का समझौता किया है.

अमेरिका की जीएसपी स्कीम क्या है और इससे हटाने पर भारत को क्या नुकसान होगा?

Jun 24, 2019
जेनरलाइज्ड सिस्टम ऑफ प्रिफ्रेंसेज (GSP) एक अमेरिकी व्यापार कार्यक्रम है. जेनरलाइज्ड सिस्टम ऑफ प्रिफ्रेंसेज की स्थापना 1974 के व्यापार अधिनियम द्वारा 1 जनवरी, 1976 को हुई थी. GSP स्कीम के तहत अमेरिका विकाससील और अन्य देशों के उत्पादों को अमेरिका में ड्यूटी फ्री एंट्री प्रदान करता है. अर्थात अमेरिका तरजीह वाले देशों से एक तय राशि के आयात पर शुल्क नहीं लेता है. भारत ने GSP का सबसे अधिक लाभ उठाया है.

पेटीएम क्रेडिट कार्ड: मुख्य विशेषताएं और फायदे

May 20, 2019
पेटीएम का पूर्ण फॉर्म "Pay through Mobile" है. पेटीएम ऑनलाइन शॉपिंग, बिलों का भुगतान, मनी ट्रांसफर आदि की सुविधा प्रदान करता है. हाल ही में पेटीएम ने अपना बहुप्रतीक्षित क्रेडिट कार्ड लॉन्च किया है जिसे “पेटीएम फर्स्ट कार्ड” भी कहा जाता है. आइये इस लेख में पेटीएम क्रेडिट कार्ड की प्रमुख विशेषताओं और लाभों को जानते हैं.

7वें पे कमीशन में एक्राय्ड फॉर्मूला क्या है?

May 16, 2019
भारत में पहले वेतन आयोग का गठन जनवरी, 1946 में श्रीनिवास वरादाचरियर की अध्यक्षता में स्थापित किया गया था. भारत में अब तक 7 पे कमीशन बनाये जा चुके हैं और इसकी सिफारिसों को 1 जनवरी 2016 से लागू किया गया है. इस पे कमीशन द्वारा केंद्रीय कर्मचारियों की सैलरी बढ़ाने के लिए एक्राय्ड फॉर्मूले का इस्तेमाल किया गया है. यह एक्राय्ड फॉर्मूले क्या है और इसके क्या प्रभाव होंगे? आइये इस लेख के माध्यम से जानते हैं?

भारत में सबसे ज्यादा कमाई वाली नौकरियां कौन सी हैं?

May 16, 2019
अच्छी और आरामदायक नौकरी सभी को पसंद होती है लेकिन किस नौकरी में सबसे ज्यादा सैलरी मिलती है और इसके लिए कौन सी पढाई करनी पड़ती है इस प्रकार के सवालों के जवाब बहुत ही कम लोगों को पता होते है. इसलिए हमने इस लेख में इन प्रश्नों के उत्तर देने के साथ साथ 10 सबसे अधिक सैलरी देने वाली नौकरियों के बारे में भी बताया है.

जानें अकबर के शासन के दौरान अमेरिकियों की तुलना में भारतीय कितने अमीर थे?

May 13, 2019
सन 1600 ईस्वी के आस पास भारत में अकबर का शासन था और इसी साल अंग्रेजों ने भारत में ईस्ट इंडिया कंपनी की स्थापना की थी. ग्रोनिंगेन विश्वविद्यालय, नीदरलैंड की एक रिपोर्ट के मुताबिक जब भारत में अकबर का शासन था उस समय भारत की प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद आज के ज़माने में विकसित देश कहे जाने वाले फ़्रांस, जर्मनी, अमेरिका और जापान से भी अधिक थी.

हीरा कैसे बनता है और असली हीरे को कैसे पहचानें?

May 10, 2019
हीरा एक पारदर्शी रत्न होता है। यह रासायनिक रूप से कार्बन का शुद्धतम रूप है इसमें बिल्कुल मिलावट नहीं होती है, यदि हीरे को ओवन में 763 डिग्री सेल्सियस पर गरम किया जाये, तो यह जलकर कार्बन डाइ-आक्साइड बना लेता है तथा बिलकुल भी राख नहीं बचती है, इस प्रकार हीरे 100% कार्बन से बनते हैं।

कॉर्पोरेट सोशल रेस्पोंसिबिलिटी किसे कहते हैं और भारत में इस पर कितना खर्च होता है?

May 6, 2019
कॉर्पोरेट सोशल रेस्पोंसिबिलिटी का सीधा मतलब कंपनियों को उनकी सामाजिक जिम्मेदारी के बारे में बताना है. भारत में कॉर्पोरेट सोशल रेस्पोंसिबिलिटी (CSR) के नियम अप्रैल 1, 2014 से लागू हैं. इसके अनुसार, जिन कम्पनियाँ की सालाना नेटवर्थ 500 करोड़ रुपये या सालाना आय 1000 करोड़ की या सालाना लाभ 5 करोड़ का हो तो उनको CSR पर खर्च करना जरूरी होता है. यह खर्च तीन साल के औसत लाभ का कम से कम 2% होना चाहिए.

Register to get FREE updates

    All Fields Mandatory
  • (Ex:9123456789)
  • Please Select Your Interest
  • Please specify

  • ajax-loader
  • A verifcation code has been sent to
    your mobile number

    Please enter the verification code below

Loading...