Search

अरब मुद्रा कोष (एएमएफ़) क्षेत्रीय अरब संगठन

अरब मुद्रा कोष एक क्षेत्रीय अरब संगठन जो 1976 में स्थापित किया गया था, लेकिन इसका संचालन 1977 में हुआ| इसका मुख्यालय संयुक्त अरब अमीरात की राजधानी अबू धाबी शहर में हैं। एएमएफ़ के प्रमुख अंग बोर्ड ऑफ गवर्नर्स, कार्यकारी निदेशक मंडल और महानिदेशक हैं। बोर्ड ऑफ गवर्नर्स में (महासभा) प्रत्येक सदस्य राज्य को एक गवर्नर और एक डिप्टी गवर्नर के द्वारा प्रतिनिधित्व किया जाता है।
Jul 20, 2016 12:52 IST
facebook Iconfacebook Iconfacebook Icon

अरब मुद्रा कोष एक क्षेत्रीय अरब संगठन जो 1976 में स्थापित किया गया था, लेकिन इसका संचालन 1977 में हुआ| इसका मुख्यालय संयुक्त अरब अमीरात की राजधानी अबू धाबी शहर में हैं।

Jagranjosh

एएमएफ़ के प्रमुख अंग बोर्ड ऑफ गवर्नर्स, कार्यकारी निदेशक मंडल और महानिदेशक हैं। बोर्ड ऑफ गवर्नर्स में (महासभा) प्रत्येक सदस्य राज्य को एक गवर्नर और एक डिप्टी गवर्नर के द्वारा प्रतिनिधित्व किया जाता है। कार्यकारी निदेशक मंडल, आठ निदेशकों की रचना से अक्षय तीन साल की अवधि के लिए होते हैं , जो एक महानिदेशक की अध्यक्षता में होती है, जो एक अक्षय पांच साल के कार्यकाल के लिए बोर्ड के लिए नियुक्त किया जाता है और यह भी एएमएफ़ के प्रबंध निदेशक का पद सम्भालता है। ये संगठन के विभिन्न कार्यालयों (आइए), विभागों, समितियों, और प्रभागों के माध्यम से अपने काम को वितरित करता है।

अरब मुद्रा कोष के संगठनात्मक संरचना (एएमएफ़)

एएमएफ़ के संगठनात्मक ढांचे की रचना बोर्ड ऑफ गवर्नर्स (महासभा), और बोर्ड के महानिदेशक, निदेशक मंडल के अध्यक्ष जनरल की अध्यक्षता में हुई|

शासक मंडल: यह प्रत्येक अरब देशों को राज्यपाल के द्वारा और वैकल्पिक राज्यपाल द्वारा प्रत्येक सदस्य राज्य का प्रतिनिधित्व करता है| यह बैठकों और मतदान शासन के तहत नियमों और प्रक्रियाओं का पालन करते हुए सालाना सम्मेलन का आयोजन करते हैं| बोर्ड ऑफ गवर्नर्स सालाना रोटेशन पर अध्यक्ष के रूप में एक गवर्नर का चुनाव करता है।

कार्यकारी निदेशक मंडल: इसका गठन अध्यक्ष के रूप में महानिदेशक और बोर्ड ऑफ गवर्नर्स द्वारा निर्वाचित सदस्य देशों के नागरिकों में से सिद्ध अनुभव और विशेषज्ञता के साथ तीन साल के कार्यकाल के लिए आठ सदस्यों का निर्वाचन करता है

ऑडिट और जोखिम समिति: ये समिति निदेशक मंडल के तहत थी और उनको सूचित करती थी| इस समिति के जनादेश अपनी पर्यवेक्षी समारोह में बोर्ड की सहायता के लिए है। यह तीन सदस्यों को जो फंड के कार्यकारी प्रबंधन से सम्बंधित नहीं हैं और जो प्रत्येक सत्र की शुरुआत में कार्यकारी निदेशक मंडल द्वारा चुना जाता है से बना है।

कार्यकारी निदेशक मंडल: यह सामूहिक रूप से कोर नीतियों और रणनीतिक कार्य योजनाओं और कार्यक्रमों के विकास पर निरीक्षण, प्रदर्शन और प्रबंधन की जवाबदेही और बोर्ड ऑफ गवर्नर्स के लिए रिपोर्टिंग के लिए है।

अरब मुद्रा कोष के शासन संरचना (एएमएफ) फण्ड द्वारा एक निर्णय लेने से पहले इसकी पर्यवेक्षी भर में भूमिकाओं और जिम्मेदारियों को परिभाषित करने के लिए, निरीक्षण और कार्यकारी निकायों, उनके एकीकरण, बातचीत, क्षैतिज संचार, विचार साझा, ज्ञान के दायरे को व्यापक बनाने और अंतर्दृष्टि की ओर दर्शाता है|