Search

ऋग्वैदिक कालीन देवी एवं देवताओं की सूची

वैदिक लोग प्राकृतिक शक्तियों को साकार रूप में मानते थे और उन्हें “मनुष्य” और “पशु” का सृजन कर्ता के रूप में देखते थे| यहाँ हम ऋग्वैदिक कालीन देवी एवं देवताओं की सूची दे रहे हैं जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है|
Nov 11, 2016 17:11 IST
facebook Iconfacebook Iconfacebook Icon

वैदिक लोग प्राकृतिक शक्तियों को साकार रूप में मानते थे और उन्हें “मनुष्य” और “पशु” का सृजन कर्ता के रूप में देखते थे| विभिन्न स्रोतों से पता चलता है कि उस समय ना तो “मन्दिर” होते थे और ना ही “मूर्तियां” होती थी| यहाँ हम ऋग्वैदिक कालीन देवी एवं देवताओं की सूची दे रहे हैं जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है|

Jagranjosh

Source: www.templepurohit.com

ऋग्वैदिक कालीन देवी एवं देवताओं की सूची

नाम

विभिन्न क्षेत्रों से जुड़ाव

वायु

हवा के देवता

द्द्यौ

आकाश के देवता

मरूत

तूफान के देवता

गंधर्व

देवताओं के संगीतकार

अश्वनि

देवताओं के चिकित्सक और शल्य चिकित्सा के विशेषज्ञ

रिभ

बौने देवता

अप्सरा

देवताओं की प्रेमिकाएं

रूद्र

एक धनुष-वाण धारी देवता, जिनके क्रोध से रोग फैलता था|

उषा

भोर की देवी

अदिति

देवताओं की माता

पृथ्वी

भूमि की देवी

अरण्यानी

वन देवी

सरस्वती

नदी की देवी

हालांकि, प्रारंभिक वैदिक धर्म प्राकृतिक था और उस समय आध्यात्मिक उत्थान के बजाय प्रजा(बच्चे), पशु और धन के लिए बलि देने की प्रथा थी |

छठी शताब्दी ई.पू. के प्रमुख भारतीय गणराज्यों की सूची